दारोगा को परिवार से अभद्रता करना पड़ा भारी
फोटो अरुण मोहन जोशी डी आई जी
डीआईजी ने किया निलंबित
1 देहरादून। थाना नेहरू कॉलोनी में तैनात दारोगा को एक परिवार से अभद्रता करना भारी पड़ गया। देहरादून डीआईजी ने उसे तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। जानकारी के मुताबिक शिकायतकर्ता परिवार ने दुर्व्यवहार और अभद्रता की घटना का वीडियो देहरादून डीआईजी को भेजा, जिसके बाद मामले की गंभीरता को देखते डीआईजी ने ये कार्रवाई की है।
जानकारी के मुताबिक नेहरू कॉलोनी क्षेत्र में एक परिवार अपने बच्चों के साथ कहीं जा रहा था, तभी आरोपी दारोगा ने चेकिंग के नाम पर पीड़ित परिवार को रोकर अभद्रता करने का आरोप है। हालांकि, परिवार ने पूरे घटनाक्रम का वीडियो भी बना लिया और वीडियो देहरादून डीआईजी अरुण मोहन जोशी को भेज दिया।
देहरादून डीआईजी ने वीडियो के आधार पर आरोपी दारोगा को निलंबित कर दिया है और दारोगा के खिलाफ सीओ नेहरू कॉलोनी को जांच सौंपी गई है।


क्षेत्र की उपेक्षा से नाराज पार्षद ने खोला मोर्चा, आंदोलन की दी चेतावनी
2 हरिद्वार। उत्तरी हरिद्वार के संत बाहुल्य क्षेत्र सप्तऋषि की उपेक्षा किए जाने से पार्षद ने कड़ी नाराजगी जताई है। पार्षद अनिल मिश्रा ने कहा है कि कुंभ मेला प्रशासन द्वारा अभी तक कोई भी कार्य सप्तऋषि में शुरू नहीं कराए गए हैं। क्षेत्र की उपेक्षा से आहत पार्षद ने कुंभ मेला प्रशासन को आंदोलन की चेतावनी दी है।
भाजपा पार्षद अनिल मिश्रा ने कहा कि सप्तऋषि पौराणिक क्षेत्र है। यहां के लोगों को कुंभ मेले से क्षेत्र के विकास होने की आस थी, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। घाट और बांधों का बजट पास होने की बात की जा रही है, लेकिन अभी तक भी दूर-दूर तक कोई काम शुरू नहीं किया गया। सड़कों पर भी केवल पेच वर्क करने का कार्य किया जा रहा था। जिस पर कड़ी नाराजगी स्थानीय लोगों ने जताई है।उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में मठ, मंदिर, आश्रम सबसे अधिक हैं। संत बाहुल्य क्षेत्र होने के बावजूद भी ऐसा बर्ताव किया जाना बहुत ही निंदनीय है।
पार्षद अनिल मिश्रा का कहना है कि अपर मेलाधिकारी अधिकारी की तरफ से कहा जा रहा है कि पार्षद ने उन्हे कोई प्रस्ताव नहीं दिया है। जबकि मेला प्रशासन ने पार्षदों के साथ बैठक तक नहीं की। पार्षदों से पूछा तक नहीं गया कि क्या कार्य क्षेत्र में होने हैं। उन्होंने बताया कि भाजपा सरकार में ही भाजपा के पार्षदों के क्षेत्र में काम नहीं किए जा रहे हैं। अपनी ही सरकार में भाजपा पार्षद काम न होने से नाराज होकर आंदोलन करने को मजबूर हैं। उन्होंने कहा कि जल्द मेला प्रशासन द्वारा क्षेत्र में कार्य नहीं किया गया तो वे आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे।

अगेपढें
पूर्ति निरीक्षक का रिश्वत लेते वीडियो वायरल
डीएम ने किया निलंबित
3 हरिद्वार। जिला पूर्ति विभाग बहादराबाद ब्लॉक स्थित कार्यालय में तैनात पूर्ति निरीक्षक मोहनलाल पांच हजार रुपए रिश्वत लेते हुए कैमरे में कैद हो गए। वहीं उनका यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो वायरल होने पर जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है। आनन-फानन में जिलाधिकारी ने पूर्ति निरीक्षक के निलंबन की संस्तुति कर दी है। साथ ही डीएम सी रविशंकर ने सभी विभागों के अधिकारियों को चेतावनी दी है कि अगर कोई भी अधिकारी या कर्मचारी रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया तो उसके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।
जिला पूर्ति विभाग लगातार विवादों में रहा है। अधिकारी और कर्मचारियों पर रिश्वत लेने के आरोप पहले भी लगते आए हैं। लेकिन हरिद्वार बहादराबाद ब्लॉक स्थित कार्यालय में तैनात पूर्ति निरीक्षक मोहनलाल पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए कैमरे में कैद हो गए। जिसके बाद वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिलाधिकारी सी रविशंकर ने मामले में तत्काल कार्रवाई करते हुए पूर्ति निरीक्षक को निलंबित कर मुख्यालय में अटैच कर दिया।
जिलाधिकारी सी रविशंकर का कहना है कि इस मामले में पूर्ति निरीक्षक को निलंबित कर मुख्यालय में अटैच करने की कार्रवाई की गई है। साथ ही वीडियो की फॉरेंसिक जांच भी कराई जा रही है और मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही अन्य जो भी अधिकारी भ्रष्टाचार में लिप्त होंगे, उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। डीएम ने कहा कि किसी भी विभाग में इस तरह के भ्रष्टाचार को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

