उत्तरकाशी :- टिहरी सांसद राज्य लक्ष्मी शाह की अध्यक्षता में जिला विकास एवं निगरानी समिति (दिशा )की बैठक । विकास परख योजनाओं को धरातलीय स्वरूप देने के लिए अधिकारियों को दिए दिशा निर्देश ।

Pahado Ki Goonj

उत्तरकाशी :- टिहरी सांसद राज्य लक्ष्मी शाह की अध्यक्षता में विकास एवं निगरानी समिति (दिशा )की बैठक । विकास परख योजनाओं को धरातलीय स्वरूप देने के लिए अधिकारियों को दिए दिशा निर्देश ।

उत्तरकाशी / (मदनपैन्यूली )

टिहरी सांसद माला राज्य लक्ष्मीशाह की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार लदाड़ी में जिला विकास एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक इुई। सांसद ने केन्द्रीय योजनाओं की गहन समीक्षा करते हुए विकासपरक योजनाओं को धरातलीय स्वरूप देने हेतु अधिकारियों को जरूरी दिशा- निर्देश दिए। सर्वप्रथम सांसद ने समिति के सदस्यों व नव निर्वाचित ब्लाक प्रमुखगणों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। तथा सभी पदाधिकारियों से आमजन की समस्याओं के निराकरण के प्रति हर संभव मिलकर काम करने की अपेक्षा की।

निगरानी समिति के सदस्य अमीचंद शाह ने मनरेगा के तहत हो रहे निर्माण कार्यो में सामाग्री अंशदान का भुगतान समय से नहीं करने का मामला उठाया। जिस पर जिला विकास अधिकारी के द्वारा बताया गया कि अवशेष कार्यो में जहां सामाग्री अंशदान का भुगतान नहीं किया गया है उन सभी कार्यो के अंशदान भुगतान की कार्यवाही मार्च तक कर ली जाएगी। उन्होंने बताया कि मनरेगा के अन्तर्गत जनपद उत्तरकाशी प्रदेश का पहला जिला है जो सबसे ज्यादा रोजगार देने व धन खर्च करने में आगे है। उन्होने कहा कि अब तक मनरेगा के अन्तर्गत 58 करोड़ खर्च किये जा चुके है तथा इस वित्तीय वर्ष में 80 करोड़ खर्च करने का लक्ष्य रखा गया है। ब्लाक प्रमुख डुण्डा शैलेन्द्र कोहली ने सदन को अवगत कराया कि मनरेगा के अन्तर्गत सार्वजनिक हित के कार्यों को प्राथमिकता दी जाय। उन्होंने बताया कि जो प्रस्ताव ग्राम पंचायत स्तर से खुली बैठक में पारित होते है उन कार्यो को ही सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाय। इसके अलावा उन्होंने बताया कि पटारा गांव में पानी की काफी किल्ल्त होती है जबकि वहां करीब छह सौ परिवार निवासरत है उन्होंने राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम से गांव को टेकअप करने की मांग की। इस पर अधिशासी अभियंता का कहना था कि हर घर जल योजना के तहत शीघ्र ही ऐसे सभी गांवों का सर्वे कर लिया जाएगा जहां पानी की समस्यां बनी रहती है। ताकि उन गांवों के लिए ठोस योजनाएं बनाई जा सके। उन्होंने बताया कि विभाग के पास वर्तमान में राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम के अन्तर्गत 16 योजनाएं है जिसमें से 6 योजनाओं में कार्य पूर्ण हो गया है तथा 8 योजनाओं में मार्च तक कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा। तथा शेष दो योजनाओं के कार्य आगामी वित्तीय वर्ष में पूर्ण कर लिये जाएंगे। ब्लाक प्रमुख मोरी बचन पंवार ने दिव्यांगजनों की पेंशन डाक विभाग द्वारा दिये जाने तथा सीएचसी मोरी में डाक्टरों की तैनाती करने व लिवाड़ी-फिताड़ी सड़क का प्रतिकर वितरण करने का मामला उठाया। जिस पर समाज कल्याण अधिकारी द्वारा बताया गया कि शासनादेश के अनुरूप पेंशनकर्ताओं के सीबीएससी खातों में पेंशन नियमित भेजी जा रही है। जहां कनेक्टिविटी नहीं हैं वहां डाक विभाग व मीनि बैंक के द्वारा ही पेंशन भेजी जा रही है। अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई का कहना था कि सड़क का प्रतिकर करीब 90 प्रतिशत वितरित किया जा चुका है। जिन्हें प्रतिकर नहीं मिला है उन्हें शीघ्र प्रतिकर दिया जाएगा। इस हेतु विभाग के पास पर्याप्त प्रतिकर की धनराशि उपलब्ध है।

 

सांसद टिहरी गढ़वाल ने आयुष्मान भारत योजना की समीक्षा करते हुए अब तक की प्रगति की जानकारी मुख्य चिकित्साधिकारी से ली। सीएमओं द्वारा बताया गया कि जनपद में कुल 1लाख 45 हजार 915 गोल्डन कार्ड बन चुके है। आगामी 15 मार्च से एक विशेष अभियान चलाकर छूटे हुए लोगों के गोल्डन कार्ड शीघ्र बनायें जाएंगे। सांसद ने प्रधानमंत्री कृषि सिचाई,प्रधानमंत्री आवास शहरी व ग्रामीण समेत विभिन्न केन्द्रीय योजनाओं की गहन समीक्षा की।

 

इससे पूर्व सांसद श्रीमती शाह ने 26 करोड़ 78 लाख 29 हजार की विभिन्न सड़कों का शिलान्यास किया। उन्होंने प्रधानमंत्री सड़क योजना के अन्तर्गत विधानसभा गंगोत्री में डीटी रोड़ से कुमार कोट मोटर मार्ग स्टेज प्रथम व द्वितीय का निर्माण कार्य लागत 506.76 लाख,ज्ञानसू से ज्ञाणजा मोटर मार्ग स्टेज द्वितीय का निर्माण कार्य लागत 275.23 लाख का शिलान्यास किया। वहीं विधानसभा यमुनोत्री में धरासू से तराकोट जिब्या मोटर मार्ग स्टैज द्वितीय का निर्माण कार्य लागत 1423.39लाख,खालसी मोटर मार्ग से गढ़वालगाड़ मोटर मार्ग स्टेज द्वितीय का निर्माण कार्य लागत 472.91 लाख का शिलान्यास किया। तथा सांसद निधि से चिन्यालीसौड़ व नौगांव के लिए एक-एक एम्बुलेंस की सौगात दी।। बैठक में ब्लाक प्रमुख डुण्डा शैलेन्द्र कोहली, मोरी बचन पंवार, भटवाड़ी विनीता रावत, चिन्यालीसौड़ वन्दना,पुरोला रीता पंवार, नगर पालिका अध्यक्ष रमेश सेमवाल,निगरानी समिति के सदस्य रावल हरीश सेमवाल, सहित अनेक अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

देश के सूफी संतों ने मानव कल्याण का संदेश दिया है - मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह

देहरादून,मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राष्ट्रीय एकता के प्रतीक ख़्वाजा ग़रीब नवाज़ के उर्स के लिए सद्भावना चादर भेंट की है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि हमारा देश सदियों से वसुधैव कुटुम्बकम एवं सर्वधर्म समभाव का प्रतीक रहा है और यहां की मिली जुली संस्कृति व अनेकता में एकता […]