जीतमणि पैन्यूली संयोजक टिहरी बांध प्रभावित संघर्ष समिति मांग मनवाने के लिए सेममुखेम मंदिर में प्रार्थना करेंगे

Pahado Ki Goonj

टिहरी, पहाडोंकीगूँज,जीतमणि पैन्यूली संयोजक टिहरी बांध प्रभावित संघर्ष समिति सेममुखेम मंदिर के दर्शन करने के लिएएवं श्रीमान पुष्कर सिंह धामी मुख्यमंत्री जी के गर्मजोशी से स्वागत सत्कार के लिए 8 बजे लिखवार गावँ से प्रस्थान करेंगे
9.45 पर श्री सेममुखेम नागराजा सेवा समिति में श्रीमद्भागवत ज्ञान यज्ञ में भाग लेकर 10 बजे सेम नागराजा भगवान से प्रार्थना करेंगे कि प्रतापनगर के नागरिकों ने 26जनवरी2006 से फरवरी के प्रथम सप्ताह तक चिलाले रहे10 लाख रुपये प्रतिपूर्ति दिया जाय।

2006 में देहरादून आंदोलन किया गया।

मनुष्य मनन करने के बाद बोलता है उसे क्रियान्वयन करने के लिए धरना प्रदर्शन कर अपनी बात को मनवाने के लिए जनता को सड़कों पर उतरता है।तभी वह मनुष्य है आन्दोकारी जनता की उर्जा का सदुपयोग करना चाहिए। यह ऊर्जा अक्टूबर2005 प्रदेश कांग्रेस कार्यलय के धरना प्रदर्शन से लेकर लम्बगांव 2006 ,देहरादून के आंदोलन के ठहराव से सामजिक कार्यकर्ताओं को समाज मे अपने कहे हुए मागों को मनवाने के लिए असमर्थता व्यक्त करते हुए एक प्रकार से प्रतापनगर चुनाव में विधायक बनाने के बाद भी नेतृत्व बिहीन चल रहा है ।

उत्तराखंड की मातृशक्ति का भूूू-कानून के लिए 37 दिन कर्मिक अनशन पूर्ण होगया है । सरकार का संज्ञान नही लेने से लगता है कि राज्यान्दोलनकारी मातृशक्ति का अपमान है।जनता का कहना है कि सरकार इसके समर्थन में करोड़ों रुपये के विज्ञापन पर खर्चा कर जगह जगह अपने और प्रधानमंत्री  की फोटो लगा कर धन की बर्बादी कर रही है।अच्छा होता कि सरकार जनभागीदारी करते हुए इसके लिए मंत्री परिषद में पास कर कानूनी तौरपर जमीनी हकीकत जनता को बताते। सरकार को सद्बुद्धि देने के लिए भगवान सेमनागराजा से प्रार्थना करने जारहे हैं और इसके लिए रात्रि जागरण करने का प्रयास किया है। जय सेमनागराजा

जो अपनी मांगों को सरकार से नहीं मनवाने में असफल रहे हैं।

आपको अबगत  करना चाहता हूँ कि बड़े भाई फूल सिंह को 1982 में प्रमुख बनाने के लिए मैंने अपने को एक वोट पड़ने के बाद अपने वोटरों से उनको प्रमुख बनाने में अभूतपूर्व सहयोग प्रतापनगर के विकास के लिए किया है।तभी प्रतापनगर का विकास सम्भव हुआ वर्ष1985 में टिहरी बांध निर्माण में भारी मात्रा में बिस्फोटक प्रयोग करने से सूखे पड़ने पर कार्यवाही करने के लिए सरकार को लिखा जिसके फल स्वरूप वर्ष 1987 में भयंकर सूखे पड़ने  जनता ने अपने गहने पशुओं को बेच कर जीवन यापन करने को मजबूर किया ।उस त्रासदी को देखते हुए  प्रतापनगर को 40 kg गेहूँ/परिवार दिलाने का का काम करते रहे । प्रतापनगर तहसील,2 डिग्री कालेज 2पम्पिंग योजनाओं को बनाने ,आपको फिकवाल के आरक्षण दिलाने के लिए गंगोत्री से दिल्ली तक सद्भावना पद यात्रा करते हुए 4 सदभावना यात्रा में कु0 मकानी नेगी अब प्रसाशनिक अधिकारी जिला सैनिक बोर्ड देहरादून तब स्वामी राम तीर्थ pg कालेज की छात्रा को समस्या समझने के लिए कहते हुए 9 दिन की भूख हड़ताल करने से विकास हुआ। इसका चिंतन मनन मनुष्य होकर हमे करना चाहिए।10 सितम्बर2011 को जे ई लोगों की बेरोजगारी दूर करने के लिए उनकी पीड़ा को देखते हुए आयोग की अयोग्यता पर सवाल खड़े कर प्रकाशित करने के बाद 14 सितम्बर2011 को उन 700 लोगों को नियुक्ति पत्र दिये जाने लगे उन्होंने पत्र को लाखों लाख रुपये कमा कर दान करने की जहमत नहीं उठा कर मानवीय संवेदना को शर्मसार करने का ग्रिनित कार्य कर अपने स्वार्थ पूर्ण करने का काम किया है।

श्रीबद्रीनाथ धाम में यात्रियों की सुभिदा बढ़ाने के लिए कार्य कर उसका देश मे अच्छा सन्देश जाने पर तीर्थयात्रा में अभूतपूर्व बढ़ोतरी  से उत्तराखंड में रोजगार में बढ़ोतरी हुई है।पत्रकार साथियों के लिए न्यूज पोर्टल वेव चैनल  को बढ़वाने के लिए अभूतपूर्व कार्य कर 4000 लोगों को रोजगार गारंटी योजना देकर निशुल्क जन जन तक समाचार भेजने का कार्य किया।

