रूसी महिला एथलीट से छीना गया लंदन ओलंपिक स्वर्ण

Pahado Ki Goonj

खेल पंचाट न्यायालय (सीएएस) ने सेविनोवा के खिलाफ डोपिंग के एक मामले में शुक्रवार को यह आदेश पारित किया. सीएएस ने सेविनोवा को 26 जुलाई, 2010 से 19 अगस्त, 2013 के बीच प्रतिबंधित पदार्थो के सेवन का दोषी पाया. परिणामस्वरूप इस अवधि में सेविनोवा द्वारा जीते गए सभी पदक उनसे छीन लिए गए हैं.

सेविनोवा ने इस अवधि में विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप-2011 और यूरोपियन चैम्पियनशिप-2010 में भी स्वर्ण पदक जीते थे. विश्व चैम्पियनशिप-2013 में सेविनोवा द्वारा जीता गया कांस्य पदक भी उनसे छीन लिया गया है. इसके अलावा सीएएस ने सेविनोवा पर चार वर्ष का प्रतिबंध भी लगाया है. सेविनोवा पर यह प्रतिबंध 2015 से लागू होगा.

सीएएस ने अपने आदेश में कहा है, ‘स्पष्ट सबूतों के आधार पर सेविनोवा को बार्सिलोना में हुए यूरोपियन चैम्पियनशिप-2010 और मॉस्को में हुए विश्व चैम्पियनशिप-2013 के दौरान डोपिंग का दोषी पाया है. परिणामस्वरूप उन पर 24 अगस्त, 2015 से चार वर्ष के लिए प्रतिबंधित किया जाता है और 26 जुलाई, 2010 से 19 अगस्त, 2013 के बीच उनके द्वारा जीते गए सभी पदक, प्रदान की गई इनामी राशि, मेडल और हिस्सा लेने के लिए दी गई राशि उनसे वापस ली जाती है.’

Next Post

कलिंगा-यूपी विजार्ड्स के बीच मैच 2-2 से ड्रॉ

घरेलू दर्शकों के सामने खेल रहे विजार्ड्स ने वी. आर. रघुनाथ द्वारा 15वें मिनट में पेनाल्टी कॉर्नर पर किए गए गौल की बदौलत 1-0 से बढ़त हासिल की. वहीं कलिंगा लांसर्स जर्मनी के स्ट्राइकर मॉरित्ज फुस्र्ते द्वारा 15वें और 51वें मिनट में किए गए गोलों की बदौलत जीत के काफी […]