देश की धरोहर हैं स्वतंत्रता संग्राम सेनानी- एसीएस राधा रतूड़ी

Pahado Ki Goonj
पहाड़ों की गूंज के लिए विशेष ,स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के उत्तराधिकारियों की विभिन्न मांगों के संबंध में जिलाधिकारियों को ए सी यस राधा रतूड़ी ने दिये दिशा-निर्देश
देहरादून, अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी की अध्यक्षता में शुक्रवार को सचिवालय में उत्तराखण्ड राज्य के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के उत्तराधिकारियों की विभिन्न मांगों के सम्बन्ध में सभी जिलाधिकारियों के साथ वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक सम्पन्न हुयी। अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम सेनानी किसी जनपद या राज्य तक सीमित नहीं हैं, बल्कि वह पूरे देश की धरोहर हैं। स्वतंत्रता दिवस के दिन सभी स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को समान रूप से सम्मान किया जाना चाहिए, चाहे वह किसी भी जनपद अथवा अन्य राज्य से सम्बन्धित क्यों न हों।
उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की सभी समस्याओं की माॅनिटरिंग की जाए। उनकी समस्याओं के निराकरण के लिए प्रत्येक जिले में नोडल अधिकारी नामित कर उनका फोन नम्बर भी प्रचारित किया जाए, ताकि स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को अपनी समस्याओं को लेकर इधर-उधर न भटकना पड़े। ़अपर मुख्य सचिव ने जिलाधिकारियों को यह भी निर्देश दिये कि जनपदों की सभी तहसीलों में उस क्षेत्र में निवास कर रहे स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की लिस्ट उपलब्ध करा दी जाए, जिससे तहसीलदार एवं अन्य अधिकारियों को अपने क्षेत्र में रह रहे स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की जानकारी रहे, एवं आवश्यकता पड़ने पर उनकी समस्याओं का समयबद्ध रूप से निराकरण किया जा सके। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की व्यवस्था बनायी जाए ताकि स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को अपने छोटे-छोटे कार्यों के लिए देहरादून और जनपद मुख्यालयों के चक्कर न काटने पड़ंे। बैठक में बताया गया कि परिवहन निगम की सरकारी बसों की भांति वोल्वो बसों में भी स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, उनकी विधवाओं को एक सहायक के साथ तथा प्रथम पीढ़ी के समस्त उत्तराधिकारियों को निशुल्क यात्रा सुविधा दी जा रही है। स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के प्रथम पीढ़ी के उत्तराधिकारियों को कुटुम्ब पेंशन दिये जाने के सम्बन्ध में उत्तराखण्ड के सभी जिलाधिकारियों द्वारा अवगत कराया गया कि प्राप्त हो रहे आवेदनों का परीक्षण करते हुए पेंशन दिये जाने के सम्बन्ध में कार्यवाही पूर्ण की जा चुकी है। इस पर अपर मुख्य सचिव द्वारा कुटुम्ब पेंशन दिये जाने हेतु निर्देश दिये गए। जिलाधिकारी अल्मोड़ा द्वारा बताया गया कि अल्मोड़ा निवासी वरिष्ठ स्वतंत्रता संग्राम सेनानी आनन्द सिंह बिष्ट के पैतृक आवास में हैण्ड पम्प लगाए जाना है, जिसकी शासन स्तर से स्वीकृति मिल गयी है एवं शीघ्र ही हैण्डपम्प लगा दिया जाएगा। इस अवसर पर अपर सचिव अतर सिंह एवं सम्बन्धित विभागों के अधिकारी सहित स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के उत्तराधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

यूजेवीएनएल भर्ती घोटाले के संबंध में मुख्य सचिव उत्तराखंड शासन को सौंपा ज्ञापन

यूजेवीएनएल भर्ती घोटाले के संबंध में मुख्य सचिव उत्तराखंड शासन देहरादून के कार्यालय में सौंपा ज्ञापन नवक्रान्ति स्वराज मोर्चा का कहना है कि उत्तराखंड के यूजेवीएनएल में बिना किसी लिखित परीक्षा, साक्षात्कार के बिना ही 200 पदों पर बिना शासन प्रशासन के अनुमोदन के फर्जी भर्तीया की […]

You May Like