शीतकाल के लिए बंद हुए बदरीनाथ धाम के कपाट

4 चमोली। बदरीनाथ धाम के कपाट वैदिक मंत्रोच्चारण और विधि-विधान के साथ शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं। इस पल के कई श्रद्धालु साक्षी बने और साथ ही उन्होंने भगवान से सुख-सुमृद्धि की कामना की। भगवान नारायण को घृत कम्बल और घी से लेप किया। वहीं इस मौके पर सेना के बैंड और भगवान बदरीनाथ के जयघोष से पूरा वातावरण भक्तिमय हो गया। वहीं कपाट बंद होने के बाद किसी भी व्यक्ति को बगैर सरकारी अनुमति के हनुमान चट्टी से आगे जाने पर मनाही होगी।
गौर हो कि आज शाम 3 बजकर 35 मिनट पर भगवान बद्री विशाल के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं। बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने के बाद भगवान उद्धव और कुबेर जी की उत्सव डोलियां पांडुकेश्वर के लिए रवाना हुई। मान्यता है कि भगवान बदरी विशाल की छह माह नर और छह माह नारदजी पूजा करते हैं। कपाट बंद होने के बाद बदरीनाथ में पूजा का प्रभार नारद मुनि के पास रहता है।

पौराणिक मान्यता
मान्यता है कि पुराने समय में भगवान विष्णुजी ने इसी क्षेत्र में तपस्या की थी। उस समय महालक्ष्मी ने बदरी यानी बेर का पेड़ बनकर विष्णुजी को छाया प्रदान की थी। लक्ष्मीजी के इस समर्पण से भगवान प्रसन्न हुए। विष्णुजी ने इस जगह को बद्रीनाथ नाम से प्रसिद्ध होने का वरदान दिया था। बदरीनाथ धाम में विष्णुजी की एक मीटर ऊंची काले पत्थर की मूर्ति स्थापित है। विष्णुजी की मूर्ति ध्यान मग्न मुद्रा में है। यहां कुबेर, लक्ष्मी और नारायण की मूर्तियां भी हैं। इसे धरती का वैकुंठ भी कहा जाता है। बदरीनाथ मंदिर तीन भागों में विभाजित है, गर्भगृह, दर्शनमंडप और सभामंडप।

अगेपढें
5 डोईवाला में नकरौंदा क्षेत्र में हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से हाथी के बच्चे की मौत
डोईवाला। लच्छीवाला रेंज के नकरौंदा क्षेत्र में एक हाथी के बच्चे की हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से मौत हो गई। मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम ने शव का पोस्टमॉर्टम कराया है। घटना नकरौंदा क्षेत्र के कंपार्टमेंट-13 की है।
रेंज अधिकारी घनानंद उनियाल ने बताया कि बुधवार की रात को नकरौंदा क्षेत्र में जंगल के किनारे एक हाथी के बच्चे ने एक पेड़ को तोड़ा, जिससे पेड़ की शाखा हाईटेंशन लाइन से टच हो गई, जिससे तेज गति के करंट आने से हाथी के बच्चे की मौत हो गई।घनानंद उनियाल के मुताबिक, एक हथिनी की मौत हुई है, उसकी उम्र करीब 6 वर्ष है। डॉक्टरों की टीम ने शव का पोस्टमॉर्टम किया है। पोस्टमॉर्टम करने के बाद शव को जमीन में दबा दिया जाएगा।

बेरोजगारों को मिलेगा ब्याज मुक्त ऋण
21 नवंबर को लॉन्च होगी स्कीम
6 देहरादून। कोरोनाकाल और लॉकडाउन में अपना सबकुछ छोड़कर कर पहाड़ लौटे प्रवासी और प्रदेश के युवाओं के लिए अच्छी खबर है। 21 नवंबर से सरकार इन बेरोजगारों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए बिना किसी ब्याज के ऋण देने जा रही है। इस योजना की शुरूआत 21 नवंबर को उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत करेंगे। इस योजना के तहत युवाओं को 3 लाख रुपए तक का लोन बिना किसी ब्याज के दिया जाएगा। ताकि युवा स्वरोजगार अपना कर अपनी जिंदगी पटरी पर ला सकें।कोविड-19 और लॉकडाउन की वजह से बेरोजगार हुए युवाओं के लिए त्रिवेंद्र सरकार प्रदेश में मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना चला रही है। वहीं, इस योजना का लाभ नहीं उठा पा रहे बेरोजगारों के लिए सरकार ने एक और नई योजना बनाई है, जिसके तहत बेरोजगारों को तीन लाख तक का ब्याज मुक्त कर्ज मिलेगा। सहकारिता विभाग से मिली जानकारी के अनुसार आगामी 21 नवंबर से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत इस योजना की शुरूआत करेंगे।
बता दें कि प्रदेश में युवाओं और किसानों की आय को बढ़ाने के लिए सहकारिता विभाग द्वारा कई योजनाएं चलाई जा रही है। वहीं, अब बेरोजगार युवाओं की आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए सहकारिता विभाग द्वारा कदम उठाया जा रहा है। युवाओं के लिए ब्याज मुक्त ऋण को लेकर सहकारिता विभाग मानक के साथ-साथ तमाम नियमावली तैयार कर रही है। इसके अलावा वित्तीय वर्ष 2018 के बकाया ऋण वसूली को लेकर भी सहकारिता विभाग सघन अभियान चलाने जा रही है, जिसके तहत तकरीबन 300 करोड़ की वसूली की जाएगी।

अगेपढें
भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी की 103वीं जयंती
कांग्रेसियों ने विचार गोष्ठी का किया आयोजन
7 देहरादून।  पूरा देश आज भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी की 103वीं जयंती मना रहा है। इस अवसर पर कांग्रेसियों ने उनकी प्रतिमा पर नमन किया और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय में स्वर्गीय इंदिरा गांधी के जीवन पर आधारित एक विचार गोष्ठी का भी आयोजन किया गया, में कांग्रेस पार्टी के तमाम आला नेता मौजूद रहे।इस मौके पर कैबिनेट मंत्री हीरा सिंह बिष्ट ने कहा कि स्वर्गीय इंदिरा गांधी ने देश को एक नई दिशा देने का काम किया। उन्होंने भारत को परमाणु संपन्न राष्ट्र बनाने के साथ ही मजदूरों के हितों के लिए कई काम किए। इसके अलावा पाकिस्तान को सबक सिखाते हुए बांग्लादेश जैसे राष्ट्र का निर्माण कराया, जिसके बाद पूरी दुनिया ने उनका लोहा माना था।
उन्होंने कहा कि स्वर्गीय इंदिरा गांधी के त्याग और बलिदान को देश कभी नहीं भुला सकता है। इस दौरान पूर्व कैबिनेट मंत्री हीरा सिंह बिष्ट ने स्वर्गीय प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के साथ अपनी यादें ताजा करते हुए कहा कि इंदिरा गांधी के साथ उन्हें बदरीनाथ जाने का मौका मिला था, जहां भोर होने से पहले ही सुबह 3 बजे इंदिरा गांधी नीति माणा दर्रा पहुंच गई, इससे पता चलता है कि वह कितनी जीवट महिला हुआ करती थीं।
गौर हो कि देश की पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी का जन्म उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद (प्रयागराज) में 19 नवंबर 1917 को हुआ था। उन्हें देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न के अलावा अंतरराष्ट्रीय सम्मान लेनिन नीस अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था।

