राजनाथ ने अधिकारियों से कहा, ‘जी हुजूरी’ बंद करें

Pahado Ki Goonj

11वें लोक सेवा दिवस के अवसर पर आयोजित समारोह के उद्घाटन सत्र के दौरान राजनाथ सिंह ने कहा, “लोक सेवकों के पास शक्तियां हैं। उन्हें फैसले देश हित और जन हित को ध्यान में रखकर लेने चाहिए। अगर कोई राजनीतिक प्रतिनिधि गलत आदेश दे रहा है तो उन्हें कानून का रास्ता दिखाने में डरें नहीं। उन्हें बताएं कि वे कानूनी रूप से गलत हैं और फाइल पर हस्ताक्षर न करें।” राजनाथ सिंह ने लोक सेवा अधिकारियों को ‘जी हुजूरी’ करने वाला अधिकारी न बनने की सलाह दी और कहा कि वे अपने अंत:करण से न भटकें।

उन्होंने कहा, “हां में हां न मिलाइए। अपने अंतरात्मा के साथ विश्वासघात मत करिए।” उन्होंने फैसले लेने से बचने वाले अधिकारियों को हल्के अंदाज में घुड़की भी दी और कहा कि इस तरह की हिचकिचाहट से देशहित को नुकसान पहुंच सकता है। राजनाथ ने कहा, “जरूरत पड़े तो अपने वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा करें और उनसे राय मशविरा करें, लेकिन फैसला लेने में किसी तरह की हिचकिचाहट नहीं होनी चाहिए।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

विपक्ष को एकजुट करने के लिए नीतीश ने, सोनिया से की मुलाकात

मुलाकात के दौरान नीतीश कुमार ने सोनिया गांधी से कहा कि वह राष्ट्रपति पद पर विपक्ष का उम्मीदवार तय करने के लिए गैर भाजपा दलों के नेताओं से बातचीत करें। नीतीश कुमार ने सोनिया गांधी को यह भी बताया कि विपक्षी एकता के लिए उनकी एनसीपी नेता शरद पवार, माकपा […]

You May Like