बडकोट महाविद्यालय क्रीड़ा प्रतियोगिता के तीसरे दिन आज कबड्डी एवं बालीबाल प्रतियोगिताएं संपन्न।

बडकोट महाविद्यालय क्रीड़ा प्रतियोगिता के तीसरे दिन आज कबड्डी एवं बालीबाल प्रतियोगिताएं संपन्न।

बडकोट- ( मदनपैन्यूली)– राजेंद्र सिंह रावत राजकीय महाविद्यालय बड़कोट में वार्षिक क्रीड़ा प्रतियोगिताओं के तीसरे दिन कबड्डी एवं बालीबाल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ० पुष्पांजलि आर्य ने इन दोनों प्रतियोगिताओं का उद्घाटन कर छात्र-छात्राओं से परिचय लिया, तत्पश्चात प्रतियोगिताएं आरंभ हुई।कबड्डी प्रतियोगिता के छात्र वर्ग में विज्ञान संकाय की टीम विजेता रही जबकि कला संकाय की टीम उपविजेता रहे, खास बात यह कि दोनों टीमों में से 2 छात्र राष्ट्रीय स्तर पर तथा 3 छात्र राज्य स्तर पर खेल चुके हैं। वहीं छात्रा वर्ग में कला संकाय की टीम विजेता तथा विज्ञान संकाय की टीम उप विजेता रही। कबड्डी प्रतियोगिता के संयोजक डॉ० डी. एस. मेहरा तथा डॉ० जगदीश चंद्र रस्तोगी तथा निर्णायक की भूमिका में विनय शर्मा, राहुल राणा तथा अखिलेश थे। दूसरी और वॉलीबॉल प्रतियोगिता हुई जिसमें छात्र वर्ग में कला संकाय की टीम विजेता तथा विज्ञान संकाय की टीम उपविजेता रहे। वहीं छात्रा वर्ग में कला संकाय की टीम विजेता तथा विज्ञान संकाय की टीम उपविजेता रही। बालीबाल प्रतियोगिता के संयोजक डॉ० बी० पी० बहुगुणा तथा दिनेश शाह, दीपेंद्र रावत एवं दीपक जयाड़ा की देखरेख में संपन्न हुआ। क्रीड़ा प्रतियोगिता का आयोजन क्रीड़ा प्रभारी डॉ० युवराज शर्मा के दिशा-निर्देशन में संपन्न किया जा रहा है। इस अवसर पर डॉ० विजय बहुगुणा, डॉ० बी०एल० थपलियाल , डी. पी. गैरोला, श्रीमती संगीता रावत, श्री राकेश रमोला, श्रीमती पूनम, श्रीमती शीतल, सुनील आर्य आदि उपस्थित रहे।

One thought on “बडकोट महाविद्यालय क्रीड़ा प्रतियोगिता के तीसरे दिन आज कबड्डी एवं बालीबाल प्रतियोगिताएं संपन्न।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

महाराज ने देवडोलियों को महाकुंभ में स्नान के लिए समुचित व्यवस्था करने केलिए निर्देश दिये

देहरादून,(पहाडोंकीगूँज)। उत्तराखण्ड की देवसंस्कृति को वैश्विक तथा भव्य स्वरूप प्रदान करने के लिए स्थानीय देवी देवताओं की देव डोलियों के कुम्भ स्नान की सभी तैयारियाॅ व्यवस्थित रूप से की जाय। यह निर्देश प्रदेश के पर्यटन तथा सस्कृति एवं धर्मस्व मंत्री सतपाल महाराज ने विधान सभा स्थित कक्ष में संस्कृति विभाग, […]

You May Like