कांग्रेस ने गरीब महिलाओं को वितरित किये कंबल
8 चंपावत में कांग्रेस कार्यालय में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जयंती धूमधाम से मनाई गई। इस दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनके चित्र में माल्यापर्ण करते हुए उनके बताए हुए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। इस मौके पर जिलाध्यक्ष उत्तम सिंह देव की अध्यक्षता में हुए कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं ने इंदिरा गांधी के शासन को याद करते हुए उसे राष्ट्रीय विकास के लिए समर्पित कालखंड बताया। उन्होंने कहा कि श्रीमती गांधी की ओर से देश की एकता और अखंडता के लिए दिए गए बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है। इस मौके पर यूथ कांग्रेस की ओर से गरीब महिलाओं को कंबल भी वितरित किए गए।

ऋषिकेश में भी इंदिरा गांधी को किया याद
9 पूर्व प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी के जन्मदिवस पर कांग्रेस जन सहायता कार्यालय श्यामपुर में इंदिरा गांधी के चित्र पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने श्रद्धासुमन अर्पित कर गोष्ठी का आयोजन किया, जिसमें इंदिरा गांधी के कार्यकाल की उपलब्धियों को याद किया गया और आज की राजनीतिक हालात पर चर्चा की गई। इस मौके पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य जयेन्द्र रमोला ने कहा कि आज भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी बचपन से ही सामाजिक रूप से समाज की सेवा में अग्रसर थी। वह कांग्रेस के हर कार्यकर्ता के लिए प्रेरणास्रोत हैं।
अगेेेेेपढें

10 काशीपुर कार्यक्रम में सामने आई अंदरूनी गुटबाजी
काशीपुर महानगर कांग्रेस पार्टी में अंदरूनी तौर पर चल रही गुटबाजी आज एक बार फिर उस वक्त सामने आ गई जब संगठन की पीसीसी सदस्य एवं पूर्व महापौर प्रत्याशी मुक्ता सिंह और कांग्रेसी कार्यकर्ता राशिद फारुखी आमने सामने आ गए। दरअसल, पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी की जयंती मनाने के लिए महानगर कांग्रेस के द्वारा मोहल्ला टांडा उज्जैन स्थित कुष्ठ आश्रम में फल वितरण का कार्यक्रम रखा गया था, आयोजित कार्यक्रम के दौरान एक युवा कांग्रेसी ने फोटो खिंचवाने की बात पर महिला नेत्री को खूब खरी खोटी सुनाते हुए तू तड़ाक की। इस घटना ने कांग्रेस के अंदर चल रही गुटबाजी को उजागर कर दिया, जिसके बाद से इस मामले को लेकर संगठन में तमाम तरह की चर्चाएं व्याप्त हैं।
आगेपढें
इतिहास में पहली बार
वियतनाम के जेंटलमैन कैडेट्स की पीपिंग सेरेमनी समय से पहले आयोजित
देहरादून। कोरोना का असर भारतीय सैन्य अकादमी   
   11 (आईएमए) की सालों पुरानी पंरपराओं पर भी पड़ रहा है। इतिहास में पहली बार मित्र राष्ट्र (वियतनाम) के तीन जेंटलमैन कैडेट्स आईएमए की पासिंग आउट परेड (पीओपी) से एक महीने पहले ही अपने वतन लौट गए हैं। बुधवार को अकादमी की चैटवुड बिल्डिंग में उनकी पीपिंग सेरेमनी आयोजित की गई है।
आईएमए देहरादून में देश के ही नहीं बल्कि विदेशी (मित्र राष्ट्र) जेंटलमैन कैडेट्स भी ट्रेनिंग लेते है। इस बार भी 11 मित्र राष्ट्रों के 208 विदेशी कैडेट्स यहां पर ट्रेनिंग ले रहे हैं। जिसमें से तीन कैडेट्स वियतनाम के हैं। जिन्हें दिसंबर में होने वाली पासिंग आउट परेड में हिस्सा लेना था, लेकिन वियतनाम दूतावास ने आग्रह किया था कि तीनों कैडेट्स को एक साथ उनके देश भेजा जाएगा। इसलिए तीनों कैडेट्स की पीपिंग सेरेमनी एक महीने पहले ही आयोजित की गई। आईएमए कमांडेंट हरिंदर सिंह ने तीनों कैडेट्स के कंधों पर स्टार (पीपिंग सेरेमनी) लगाकर उन्हें ऑफिसर बनाया।
बता दें कि कोरोना की वजह से जून में भी बड़ी सादगी के साथ पासिंग आउट परेड आयोजित की गई थी। ऐसा पहली बार था जब जेंटलमैन कैडेट्स के परिजनों पासिंग आउट परेड में शामिल नहीं हुए थे। अब अगले महीने दिसंबर में पासिंग आउट परेड होनी है। इस बार पासिंग आउट परेड क्या स्वरूप रहेगा इसके बारे में अभी से कुछ नहीं कहा जा सकता

