uttarakhand

आइये बीजेपी की खासियत भी अब जान लीजिए

Pahado Ki Goonj

*मोदी की वजह से सिर्फ 18 महीने के भीतर विश्व का सबसे ‘विशाल’ पार्टी कार्यालय का निर्माण करना सम्भव हो पाया।*

*आइये जरा इसकी खासियत भी अब जान लीजिए।*

➖ 18 अगस्त 2016 को शिलान्यास हुआ और 18 फरवरी 2018 को उद्घाटन भी हो गया।

➖ 1,70,000 वर्ग फुट में फैली है जनता के खून पसीने की कमाई से बना यह विशालकाय इमारत।

➖ पार्टी महासचिवों के अय्याशी के लिए, इसमें 70 अलग-अलग कमरे हैं।

➖ सबसे ऊपरी मंजिल पर 50 हजार से 80 करोड़ कमाने वाले जय शाह के पिता… अमित शाह बैठेंगे, जहाँ से पूरा कॉम्प्लेक्स दिखाई देगा।

➖ नयी इमारत में 20 हज़ार IT Cell के दलालों के बैठने की व्यवस्था की गयी है।

➖ यहाँ एक प्रिंटिंग प्रेस भी होगा जिसमें विरोधियों के खिलाफ पुस्तकें छापने की और फेंक फोटोशॉप बनाने की व्यवस्था हे

➖ देशभर में फैले…. आरएसएस, बजरंग दल, तथा NDA के अन्य सभी घटकों से, एक साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा लाइव संवाद किया जा सकेगा।

➖ विरोधियों द्वारा अपेक्षित प्रदर्शन से निपटने के लिये, यहां हर तरह के अस्त्र- सस्त्र आधुनिक हथियार इस भवन में रखा गया है।

▪और सबसे महत्वपूर्व बात जनता के लिए आवास 2022 में बनेगा.
▪ 100 स्मार्ट सिटी 2022 में बनेगा।
▪ महंगाई 2022 में कम होगी।
▪ दिन दहाड़े लूट पाट, छीना झपटी 2022 से कम होंगे।
▪ पेट्रोल डीज़ल 2022 से सस्ते होंगे।
▪ आतंकवाद 2022 में खत्म होगा।
▪ किसान आत्महत्या 2022 से बंद होगी।
▪ भ्रस्टाचार 2022 से खत्म होगा।
▪ मंदिर भी 2022 में ही बनेगा।

अरबों की लागत से भाजपा का मुख्यालय बनकर तैयार हो गया। अब पूछो कितने AIIMS या नए कॉलेज बने?
तो कहते हैं कि 70 साल के गड्ढे भरने में वक्त लगेगा 

यह 7 मंज़िला इमारत है जो
किसी भी पोलिटिकल पार्टी का सबसे बड़ा कार्यालय है।

05 महीनों में बीजेपी को 80,000 हज़ार करोड़ का चंदा मिला है,—-
ये चंदा किसने दिया क्या किसी को पता है ।सार्वजनिक करने पर पता लगेगा 110लाख हजार करोड़ जिनके कर्जे माफ किये उन्होंने कितना दिया???

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

जिस देश के राष्ट्रपति व उपराष्ट्रपति प्रधानमंत्री के आगे हाथ जोड़े खड़े हो उस देश का भविष्य क्या होगा

जिस देश के राष्ट्रपति व उपराष्ट्रपति प्रधानमंत्री के आगे हाथ जोड़े खड़े हो उस देश का भविष्य क्या होगा अंदाजा लगा सकते हो न्यायलय या सरकारी ऐजसिजं तो बहुत छोटी चीज है जागो भारतीयो जागो । भारत के अंदर अपने किश्म के स स कार को क्यों पनपने दिया जारहाहै। […]

You May Like