15 मई को खुलेंगे गंगोत्री धाम के कपाट

Pahado Ki Goonj

उत्तरकाशी। चैत्र नवरात्रि के शुभ अवसर पर मंगलवार को गंगोत्री धाम के कपाट खुलने की तिथि और शुभ मुहूर्त की घोषणा की गई है। गंगोत्री धाम के कपाट आगामी 15 मई को अक्षय तृतीया के शुभ अवसर पर शनिवार को मिथुन लग्न में शुभ बेला पर सुबह 7 बजकर 30 मिनट पर पूरे विधि-विधान से साथ खोले जाएंगे। वहीं यमुनोत्री धाम के कपाट उद्घाटन की तिथि की घोषणा आगामी 18 अप्रैल को यमुना जन्मोत्सव के अवसर पर यमुनोत्री मंदिर धाम समिति के पदाधिकारी यमुना जी के शीतकालीन प्रवास खरसाली में करेंगे। नवरात्रि के शुभ अवसर पर गंगोत्री धाम मंदिर समिति के पदाधिकारियों ने एक बैठक आहूत की। इसमें पूर्वाह्न 11 बजकर 5 मिनट पर शुभ मुहूर्त पर गंगोत्री धाम के कपाट की ग्रीष्मकाल के लिए उद्घाटन की तिथि की घोषणा की। समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल ने कहा कि आगामी 14 मई को शुक्ल पक्ष के कर्क लग्न की शुभ बेला पर बैशाख द्वितीय को 11 बजकर 45 मिनट पर मां गंगा की डोली शीतकालीन प्रवास मुखबा से गंगोत्री धाम के लिए रवाना होगी। उसके बाद पैदल गंगोत्री धाम की डोली यात्रा रात्रि विश्राम के लिए भैरो घाटी स्थित भैरो मंदिर पहुंचेगी.गंगोत्री धाम मंदिर समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल ने कहा कि 15 मई को मां गंगा की डोली सुबह 4 बजे गंगोत्री धाम के लिए रवाना होगी। उसके बाद वैदिक मंत्रोच्चार के साथ ही विशेष पूजा अर्चना के साथ 15 मई को अक्षय तृतीया पर सुबह मिथुन लग्न की शुभ बेला पर 7 बजकर 30 मिनट पर गंगोत्री धाम के कपाट 6 माह के लिए श्रद्धालुओं के लिए खोल दिये जायेंगे। यमुनोत्री धाम के पुरोहित प्रदीप उनियाल ने कहा कि यमुनोत्री धाम के कपाट उद्घाटन की तिथि की घोषणा आगामी 18 अप्रैल को यमुना जन्मोत्सव पर की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

मुख्यमंत्री उत्तराखंड सरकार से कोरोना की आयुर्वेद दावा बनाने के लिए प्रार्थना पत्र

सेवा में माननीय मुख्यमंत्री जी। dt.13.04.2021 उत्तराखंड सरकार, देहरादून बिषय: pcf रानीखेत से कोरोना दवाई बनाने हेतु महोदय, देश के इन महान आयुर्वेद के ज्ञान का रिसर्च कर देहरादून में अदभुत अलौकिक, अमृत तुल्य कोरोना उपचार की सटीक दवा बनाई है। […]

You May Like