पोती के अस्थि विसर्जन के लिए हरिद्वार आएंगी सांसद रीता बहुगुणा
12 देहरादून। यूपी के प्रयागराज से सांसद और पूर्व कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी अपनी पोती के आकस्मिक निधन पर अस्थि कलश विसर्जन के लिए शनिवार को (21 नवंबर) को हरिद्वार आएंगी। इसकी जानकारी कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने दी है।
सुबोध उनियाल ने कहा कि बीजेपी की सांसद रीता बहुगुणा जोशी शनिवार को दिन में 12ः50 बजे इंडिगो एयरलाइन से देहरादून आएंगी। उसके बाद तकरीबन डेढ़ बजे हरिद्वार पहुंचेंगी। इस दौरान प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा भी उनके साथ मौजूद रहेंगे। इसके बाद देर शाम तकरीबन 7 बजे सभी हवाई मार्ग से दिल्ली लौट जायेंगे।
बता दें, दिवाली के दिन सांसद रीता जोशी की बहू रिचा अपनी बेटी को लेकर पोनप्पा मार्ग स्थित अपने मायके गईं थीं। दिवाली के दिन काफी बच्चे घर की छत पर खेल रहे थे। इस दौरान पटाखा जलाने के दौरान वह आग की चपेट में आकर झुलस गई थी। जिसके बाद मयंक जोशी की 6 साल की बेटी किया का इलाज एक निजी अस्पताल में चल रहा था, जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

स्ट्रीट वेंडरों के लिए लोन मेला, मौके पर ही पास होगा लोन


13 देहरादून। पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना के तहत स्ट्रीट वेंडरों के लिए नगर निगम परिसर में दो दिवसीय लोन मेला लगाया गया। इस मेले के जरिए पंजीकृत स्ट्रीट वेंडर 10 हजार रुपये के लोन के लिए आवेदन कर रहे हैं। यह लोन मेला नगर निगम परिसर में लगाया है, इस लोन मेले में बैंकर्स भी आये हुए हैं।
शहर में अभी भी काफी संख्या में स्ट्रीट वेंडर हैं, जो इस योजना का लाभ नहीं उठा पाए हैं। ऐसे में सभी स्ट्रीट वेंडर्स दो दिनों तक लोन मेला में पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना के तहत 10 हजार का लोन ले सकते हैं। इसके लिए स्ट्रीट वेंडरों को अपने साथ अपना आधार कार्ड और नगर निगम की ओर से बनाया गया वेंडर कार्ड लेकर नगर निगम पहुंचना होगा। आपदा प्रबंधन सचिव शैलेश बगोली ने बताया कि भारत सरकार की योजना स्वनिधि योजना के तहत कोरोना के समय मे जिन स्ट्रीट वेंडरों का व्यवसाय काफी प्रभावित हुआ था, ऐसे वेंडरों को काम के लिए लोन देने की योजना है। जिसमें 10 हजार का लोन दिया जा रहा है।
अगर कोई वेंडर समय से लोन को चुका देता है, उसको दोबारा से लोन मिल सकता है। इस लोन में सभी 9 को प्रतिशत की सब्सिडी दी जा रही है। इसका मुख्य उद्देश्य है कि स्ट्रीट वेंडर के व्यवसाय में जो नुकसान हुआ था, मेले से उनके व्यवसाय को पटरी पर लाने का प्रयास किया जा रहा है। साथ ही जो लोग बाहर से वापस आए हैं, उनको भी नए व्यवसाय खोलने में सुविधा होगी।

अगेपढें

गढ़वाल विवि के दीक्षांत समारोह में शिक्षा मंत्री होगें मुख्य अतिथि
दीक्षांत समारोह लाइव प्रसारण दूरदर्शन पर किया जायेगा  

गढ़वाल विवि के दीक्षांत समारोह की तैयारियां जोरों पर  
14 श्रीनगर। हेमवंती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विवि के आठवें दीक्षांत समारोह 1 दिसंबर को आॅनलाइन आयोजित किया जायेगा। बृहस्पतिवार को दीक्षांत समारोह की तैयारियों को लेकर आयोजन समिति की बैठक आहुत की गई। बैठक में दीक्षांत समारोह के कार्यक्रम के स्वरुप पर विचार हुआ तथा समारोह के अतिथियों की जानकारी दी गयी। कोविड-19 आपदा के चलते इस वर्ष दीक्षांत समारोह का आयोजन ऑनलाइन माध्यम से किया जायेगा। जबकि समारोह का संचालन चैरास स्थित स्स्वामी मनमंथन प्रेक्षागृह से होगा। दीक्षांत समारोह के मीडिया समिति के संयोजक प्रो. एमएम सेमवाल ने बताया कि दीक्षांत समारोह का लाइव प्रसारण सोशल मीडिया (फेसबुक, यूट्यूब, ट्विटर, विवि वेवसाइट) तथा दूरदर्शन से भी किया जायेगा। इस वर्ष विभिन्न विषयों के लगभग 60 विद्यार्थियों को स्वर्ण पदक से सम्मानित किया जायेगा। उन्होने बताया कि गढ़वाल विवि का आठवां दीक्षांत समारोह ऑनलाइन शिक्षण एवं प्रतिस्कन्दन थीम पर केंद्रित होगा। प्रो. सेमवाल ने बताया कि समारोह की अध्यक्षता विवि के कुलाधिपति डॉ. योगेन्द्र नारायण करेंगे। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि विवि अनुदान आयोग के अध्यक्ष प्रो. डीपी सिंह रहेंगे तथा शिक्षा मंत्री भारत सरकार डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक बतौर मुख्य अतिथि कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे। कार्यक्रम का आयोजन विवि की कुलपति प्रो. अन्नपूर्णा नौटियाल के निर्देशन में किया जायेगा। कहा कि जिन्होंने शैक्षणिक सत्र 2019-20 में अपना स्नात्तकोत्तर व एमफिल उत्तीर्ण किया हो या 15 नवम्बर 2019 के पश्चात् पीएचडी हासिल की हो वे दीक्षांत समारोह में भाग ले सकते हैं। दीक्षांत समारोह में ऑनलाइन प्रतिभाग करने हेतु पंजीकरण दिनांक 22 नवम्बर 2020 तक हो सकेंगे। बैठक में दीक्षांत समारोह आयोजन समिति के संयोजक प्रो. आरसी रमोला, प्रो वाईपी रैवानी, प्रो. इंदु खण्डूरी, डॉ विजय कुमार ज्योति, आशुतोष बहुगुणा,  मोहन नैथानी, डॉ सुभाष चन्द्र, डॉ जितेंद्र कुमार, डॉ नरेश राणा, डॉ लक्ष्मण सिंह कण्डारी, डॉ. नागेंद्र रावत, डा नरेश कुमार आदि ने मौजूद थे।
अगेपढें
  पैराग्लाइडिंग का प्रशिक्षण केन्द्र खोला जायेगाः मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने किया प्रथम नयार घाटी एडवेंचर फेस्टिवल का उद्घाटन
बिलखेत में किया गया राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग एक्यूरेसी प्रतियोगिता का शुभारम्भ।
लगभग 27 करोड़ रूपये की कल्जीखाल विकासखण्ड की पेयजल योजना का लोकार्पण
नयार घाटी एडवेंचर फेस्टिवल का आयोजन हर साल किया जायेग

