आईएमए पीओपी में पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भारतीय सेना को मिले 306 युवा जांबाज अधिकारी

Pahado Ki Goonj

देहरादून। शनिवार को भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) की पासिंग आउट परेड में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बतौर रिव्यूइंग अफसर पहुंचे और परेड की सलामी ली। इस दौरान उन्होंने एक बड़ी घोषणा की।
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि आईएमए से गुजर रहे एनएच 72 पर सुरक्षा कारणों से ट्रैफिक जाम की अक्सर समस्या आती है। इस समस्या के निस्तारण के लिए यहां दो टनल पास बनाये जाएंगे। इसके लिए रक्षा मंत्रालय 32.33 करोड़ रुपये मुहैया कराएगा।
उन्होंने कहा कि इससे दूनवासियों को ही नहीं हरियाणा और हिमाचल जाने वाले लोगों को भी सुविधा मिलेगी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि आईएमए के तीनों कैंपस को जोड़ने के लिए दो अंडर पास बनेंगे। भारतीय सैन्य अकादमी में पासिंग आउट परेड के बाद आज 306 कैडेट बतौर अफसर भारतीय सेना का हिस्सा बन गए। साथ ही मित्र देशों के 71 कैडेट भी पास आउट होकर अपने-अपने देशों की फौज का हिस्सा बने। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बतौर रिव्यूइंग अफसर परेड की सलामी ली।
पीओपी में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी पहुंचे। डिप्टी कमांडेंट मेजर जनरल गुलाब सिंह रावत और कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल एसके झा ने पहले परेड की सलामी ली। इस दौरान देशभक्ति गीतों पर इन वीरों की कदम ताल देखते ही बन रही थी। इस दौरान इन भावी अफसरों के परिजन भी मौजूद रहे। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कैडेटों को ओवरऑल बेस्ट परफॉर्मेंस व अन्य उत्कृष्ट सम्मान से नवाजा। विनय विलास को स्वार्ड ऑफ ऑनर व स्वर्ण पदक दिया गया। पीकेंद्र सिंह को रजत और ध्रूव मेहला को कांस्य पदक दिया गया। शिवराज सिंह को सिल्वर मेडल (टीजी) मिला। भूटान के कुएंजांग वांगचुक सर्वश्रेष्ठ विदेशी कैडेट चुने गए। चीफ ऑफ आर्मी स्टॉफ बैनर केरन कंपनी को मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

घांस लेने गयी महिला को गुलदार ने बनाया निवाला

देहरादून। रुद्रप्रयाग जिले के जखोली विकासखंड के पपडासू गांव की एक महिला को गुलदार ने निवाला बना लिया। शुक्रवार को 55 वर्षीय महिला घास लेने गई थी। वह देर शाम तक घर नहीं लौटी, जिसके बाद परिजनों ने उसकी खोजबीन की, लेकिन देर रात तक भी उसका पता नहीं लगा। […]

You May Like