ज्ञानवापी स्थित मुक्ति मंडप के संदर्भ में मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री काशी विश्वनाथ मंदिर ट्रस्ट/ श्री काशी विश्वनाथ विशिष्ट क्षेत्र विकास परिषद वाराणसी को पत्र लिखा है

Pahado Ki Goonj

सेवा में ,

श्रीमान मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री काशी विश्वनाथ मंदिर ट्रस्ट/ श्री काशी विश्वनाथ विशिष्ट क्षेत्र विकास परिषद वाराणसी ।

विषय – ज्ञानवापी स्थित मुक्ति मंडप के संदर्भ में ।

महोदय,
प्रार्थी के संज्ञान में यह तथ्य आया है कि श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर परियोजना के क्रियान्वयन के अनुक्रम में ज्ञानवापी स्थित अति प्राचीन मुक्ति मंडप – जिसमें ज्ञानवापी कूप, व्यास गद्दी, विनायक व अन्य देवी देवताओं व नंदी स्थापित हैं को उनके मूल स्थान से हटा कर उक्त मुक्ति मंडप जो कि बारादरी के रूप में स्थित है को ध्वस्त किया जा सकता है ।

महोदय उक्त मुक्ति मंडप अति प्राचीन व पौराणिक महत्व का विषय वस्तु है जिससे करोड़ों-करोड़ सनातनधर्मियों की आस्था व विश्वास जुड़ा हुआ है, इसके अतिरिक्त उक्त मुक्ति मंडप वाद संख्या 610 सन 1991 प्राचीन मूर्ति बनाम अन्जुमन इंतेजामिया वगैरह जो कि वर्तमान में न्यायालय सिविल जज (सी०डी०) द्रुतगामी न्यायालय वाराणसी में विचाराधीन है की विषय वस्तु भी है। उक्त बाद में हम प्रार्थी द्वारा पक्षकार बनने हेतु प्रार्थना पत्र भी दिया गया है जिसमें सुनवाई हेतु दिनांक 4/3/21 की तिथि नियत है ।
अतः इस संबंध में आपसे विनम्र निवेदन है कि कृपया उक्त मुक्ति मण्डप के तोड़े जाने से संबंधित तथ्यों की सत्यता की पुष्टि अपने स्तर से करें और यदि यह तथ्य सत्य है तो हम प्रार्थी उक्त तथ्यों पर अपनी घोर आपत्ति दर्ज कराता हैं क्योंकि उक्त मुक्ति मंडप न सिर्फ धार्मिक महत्व है, बल्कि उक्त मुक्ति मण्डप का विधिक महत्व भी है क्योंकि उक्त मुक्ति मण्डप वाद संख्या 610 सन् 1991 का विषय वस्तु है और अति महत्वपूर्ण साक्ष्य भी है जिससे मूल काशी विश्वनाथ मंदिर व तथाकथित ज्ञानवापी मस्जिद प्रकरण का निराकरण भी होना है ।

अतएव आप श्रीमान जी से निवेदन है कि ज्ञानवापी स्थित उक्त मुक्ति मण्डप की वर्तमान दिशा व दशा में किसी भी प्रकार का कोई भी निर्माण, परिवर्तन, परिवर्धन, तोड़फोड़ व रद्दोबदल आदि ना करें ।

प्रार्थी आपका सदैव आभारी रहेगा ।

भवदीय

स्वामिश्रीः अविमुक्तेश्वरानन्दः सरस्वती
प्रवर धर्माधीश
परमधर्मसंसद् 1008

#विश्वनाथ_कोरिडोर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

विधानसभा में ताला जड़ने पहुंचे प्रदर्शनकारियों से हुई पुलिस की नोंकझोंक

देहरादून। उत्तराखण्ड की अस्थाई राजधानी देहरादून स्थित विधानसभा भवन में उत्तराखण्ड प्रदेश कांगे्रस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय के नेतृत्व में सरकार के खिलाफ एक सर्वदलीय एवं सर्वपक्षीय विरोध प्रदर्शन किया गया। इस दौरान किशोर उपाध्यक्ष, समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एसएन सचान एवं सीपीआई के समर भण्डारी की […]

You May Like