उत्तराखण्ड में साहसिक खेलों के लिए पर्याप्त संभावनाएं
14 देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बिलखेत, पौड़ी में प्रथम नयार घाटी एडवेंचर फेस्टिवल का उद्घाटन किया एवं राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग एक्यूरेसी प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 26 करोड़ 83 लाख 64 हजार रूपये की कल्जीखाल विकासखण्ड की पेयजल योजना का लोकार्पण किया। इस योजना से 02 हजार 370 पेयजल संयोजन दिये गये हैं। योजना का लाभ 59 राजस्व ग्रामों, 19 ग्राम पंचायतों एवं 68 बस्तियों को मिलेगा। इसका श्रोत नयार नदी है। मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि नयार घाटी में पैराग्लाइडिंग का प्रशिक्षण केन्द्र खोला जायेगा। इसके लिए उन्होंने जिलाधिकारी पौड़ी को जमीन ढ़ूढने के निर्देश दिये। नयार घाटी एडवेंचर फेस्टिवल का आयोजन हर साल किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि बिलखेत में स्कूल का सौन्दर्यीकरण किया जायेगा। द्वारीखाल में खेल के मैदान का समतलीकरण किया जायेगा।
 मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि 19 से 22 नवम्बर 2020 तक इस फेस्टिवल में अनेक कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं। जिसमें पैराग्लाइंडिंग, 170 किमी की माउंटेन बाइकिंग ट्रेल रनिंग स्पर्धा एवं एंग्लिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने अनेक राज्यों से आये प्रतियोगियों का देवभूमि उत्तराखण्ड में स्वागत किया। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि उत्तराखण्ड को प्रकृति ने सब कुछ दिया है। आज आवश्यकता है तो इन प्राकृतिक सम्पदाओं का सही तरीके से उपयोग हो। संयुक्त राष्ट्र संघ की रिपोर्ट के अनुसार पर्यटन के क्षेत्र में दुनिया में सबसे अधिक संभावनाएं एडवेंचर के क्षेत्र में है, और इसमें रोजगार की भी अपार संभावनाएं है। उत्तराखण्ड में साहसिक खेलों के लिए पर्याप्त संभावनाएं हैं। उत्तराखण्ड में पर्यटन, फिल्म, ग्रामीण क्षेत्रों के विकास एवं स्वास्थ्य सुविधाओं पर राज्य सरकार का विशेष ध्यान है। प्रत्येक जनपद में थीम बेस्ड डेस्टिनेशन विकसित किये जा रहे हैं। पूरे प्रदेशवासियों को अटल आयुष्मान योजना से आच्छादित करने वाला उत्तराखण्ड देश का पहला राज्य है। इसके लिए भारत सरकार की ओर से उत्तराखण्ड को सम्मानित भी किया गया।
 इस अवसर पर उच्च शिक्षा एवं सहकारिता राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, सांसद तीरथ सिंह रावत, विधायक मुकेश कोली, जिलाध्यक्ष भाजपा पौड़ी संपत सिंह रावत, ब्लॉक प्रमुख बीना राणा, जिलाधिकारी पौड़ी धीराज गर्ब्याल, एसएसपी पौड़ी श्रीमती रेणुका देवी आदि उपस्थित थे।

सरकार की योजनाओं की जानकारी जिलाधिकारी ब्लॉक लेबल पर जाकर देंगे
15 देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि राज्य सरकार स्वरोजगार की दिशा में अनेक प्रयास कर रही है। इसके लिए राज्य में सीएम स्वरोजगार योजना शुरू की गई। इसके तहत 150 प्रकार के कार्यों को शामिल किये गये हैं। किसानों को 03 लाख तक का ब्याज मुक्त एवं महिला स्वयं सहायता समूहों को 05 लाख तक का ब्याज मुक्त ऋण दे रही है। सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं का सभी को फायदा मिले, इसके लिए सभी जिलाधिकारी ब्लॉक लेबल तक जाकर इन योजनाओं की जानकारी लोगों को देंगे। जिला स्तरीय उच्च अधिकारी ब्लॉक लेबल पर जाकर सरकार की विभिन्न योजनाओं की समीक्षा करेंगे। सीएम हैल्पलाईन नम्बर 1905 पर 65 प्रतिशत लोगों की समस्याओं का समाधान हो रहा है। सीएम डेशबोर्ड की गतिविधियों की लोगों को भी जानकारी रहे, इसके लिए अगले माह सीएम डेशबोर्ड जनता के लिए खोला जायेगा।

विकास के लिए पुरूषों एवं महिलाओं का समान रूप से आगे बढ़ना जरूरी
16 देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि किसी भी देश, प्रदेश व समाज के विकास के लिए पुरूषों एवं महिलाओं का समान रूप से आगे बढ़ना जरूरी है। प्रदेश का सर्वांगीण विकास तभी होता है, जब ग्रामीण क्षेत्रों में भी तीव्र गति से विकास हो। राज्य सरकार ने कल कैबिनेट में एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया, उत्तराखण्ड में पति की सम्पति में महिलाओं का सह अधिकार मिले ताकि उन्हें भी सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए लोन लेने में कोई परेशानी न हो। हमें अपने स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देना होगा। इन उत्पादों को अपग्रेड करना होगा और व्यावसायिक गुण विकसित करने होंगे।

