आज देश मे प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह होते तो डालर 50₹ होता उस नीति पर काम किया जाय।

Pahado Ki Goonj

आज देश मे प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह होते तो डालर 50₹ होता उस नीति पर काम किया जाय।

देश पर विश्व बैंक का 1,31,100 करोड़ डालर आज कर्ज है जो लगभग 9177000 करोड़ रुपये है । 125 करोड़ लोगों के हिस्से 7,34,160 / रुपया कर्जा प्रति व्यक्ति आता है देश की जनता के प्रति नागरिक 880000 बड़े उद्योगपति को जनता का धन दे दिया साथ ही नोट बन्दी कर रिजर्व बैंक के अनुसार 9लाख करोड़ का घुटाला होगया

बीजेपी सरकार को सत्ता में लाने के लिए मोदी ने देश की जनता से 15 लाख देने के झूठे वायदे कर मुंगेरी लाल के सपने दिखाया 15 लाख तो खाते में नहीं आये ।उल्टे बड़े उद्योगपति यों के 3लाख88हजार करोड़ रुपए का ऋण गूगुल की जनकारी से माफ् कर देश के प्रत्येक नागरिक का 880000 रुपया लुटाया जब मनमोहन सिंह सरकार ने अपनी अर्थव्यवस्था को लेकर मजबूत नीव बनाने का काम कर ₹ के चिन्ह से भारत के रुपये को विश्व में पहचान दिलाई है भारत की अर्थव्यवस्था विश्व की मंदी के समय मजबूत बनाने में अपना अमूल्य योगदान दिया।डालर 59₹पर था आज 70₹पर मोदी जी की नीति ने पहुंचाकर रख दिया।जिस देश की अर्थव्यवस्था को खराब करने के लिये वीपी सिंह की सरकार को बनाने में बीजेपी का साथ देने में अहम भूमिका रही देश की हालत अर्थ व्यवस्था में खराब कर ने के पैदा कर चन्द्र शेखर जी सरकार में विदेशी मुद्रा का भंडार 39 दिन का रह गया। देश की शाख इतनी गिराई की भारत का सोना विदेश भेज कर कर्ज लेने के लिए मजबूर कर दिया ।करोड़ों डॉलर उसको भेजने में खर्च करना पड़ गया ।विना वजह 6प्रधानमंत्री देश पर अनावश्यक चुनाव का बोझ डाला गया देश मे महंगाई कर्ज बढ़ा दिया ।देश मे जनता का ही नुकसान हो रहा है नेताओं की मौज होरही है।

जरा सोचो ठंडे दिमाग से की 3000 हजार करोड़ रुपए की मूर्ति पटेल जी की बनाई उतने धन से विश्व स्तरीय विश्व विद्यालय उनके नाम का बनाया जाता तो आज इंग्लैंड में भारत के खिलाफ गलत प्रचार करने का मौका अखबार को न मिलता

अब देश के हालात आज यह है तो हम कह सकते हैं कि मनमोहन सिंह सरकार होती तो डॉलर 49₹ पर आजाता आज देश का उपहास किया जारहा है।

देश हित मे अच्छे सुझाव विपक्ष के लेने में देश का फायदा होता है तो सुझाव ले लिया जाना चाहिए ताना साह बनकर देश बर्बाद करने से बचाने का प्रयास नहीं करना चाहिए।

देश मे कानून का राज नहीं हो रहा है सीबीआई निदेशक कह रहे हैं उसमें सरकार की दखल अंदाजी है।

जिन युवा ओं ने मोदी सरकार लाने के लिए मोदी

मोदी चीख कर साता सौंपी वह सड़क पर बेरोजगारी

भत्ता देने की बात कर,रोजगार की बात कर रहे हैं।

देश मे 100 ज्यादा अरब पति होगये बड़ी बड़ी कम्पनी यों को फायदे पहुचाने के लिए नियम कुछ भी आड़े रहे हैं किसानों को फसलों की कीमत नहीं मिल रही है । जिससे बेरोजगारी, अपराध बढ़ रहे हैं।आमजन परेशानी में जीने को मजबूर होगये ।गैस सब्सिडी सीधे ना देकर खाते से उपभोक्ताओं की ही जेब कट रही है। जिससे जनता अपने को लेकर देश की शोच ने के लिए चिंतन करने लगी है ।गैरसैंण धरना स्थल देहरादून बुद्धि जीवि आपस मे विचार व्यक्त करते हुए कह रहे थे कि मनमोहन सिंह ने सरकार 2 सफलता पूर्व कार्य कॉल में देश की आर्थिक स्थिति मजबूत करने में योगदान दिया है आज डॉ मनमोहन सिंह होते तो 50₹डॉलर होता।उस नीति पर काम किया जाय।

उनके कार्यकाल में भ्र्ष्टाचार करने वाले जेल गये बीजेपी मे वित्तमंत्री की बेटी उनकी वकील होने के चलते उनको भगाया जाने का आरोप कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लगरहे हैं।देश मे अराजकता का माहौल बड़े उद्योगपति यों के फायदे के लिए होगया है। देश की जनता का धन बड़े उद्योगपति को कर्ज माफ़ कर दिया गया है उनके इसबीच कॉफी मुनाफा कमाने का रिकार्ड है उन्हें अब उस माफ ऋण को स्व इच्छा से वापिस कर विश्व बैंक के कर्जे को लौटने में सरकार ,जनता की मदद करने के लिए देश हित मे काम करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

सौहार्द को आग मत लगाओ -बुलन्दशहर डॉ कुमार विश्वास

बुलन्दशहर में गौकसी पर कुमार विश्वास ने लिखी कविता सौहार्द को आग मत लगाओ बुलन्दशहर में गौकसी पर कुमार विश्वास ने लिखी कविता डॉ. कुमार विश्वास ने लिखा – “लुटे सियासत की मंडी में और झूठी रुसवाई में , जाने कितना वक़्त लगेगा रिश्तों की तुरपाई में…!” सत्ता के लिए […]

You May Like