समाचार

Pahado Ki Goonj

1-मुख्य न्यायधीश दीपक मिश्रा हुए रिटायर,भावुक हुए आखिरी दिन,कहा सुप्रीम कोर्ट हमेशा सुप्रीम ही रहेगा।

2-उत्तराखण्ड सरकार जहाँ इन्वेस्टर समिट के लिए पूरा जोर लगाये हैं, वहीं दूसरी तरफ राज्य की मूलभूत सुविधाओं के लिए राज्य के लोगों को जूझना पड़ रहा है, सरकारी स्कूल सरकार बन्द कर रही है,
सड़कों के गड्ढे सभी को परेशान कर रहे हैं, अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी है,और पहाडों के हालात तो बहुत अधिक विकट हो रहे हैं, आज मैं आप लोगों के सामने घनसाली विधानक्षेत्र के बाल गंगा तहसील के सुदूरवर्ती भीमलेत गाँव में राजकीय प्राथमिक विद्यालय भवन निर्माण न होने और निकट के राइका रगड़ी में शिक्षकों की भारी कमी के बारे में बात करूंगा,यहाँ बताना चाहूंगा कि भिमलेत गाँव आरगढ़ पट्टी का दूरस्थ गाँव है,यहाँ पर ब्राह्मण,राजपूत और अनुसूचित जाति के लोग मिलकर रहते हैं,लेकिन इस गाँव में प्राथमिक विद्यालय तक नही है,जो कि आज की 21वीं सदी में सरकार के लिए एक शर्मनाक बात है,गाँव के पूर्व प्रधान लक्ष्मी प्रसाद रतूड़ी जी बताते हैं कि उन्होंने निचले स्तर से लेकर सचिव स्तर तक के अधिकारियों तक हर जगह ये बात मौखिक और लिखित रूप में रखी है पर फिर भी गाँव की इस समस्या का समाधान नही हो पाया है,उन्होंने मुख्यमंत्री कार्यालय को भी गाँव की इस समस्या से अवगत कराया पर कुछ भी फायदा नही हुआ है,जिस कारण गाँव के बच्चों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है,क्षेत्रीय विधायक समेत कई जन प्रतिनिधियों के सम्मुख भी इस समस्या को वे रख चुके हैं, साथ ही पूर्व प्रधान लक्ष्मी रतूड़ी जी बताते हैं कि राइका रगड़ी में प्रवक्ता,सहित सहायक अद्यापक और अन्य स्टाफ के लिए वे शासन प्रसाशन से इस सम्बन्ध में कई बार गुहार लगा चुके हैं लेकिन इस समस्या का समाधान अभी तक नही हुआ है जिससे भिमलेत, रगड़ी,म्यार,घण्ड्योड़ सहित घैरका के नौनिहालों को निकट राइका होने के बावजूद भी दूर जाना पड़ता है,बताते चलें कि राइका रगड़ी पूर्व विधायक भीमलाल आर्य जी द्वारा हरीश रावत सरकार में हाई स्कूल से इंटर कॉलेज में तब्दील किया गया लेकिन न तो यहाँ शिक्षक पहुंचे और न ही बिल्डिंग बनी,हैरान करने वाली बात ये भी है कि ये स्कूल पूर्व विधायक भीमलाल जी के गाँव के पास ही स्थित है,और भिमलेत गाँव भी पूर्व विधायक के रगड़ी गाँव के ठीक ऊपर स्थित है,सरकार को जरूर इन पहाड़ी स्कूलों जहाँ कम से कम अभी लोग मौजूद है और स्कूल में बच्चे भी है,वहाँ भवन,स्टाफ की जल्द व्यवस्था करनी चाहिए,सिर्फ स्कूल बंद करने की न सोचें सरकार,लोगो द्वारा उठाई जा रही इन समस्याओं के निराकरण हेतु तत्काल कदम उठाये।सामाजिक कार्यकर्ता एवं भिमलेत के पूर्व युवा प्रधान लक्ष्मी प्रसाद जी लगातार इन समस्यओं को उठाते आ रहे हैं, लक्ष्मी प्रसाद जी ने काफी दौड़ धूप कर अपने दूरस्थ गाँव भिमलेत तक सड़क भी पहुंचाई है,सरकार को जरूर ऐसे कर्मठ लोगों की मांगों का निराकरण करना चाहिए,क्योंकि दूरस्थ क्षेत्रों में पहले ही वीरानी छा चुकी है और ऐसे अलख जगाने वाले लक्ष्मी हर जगह नही होते,अतः क्षेत्रीय विधायक शक्ति लाल शाह सहित मुख्यमंत्री से आग्रह है कि दूरस्थ गाँव भिमलेत में स्कूल निर्माण ,और राइका रगड़ी के शिक्षकों और अन्य स्टॉफ की समस्याओं का जल्द निराकरण करें
भाजपा की प्रदेश व्यापी पदयात्रा गांधी जयंती से,
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत डोईवाला और प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट रानीखेत से शुरु करेंगे पदयात्रा

देहरादून । महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती को विशेष रूप से मनाने के भाजपा के निर्णय के अनुरूप उत्तराखंड में सभी विधानसभा क्षेत्रों में 150 किमी पद यात्रा 2 अक्टूबर से आयोजित की जा रही है। इसका आरम्भ मुख्यमंत्री सगरी त्रिवेंद्र सिंह रावत ड%A

Next Post

फोटो खिंचवाते समय भी सावधानी बरतने की जरूरत है

फोटो खिंचवाते समय भी सावधानी बरतने की जरूरत है किसी बैठक पर बैठे लोगों की फ़ोटो Post Views: 276

You May Like