आगामी तीन साल में माँ बहिनों के सिर से घास की गठरी का उतारेंगे बोझ
17 देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि जिस प्रकार आज हर घर में गैस का सिलेण्डर पहुंच रहा है उसी तरह 30 किलो घास की गठरी भी तीन साल में हर घर तक पहुंचाने की व्यवस्था किये जाने के निर्देश अधिकारियों को दिये गए हैं। उन्होंने कहा कि आज घास लेने के लिये जहां हमारी माँ बहिने जगंल या अन्य स्थानों पर जाती है तो उन्हें पहाड़ी से गिरने, जंगली जानवरों का एवं नदी में बहने का खतरा बना रहता है। हम उन्हें इन खतरों से भी बचायेंगे तथा घास की व्यवस्था उनके आंगन तक उपलब्ध करायेंगे।

कृषि के क्षेत्र में राज्य सरकार ने साढ़े तीन वर्षों 100 से अधिक निर्णय लिये
18 देहरादून। कृषि मंत्री  सुबोध उनियाल ने कहा कि राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत जी के नेतृत्व में पिछले साढ़े तीन साल में कृषि के क्षेत्र में 100 से अधिक निर्णय लिये। 2017 में राज्य सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री जी का सपना था कि प्रत्येक न्याय पंचायत में एक-एक फार्म मशनरी बैंक हो। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के आशीर्वाद से सभी 670 स्थापित किये गये। किसानों को 80 प्रतिशत सब्सिडी पर कृषि यंत्र दिये गये। इन तीन सालों में इन मशीनों की सहायता से राज्य में कृषि उत्पादकता में वृद्धि हुई। भारत सरकार द्वारा कृषि कर्मणा पुरस्कार से उत्तराखण्ड को सम्मानित किया गया। भारत सरकार ने हमारे परम्परागत बीजों को मान्यता दी है। अब इन बीजों पर भी 50 प्रतिशत सब्सिडी किसानों को मिलेगी। उत्तराखण्ड में ऑगर्निक उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए 6400 कलस्टर स्वीकृत हुए हैं। 15 हजार कलस्टर की सैद्धांतिक स्वीकृति मिली है। प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड को ऑगर्निक स्टेट के रूप में विकसित किया जाय।

आत्म निर्भर भारत की स्व निधि योजना के तहत वैंडरों को ऋण वितरित किया गया
19 मसूरी। नगर पालिका परिषद के तत्वाधान में विभिन्न बैंकों के माध्यम से वैंडरों को भारत सरकार की आत्म निर्भर भारत की स्व निधि योजना के तहत शिविर लगाकर दस हजार रूपये प्रति वैंडर के हिसाब से ऋण वितरित किया जा रहा है। योजना का लाभ लेने के लिए बड़ी सख्ंया में वैंडर नगर पालिका परिषद आ रहे हैं।
इस संबंध में जानकारी देते हुए नगर पालिका परिषद के अधिशासी अधिकारी एमएल शाह ने बताया कि प्रदेश के मुख्य सचिव ओम प्रकाश के निर्देश पर भारत सरकार की आत्म निर्भर भारत की स्वनिधि योजना के तहत दो दिवसीय शिविर लगाकर वैंडरों को विभिन्न बैंकों के माध्यम से 10 हजार रूपये प्रति वैंडर को ़ऋण वितरित किया जा रहा है। उन्हांेने बताया कि भारत सरकार के माध्यम से वर्ष 2017 में किए गये सर्वे के आधार पर 152 वंैडरों को योजना के लिए चयनित किया गया है। उन्होंने बताया कि चयनित वैंडरों में सात शहर से बाहर हैं जिसके कारण 145 वैंडरों में से 80  के आवेदन पोर्टल पर अपडेट किए गये जिसमें से 58 वैंडरों के ऋण स्वीकृत किए गये हैं इनमें से 54 के खाते मंे ऋण राशि आ चुकी है। तथा तीन वेेंडरो के आवेदन निरस्त किए गये वहीं 35  वैंडरों ने ऋण राशि कम होने पर ऋण लेने से मना कर दिया है। उन्होंने यह भी बताया कि जिन वंैडरों को ऋण दिया जा रहा है उन्हें 9 प्रतिशत सब्सिडी भी दी जा रही है। वहीं जो अन्य लोग छूट गये है उन्हे आने वाले समय में ऋण दिया जायेगा। ईओ शाह ने बताया कि ऋण वितरण का कार्य पालिका के कर अधीक्षक गिरीश सेमवाल के नेतृत्व में किया जा रहा है। मालूम हो कि कोरोना संक्रमण के दौरान वैंडरों का रोजगार प्रभावित हुआ है तथा आर्थिक रूप से कमजोर होने के चलते भारत सरकार ने स्वरोजगार को प्रोत्साहित करने व उनकी आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखकर स्व निधि योजना शुरू की है जिसके तहत ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है।
कोरोना संक्रमण के बढते खतरे को देखते हुए एमडीडीए वादों की सुनवाई स्थगित करे।
मसूरी। सरकार व जनता में संपर्क माध्यम के लिए बनाई गई सेतु संस्था के सचिव आलोक मेहरोत्रा ने उपाध्यक्ष एमडीडीए, जिलाधिकारी व सह सचिव को पत्र लिखकर मांग की है कि कोविड-19 के मसूरी में लगातार बढते मामलों के मध्य नजर वादों की सुनवाई स्थगित की जाय।
सेतु के सचिव आलोक मेहरोत्रा ने वीसी एमडीडीए सहित जिलाधिकारी व सह सचिव एमडीडीए को लिखे पत्र की जानकारी देते हुए बताया कि मसूरी में विगत 15 दिनों से लगातार कोरोना संक्रमण के मामले बढ रहे है जो चिंता का विषय है। उन्होने पत्र में कहा कि लाॅक डाउन खुलने के बाद एमडीडीए मसूरी कार्यालय द्वारा पूर्व में लंबित वादों की पुनः सुनवाई हेतु नियत की जा रही है, जिस कारण से एमडीडीए कार्यालय परिसर व कचहरी परिसर में पक्षकारों की भीड़ बढ़ जाती है। इस कारण कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है। पत्र में कहा गया कि जनहित में पूर्व के लंबित वाद जिनकी सुनवाई कोविड- 19 के कारण स्थगित कर दी गई थी उनकी सुनवाई मार्च 2021 तक स्थगित किया जाय ताकि कोरोना महामारी से बचा जा सके। उन्होंने पत्र की प्रतिलिपि विधायक गणेश जोशी व पालिकाध्यक्ष को भी प्रेषित की है।

