uttarakhand

13 अप्रैल से अनिश्चित कालीन धरना, आज 21वें दिन भी पूर्व की भांति शांति पूर्ण तरीके से जारी हैं

Pahado Ki Goonj

13 अप्रैल 2018 से अनिश्चित कालीन धरना, आज 21वें दिन (दिनांक 7 मई 2018) भी पूर्व की भांति शांति पूर्ण तरीके से जारी हैं।
20वें दिन के धरने में समर्थन के लिए कमला बहुगुणा, सुलोचना बहुगुणा, प्रिया सिल्सवाल, योधराज त्यागी, विनोद सुन्दरियाल, अरण्य रंजन पंवार, लक्ष्मी रावत, नेहा रतूड़ी, अरविंद, सी पी शर्मा आदि मौजूद रहे।

शीला रावत की प्रमुख मांगे-
1. विभाग में 7 वर्ष से निरन्तर कार्यरत महिला कर्मी को उत्पीड़न कर बाहर करने के निर्णय को वापस लेकर, ससम्मान विभाग में वापसी।
2. आउट सोर्स पर तैनात सभी कर्मियों की विभाग में स्थाई नियुक्ति।
3. प्रतिनियुक्ति पर तैनात निदेशक एम. पी. एस. बिष्ट पर महिला उत्पीड़न व तानाशाही को लेकर कार्यवाही।
4. विभाग में व्याप्त अनियमित्ताओं की निष्पक्ष जांच।
5. विभाग में महिला उत्पीड़न रोकने के लिए, वूमैन सेल का गठन

Next Post

उत्तराखंड के लोगों का प्रदर्शन संसद मार्ग पर आहूत हुंकार रैली में अपनी मांग मनवाने के लिए एकत्र हुए

उत्तराखंड की जनभावनाओं, लोकशाही, चौमुखी विकास एवं देश की सुरक्षा के प्रतीक उत्तराखंडियों की राजधानी को विकास के रूप में हमारी पहचान राजधानी गैरसैंण बनाने को साकार करने के लिए उत्तराखंड के लोगों का प्रदर्शन संसद मार्ग पर आहूत हुंकार रैली में अपनी मांग मनवाने के लिए एकत्र हुए आशा […]

You May Like