 

2008 जून में मुख्यमंत्री के प्रतापनगर आने पर कोई घोषणा नहीं कर जनता को निराश किया तब जुलाई 2008 से मेरे संयोजकत्व आंदोलन चवाड बैंड पर2009 में विधानसभा देहरादून चलाया गया जिसके फल स्वरूप125 हजार की जगह 5लाख रुपये देने पर thdc से सरकार ने समझौता किया परन्तु उसको बाद प्रतापनगर के बन गए व बनने वाले बुद्धिजीवियों,नेताओं में इसे लागूकरने के लिए इच्छा शक्ति का अभाव होता दिखाई दे रहा है।
मैं जीतमणि पैन्यूली संयोजक यहाँ लिखवार गावँ में परिवार के साथ रह कर महसूस कर रहा हूँ कि2005 से हमारे विधायक लोगों की अदूरदर्शिता के कारण 69 स्कूल बन्द होगये 4000 हजार परिवार के साथ साथ बनने वाले नेता भी आप जमीन से पलायन करगये।बाकी यहाँ पर रहने वाले लोगों को हांकने के लिए बाहर से मिल ही जायेगा।
हम परिवार के साथ मंदिर में पहुंच कर भगवान सेमनागराजा से अभी1.02 रात्रि में स्मरण कर रहे हैं कि भगवान जनता को सद्बुद्धि दे कि श्रीमान पुष्कर सिंह धामी माननीय मुख्यमंत्री जी से 5लाख प्रति परिवार 5 जनवरी2010 के केंद्र सरकार को भेजे गए पत्र में समझौते के देने के लिए घोषणा  आज कराई जाय और भगवान श्री कृष्ण मुख्यमंत्री जी को जनता की लंबित प्रकरणों का संज्ञान लेते हुए आन्दोकारीयों की ऊर्जा का सम्मान करते हुए 5लाख देने के लिए घोषणा कर कार्य वाही करे। मुख्यमंत्री जनता के धन से सैर सपाटे करते हुए उस धन का सदुपयोग घोषणा करने पर होजायेगा।मैं इसे लागू कराने के लिए मंदिर में प्रार्थना करूंगा ताकि अब तक के धरना प्रदर्शन हमारे सफल भगवान करें।
मुख्यमंत्री के आगे पीछे घूमकर अपना रुतवा बताने वाले नेताओं को इस घोषणा कर आगे बढ़ने का मौका मिलेगा
अन्यथा नेताओं ने इसे लागू कराने में असमर्थता जता दी है अब सभी लोग देखने का सोचने का काम कर टिहरी बांध की उम्र अब94 वर्ष रह गई है आप लोग कितने आसाय होगये हैं कि स्वास्थ्य शिक्षा के कारण पलायन कर रहे हैं ।आपको खुसहाली की जिंदगी जीने के लिए ओर पलायन रोकने के लिए सिर्फ और सिर्फ जीतमणि पैन्यूली संपादक पहाडोंकीगूँज सेमनागराजा के श्री चरणों का ध्यान करते हुए आंदोलन को जीवित रखते हुए प्रत्येक सप्ताह प्रकाशित कर सरकार का ध्यान खींचने का प्रयास करते रहे हैं।अब 2022 के चुनाव में इस प्रयास को सफल बनाने का अधिकार आप जनता जनार्दन के हाथ मे है आपके बचनों को आंदोलन के माध्यम से जीतमणि पैन्यूली संपादक खबरों के मध्य रख कर प्रति सप्ताह प्रकाशित करने का काम करते आरहे हैं।हम जो बोलते हैं वह काम करते भी हैं तभी हम कह सकते हैं कि हमने मनुष्य रूप में जन्म लेने के बाद अपनी जन्मभूमि पर नरक के जीवन जीने के लिए तो जन्म नहीं लिया है।इस आंदोलन को यहाँ तक पहुंचा ने के लिए मैं अपनी4 बीघा जमीन खदरी खड़क माफ डॉ के यस राणा पूर्व प्रमुख डोई वाला के पड़ोस की

बेचकर जन सेवा में 

आंदोलन ,अखबार के माध्यम से यहाँ की समस्या को नवम्बर 2005 उठा रहे हैं

।जो आज हम मनुष्य बने रहे ।इसी भावना से आंदोलन किया है।अब आपको अपने स्वाभिमान को जीवित रखने के लिए भावी विधायक जीतमणि पैन्यूली को बनाने के लिए मन बनाने का काम कर वोट देने के लिए सबको जगाना है।ताकि आप नरक के जीवन जीने के लिए पिछले2005 से बनाये जाने के लिए जारी न रहे हैं।

अब जनता का हो एक नारा । मनुष्य होने के लिए विधायक जीतमणि पैन्यूली हो हमारा।।

स्थान लिखवार गावँ 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

दिपांशी के प्रतियोगिता में दूसरा स्थान पाने पर खुशी की लहर

देहरादून। कर्तव्य प्रोडक्शन हाउस द्वारा आयोजित मिस उत्तराखण्ड 2021 कल्चर वर्ल्ड प्रतियोगिता में दिपांशी सिंह के दूसरा स्थान ग्रहण करने पर हाथी बड़कला क्षेत्र के लोगों में खुशी की लहर दौड गयी है। दिपांशी सिंह के परिजनों को बधाई देने के लिए बड़ी संख्या में क्षेत्रवासी उनके निवास पर पहंुच […]

You May Like