विधायक गणेश जोशी ने उपजिला चिकित्सालय व सिफन कोर्ट के बेघरों के लिए आवंटित भूमि का निरीक्षण किया
20 मसूरी। विधायक गणेश जोशी ने उपजिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया व वहां बन रहे पांच बैड के आईसीयू की प्रगति की समीक्षा की व कार्य धीमी गति से चलने पर कड़ी फटकार लगाई वहीं विधायक ने आईडीएच जाकर सिफन कोर्ट के बेघरों के आवास बनाने के लिए पालिका द्वारा दी गई भूमि का निरीक्षण किया।
विधायक गणेश जोशी ने मसूरी आकर उपजिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया व वहां पर आईसीयू के कार्य में विलंब होने पर कड़ी फटकार लगाई। उन्होंने कार्यदायी संस्था के अधिकारियों सहित सीएमओ से फोन पर वार्ता की व कहा कि इस कार्य में इतना विंलब होना ठीक नही है तथा इस कार्य को तेजी से पूरा किया जाय ताकि लोगों को इसका लाभ मिल सके। इस मौके पर विधायक जोशी ने बताया कि अस्पताल में उपकरणों के लिए 42 लाख रूपये की व्यवस्था की गई थी जो अस्पताल को मिल चुके हैं व शीघ्र ही अस्पताल अत्याधुनिक उपकरणों से सुसज्जित हो जायेगा। उन्होने कहा कि उन्होंने मसूरी मेें सभी आधुनिक सुविधाओं से युक्त अस्पताल बनाने का संकल्प लिया था जो अब पूरा हो रहा है और आने वाले समय में मसूरी में स्वास्थ्य की अच्छी सुविधाएं उपलब्ध होंगी व यहां के लोगों को बाहर नहीं जाना पडेगा।
वहीं दूसरी ओर विधायक गणेश जोशी ने आईडीएम जाकर नगर पालिका द्वारा सिफन कोर्ट के बेघरों के लिए आवास बनाने के लिए दी गई भूमि का निरीक्षण किया व कहा कि यहां पर शीघ्र ही आवास बनाये जायेगें ताकि सभी मजदूर आने वाले वर्ष की दीपावली यहीं मना सकें। इस मौके पर उन्होंने कहा कि सिफन कोर्ट में ये मजदूर अवैध बस्ती बना कर रह रहे थे उन्होंने अपने जीवन की कमाई का पाई पाई एकत्र कर घर बनाये थे लेकिन वहां पर रोवपे योजना के तहत पालिका व शासन ने उनके आवास खाली कराये लेकिन ये गरीब कहां जायें इनके लिए व्यवस्था की जा रही है अगर यहां भूमि कम पड़ी तो बचे हुए लोगों को अन्य स्थान पर भूमि उपलब्ध कराकर विस्थापित किया जायेगा। इस मौके पर नगर पालिका अभियंता रमेश बिष्ट व आरईएस विभाग के अभियंताओं ने संयुक्त रूप से भूमि का निरीक्षण किया। इस मौके पर भाजपा मंडल अध्यक्ष मोहन पेटवाल, महामंत्री कुशाल राणा, पालिका सभासद अरविंद सेमवाल, मुकेश धनाई, सपना शर्मा, कुणाल, अभिलाष, छावनी सभासद रमेश कन्नौजिया, पुष्पा पडियार, नरेंद्र पडियार सहित अस्पताल के चिकित्सक डा.प्रदीप राणा मौजूद रहे।

युवा कांग्रेस ने इंदिरा गांधी के जन्म दिवस पर याद किया व बच्चों को फल वितरित किए
21 मसूरी। मसूरी विधानसभा युवा कांग्रेस ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का जन्म दिन धूमधाम से मनाया इस मौके पर शहीद स्थल पर लगी इंदिरा गांधी की प्रतिमा पर माल्र्यापण किया व पुष्प अर्पित कर श्रद्धाजंलि दी वहीं बच्चों को फल वितरित किए।
मसूरी विधानसभा युवा कांग्रेस अध्यक्ष वसीम खान के नेतृत्व में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का जन्म दिन मनाया गया। उनके समर्थन में इंदिरा गांधी अमर रहे के नारे लगाये। इस मौके पर उन्होंने इंदिरा गांधी को याद करते हुए कहा कि उन्होंने देश को विश्व स्तरीय सम्मान दिलाया व अपने कुशल नेतृत्व से जहां विदेशों से मधुर संबंध बनाये वहीं देश के विकास में अहम योगदान ही नहीं दिया बल्कि देश के लिए शहीद हो गई। उनकी राजनैतिक कुशलता व प्रशासनिक क्षमता को देखते हुए उन्हंे आइरन लेडी कहा गया। उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी ने देश के विकास के साथ ही गरीबी हटाने के लिए अनेक योजनाएं चलाई व पडोसियों के साथ हर स्तर पर मजबूत संबंध बनाये। युवा कांग्रेस अध्यक्ष वसीम खान ने इस मौके पर उनके सपनों को साकार करने का आहवान किया। इस मौके पर पूर्व छावनी उपाध्यक्ष महेश चंद, जगपाल गुसांई, निखिल बहादुर, अर्जुन भंडारी, राजेश सजवाण, अमन कंडारी, महिपाल पंवार आदि मौजूद रहे।
बाक्स- इंदिरा गांधी का जन्म दिन मनाना शहर कांग्रेस कमेटी भूल गई। शहर कांग्रेस कमेटी की ओर से उनके जन्म दिन पर कोई भी कार्यक्रम नहीं किया गया और न ही उनकी प्रतिमा पर श्रद्धांजलि अर्पित करने की जहमत उठाई।

