बीएसएनल की सेवा ठप होने से जनता परेशान

Pahado Ki Goonj

बीएसएनल की सेवा ठप होने से जनता परेशान

व्यूरो/बड़कोट। उत्तरकाशी जिले की यमुना घाटी में भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनल) की लचर सेवाओं से उपभोक्ता परेशान हैं । यहां आए दिन बीएसएनल की मोबाइल तथा ब्रॉडबैंड सेवा ठप पड़ी रहती है। जिसका खामियाजा क्षेत्र के उपभोक्ताओं सहित आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है। बीएसएनल की सेवा ठप रहने से जहां तहसील में लोगों को प्रमाण पत्र नहीं बन पा रहे हैं। वहीं यहां पर दूर दूर के गांव से आए लोगों को खाता खतौनी की नकल भी नहीं मिल पा रही है। जिससे लोगों में बीएसएनल की लचर सेवा को लेकर भारी आक्रोश है।
बड़कोट तहसील में इन दिनों बेरोजगार युवाओं की आय, निवास तथा जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर भारी भीड़ लगी हुई है। लेकिन नेटवर्क नहीं होने से युवाओं को समय से प्रमाण पत्र नहीं मिल पा रहे हैं। इनमें कई ऐसे बेरोजगार युवा है, जिन्होंने लोक सेवा आयोग में प्रवक्ता के पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन करने हैं। इसके लिए उन्हें जाति प्रमाण पत्र की आवश्यकता है। कई ऐसे युवा हैं, जिन का जाति प्रमाण पत्र का नवीनीकरण करवाने हैं और यदि नवीनीकरण नहीं हो पाया तो इन्हें फार्म भरने से वंचित रहना पड़ सकता है। वहीं शनिवार को बड़कोट तहसील में डामटा क्षेत्र से लोग खाता खतौनी के लिए पहुंचे थे, लेकिन बीएसएनएल की ब्रॉडबैंड सेवा ठप होने से उन्हें खाता खतौनी नहीं मिल पाई उनका कहना है कि वह तीन दिन से खाता खतौनी के लिए यहां पहुंच रहे हैं। लेकिन नेटवर्क ना होने के कारण उन्हें खाता खतौनी नहीं मिल पा रही है। साथ ही बीएसएनल के मोबाइल उपभोक्ताओं को भी नेटवर्क की समस्या से आए दिन जूझना पड़ता है।

सरकार को देखना है कि बी यस यन यल ही एक संचार कम्पनी है जिसने केदारनाथ,केरल आपदा में सबसे पहले संचार बहल कर राहत दी।टेली फोन कम्पनी को बजट देकर काम ले ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

पुरातत्व की धरोहर रहा विल्सन हाउस अब सिर्फ फ़ोटो मे जिंदा

पुरातत्व की धरोहर रहा विल्सन हाउस अब सिर्फ फ़ोटो मे जिंदा मदन पैन्यूली/उत्तरकाशी। 1997 विल्सन हाउस का अंतिम दिन था। इस दिन रात मे विल्सन हाउस जल कर खाक हुआ था। साबुत देवदार के पेडों से बने बेहतर नकाशी के इस हाउस में 65 कमरे हुआ करते थे। बताते हैं […]

You May Like