राजस्थान के कोटा में योग दिवस पर सबसे बड़ा आयोजन, बना विश्व रिकॉर्ड

Pahado Ki Goonj
कोटा। कोटा शहर के लिए गौरव की बात है कि राज्य स्तरीय चौथे विश्व योग दिवस के आयोजन ने विश्व रेकॉर्ड का कीर्तिमान बना कर विश्व इतिहास रच दिया। लन्दन से आई टीम ने समारोह में ही योग के विश्व रिकॉर्ड का सर्टिफिकेट जारी किया। इस ऐतिहासिक क्षण के साक्षी रहे दो लाख से अधिक योगार्थी। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कोटा की धरती से योग का विश्व रिकार्ड बनने पर अपनी एवम् सरकार की ओर से मुबारकबाद दी।
योग रिकार्ड के परीक्षण के लिए आई टीम में एशिया हेड डॉ. मनीष विश्नोई, रिकार्ड मेनेजर मनोज शुक्ला, कॉर्डिनेटेर ज्ञानेन्द्र हाडा एवम् आशुतोष शामिल थे। इन्होंने योगगुरु बाबा रामदेव के माध्यम से मुख्यमंत्री को विश्व रिकॉर्ड का सर्टिफिकेट सौपा।
मुख्यमंत्री ने योग का विश्व रिकार्ड बनाने में पिछले दो माह से जुटे ज़िला प्रशासन, पुलिस प्रशसन, लाखों की संख्या में योग करने आये नागरिकों, स्टूडेंट्स, सहयोग करने वाले एलन, रेसोनेंस एवम् अन्य शिक्षण संसथान, समस्त सामाजिक, व्यापारिक एवम् अन्य संस्थाओं सहित समेत लोगों का जिन्होंने योग से जुड़ कर विश्व रिकॉड बनाने में अमूल्य सहयोग किया सभी को बधाई प्रेषित कर आभार जताया।
समारोह में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने ज़िला मुख्यालय पर योग पार्क बनाने की घोषणा करते हुए कहा तनाव, घबराहट और बेचैनी को दूर करने का माध्यम है योग। वज़ीर एवम् फ़क़ीर ने योग की परम्परा को दुनिया में पहुंचाया। यूएन ने योग को सम्पूर्ण मानवता की सांस्कृतिक विरासत माना और यूएनओ ने 11 सितम्बर 2014 को हमारे प्रधानमंत्री के योग दिवस के प्रस्ताव को पारित किया। विश्व में प्रथम योग दिवस 21 जून 2015 को मनाया गया। उन्होंने कहा कि मुस्लिम एवम् इसाई देशों में भी योग किया जाने लगा है। राजस्थान में इस वर्ष चौथे राज्य स्तरीय योग दिवस का आयोजन कोटा में किया गया। मुझे ख़ुशी है कि योग गुरु बाबा रामदेव ने कोटा आकर योग समारोह में भाग लिया और कोटा वासियों को पिछले तीन दिन से योग अभ्यास करा रहे हैं।
अन्तर्रास्ट्रीय ख्याति प्राप्त योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा कि हमारा पोस्चर और कैरेक्टर अच्छा होना चाहिए। योग से ये दोनों ठीक हो जाते हैं। उन्होंने तीन बार ओम का लंबा उच्चारण किया। सर्वे भवन्तु सुखिनः की भावना, शुभकामना यहां है, के गीत की धुन पर जॉगिंग करते हुए संगीतमय योग क्रियाओं का अभ्यास कराया।
बाबा रामदेव ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सहित अन्य मंत्रियों, सांसदों, विधायकों, जनप्रतिनिधियों, अधिकारीयों, कर्मचारियों, पुलिस एवम् सेना के जवानों, नागरिकों सहित बड़ी संख्या में कोचिंग एवम् शिक्षण संस्थाओं के स्टूडेंट्स, विभिन संगठनों और संस्थाओं के सदस्यों ने उमंग एवम् उतसाह पूर्वक योग क्रियाएँ कराईं।
शहर वासियों में योग के प्रति गज़ब का उत्साह देखा गया। तड़के 4 बजे से ही लोग योग स्थल आर.ए. ग्राउंड आना शुरू हो गए। योग शुरू होते ही सारा माहौल योगमय हो गया। भारत माता की जय एवम् वन्देमातरम से गगन गूंज उठा। आकाश में घूमते ड्रॉन कैमरे से निगरानी की जा रही थी। समारोह में बड़ी संख्या में स्टील एवम् वीडियो कैमरे लगाये गए थे। सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस विभाग ने पुख्ता प्रबंध किये। आवागमन में सुविधा के लिए यातयात की व्यवस्था की गई। गिनती के लिए प्रत्येक को एक बार कोड दिया गया।
ज़िला कलेक्टर ने अपनी एवम् प्रसाशन की ओर से सक्रिय सहयोग प्रदान कर योग का विश्व ख़िताब कोटा को दिलाने के लिए कोटा ज़िले के जनप्रतिनिधियों, नागरिकों, संस्थाओं, स्टूडेंट्स, कोचिंग संस्थानों, सभी विभागों के अधिकारीयों, कर्मचरियों एवम् मीडिया कर्मियों का आभार व्यक्त किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

संघर्ष से जूझ रही दुनिया को एकजुट करने वाली शक्ति है योग: प्रधानमंत्री मोदी

देहरादून। शहर के वन अनुसंधान संस्थान परिसर में 50 हजार से ज्यादा लोगों के साथ आज सुबह योगासन करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि पुरातन भारतीय योग परंपरा इस संघर्षरत दुनिया को एकजुट करने वाली सबसे बड़ी शक्ति के रूप में उभरी है। अंग्रेजों के जमाने में बने […]

You May Like