किसान यूनियन का मुख्यमंत्री आवास कूच, पुलिस ने ट्रांसपोर्ट नगर में रोका

प्रदेश अध्यक्ष सोमदत्त शर्मा पहले खड़े बाईं ओर
22 देहरादून। भारतीय किसान यूनियन (तोमर) द्वारा आज किसानों की समस्याओं को लेकर ट्रांसपोर्ट नगर से मुख्यमंत्री आवास कूच किया गया। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को बैरिकेटिंग लगाकर ट्रांसपोर्ट नगर में ही रोक दिया गया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों के साथ पुलिस की हल्की फुल्की झड़पें भी हुई।
इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष सोमदत्त शर्मा ने कहा कि किसानों की समस्याओं के चलते संगठन द्वारा कई बार मुख्यमंत्री व देश के प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन पे्रषित किये गये है। लेकिन सरकार द्वारा ज्ञापनों पर कोई संज्ञान नहीं लिया गया और वह रद्दी की टोकरी में डाल दिये गये। उन्होने कहा कि किसान महापचांयत द्वारा एक बार फिर अपनी मांगों के समाधान के लिए मुख्यमंत्री आवास कूच किया जा रहा था। जिन्हे पुलिस द्वारा बलपूर्वक ट्रांसपोर्ट नगर में रोक दिया गया है। उन्होने कहा कि किसान यूनियन की सरकार से मांग है कि जो हाल ही में तीन किसान विरोधी काले कानून पारित किये गये है उनका संगठन पुरजोर विरोध करता है और उनमें संशोधन की मांग करता है। कहा कि किसानों का गन्ना भुगतान का पैसा कई वर्षो से नहीं मिला है उनका भुगतान तुरन्त किया जाये। गन्ने के सीजन में ट्राली व ट्रकों को नो एंट्री से अलग रखा जाये। किसानों का बिजली पानी निशुल्क किया जाये। किसानों को साठ वर्ष की आयु होने पर उन्हे पेंशन दी जाये। किसानों को मण्डी समिति व आढ़तियों के कमीशन से दूर रखा जाये। पराली जलाने पर दर्ज मुकदमें वापस लिये जाये सहित अन्य मांगों का सरकार समाधान करे। उन्होने कहा कि किसान उत्थान ही देश का उत्थान होगा। नहीं तो किसान आत्महत्या के लिए मजबूर होता रहेगा।

विधानसभा अध्यक्ष ने ली अधिकारियों की बैठक
23 देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने आज विधानसभा के उच्च अधिकारियों के संग विभिन्न विषयों को लेकर बैठक की। इस दौरान अग्रवाल ने अधिकारियों से विधानसभा के हित में कार्य करने की बात कही।
विधानसभा भवन देहरादून में अपने निजी कार्यालय कक्ष में आहूत बैठक के दौरान अग्रवाल ने विधानसभा से संबंधित विभिन्न विषयों पर अधिकारियों के संग चर्चा की। अग्रवाल ने विधानसभा की विभिन्न समितियों की बैठकों के बारे में भी जानकारी ली साथ ही अधिकारियों की विभिन्न समस्याओं को भी सुना। इस अवसर पर अग्रवाल ने अधिकारियों से विधानसभा के हित में कार्य करने की बात कही एवं उत्तराखंड विधानसभा को देश में आदर्श विधानसभा के रूप में स्थापित करने के लिए सभी से अपना अहम योगदान देने की अपील की। उन्होंने कोरोना संक्रमण के चलते कार्मिकों से विशेष सतर्कता बरतते हुए कार्यालय में सरकार द्वारा दिये गए आवश्यक दिशा निर्देशों का पालन करने की भी बात कही।
इस अवसर पर विधानसभा के प्रभारी सचिव मुकेश सिंघल, अपर सचिव मदन कुंजवाल, अनु सचिव नरेंद्र रावत, अनु सचिव मनोज कुमार, पुस्तकालय अध्यक्ष वंदना हरव्यासी, प्रतिवेदक हेम गुरानी, अनु सचिव हेम पंत, प्रोटोकॉल अधिकारी मयंक सिंघल, वरिष्ठ निजी सचिव अजय अग्रवाल, सुरक्षा अधिकारी प्रदीप गुणवंत, व्यवस्था अधिकारी दीपचंद आदि मौजूद रहे।

महिलाओं के लिए बनाये गये कानूनों का किया जाता है दुरूपयोगः कौशिक
24 देहरादून। देश में गलत कानूनों के कारण पुरूषों का आर्थिक, शारीरिक व मानसिक शोषण किया जाता है। जिसके कारण महिलाओं की अपेक्षा पुरूष ज्यादा आत्महत्याएं कर रहेे है। महिलाएं झूठे आरोप लगाकर पुरूषों को जेल भिजवा रही है, और समझौते के नाम पर ब्लैकमेल कर रही है। लेकिन देश की संसद व न्यायालय मूकदर्शक बने हुए है।
पुरूष दिवस के अवसर पर फोरम कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान यह बात आज पुरूष अधिकार संरक्षण फोरम के अध्यक्ष अजय कौशिक द्वारा कही गयी। उन्होने कहा कि देश में महिलाओं व किन्नरों के लिए कानून बनाये गये है लेकिन आज तक पुरूषों के पक्ष में एक भी कानून नहीं बनाया गया है, जबकि पशु पक्षियों के लिए भी कानून बनाये गये है। उन्होने कहा कि महिलाओं के पक्ष में बनाये गये कानूनों का दुरूपयोग किया जा रहा है। इसके चलते महिलाएं पुरूषों की सम्पत्ति हथिया रही है या रूपया ऐंठ रही है। उन्होने कहा कि एक तरफ महिलाएं बराबर का अधिकार चाहती है वहीं दूसरी ओर भरण पोषण के लिए अदालतों का सहारा लेकर पुरूषों से पैसा एंठती है। जिसके चलते समाज में पुरूषों का उत्पीड़न किया जा रहा है। उन्होने कहा कि ऐसे कानून ही पुरूषों को कहीं न कहीं अपराधी बना रहे है। पत्रकार वार्ता फोरम के अध्यक्ष अजय कौशिक, पूजा थापा व प्रतीक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *