uttarakhand

है कोई इनसे आगे चौबट्टाखाल के 545 गांव से जनसंपर्क और समस्या सुनने में तय किया 12255 किमी जन्म भूमि में पद यात्रा

Pahado Ki Goonj

 

यू के डी विधायक प्रत्याशी विरेन्द्र सिंह रावत ने किया छ महीने मे चौबट्टाखाल विधानसभा के 545 गांव गांव से जनसंपर्क और समस्या सुनी और तय किया 12255 किलोमीटर का सफर

उत्तराखंड क्रांति दल के क्रन्तिकारी, राज्य आंदोलनकारी, राज्यहितकारी, अनगिनत इंटरनेशनल, नेशनल और स्टेट अवार्ड से सम्मानित विरेन्द्र सिंह रावत ने जुलाई 2021 से दिसम्बर 2021 छ महीने तक रात हो दिन हो,बरसात हो, गर्मी हो ठंड हो रोड खराब हो, बाघ का आतंक हो लेकिन अपने हौसले को नहीं छोड़ा अपनी अल्टो कार से साथियों के साथ चौबट्टाखाल विधानसभा के लगभग 545 गांव से जनसंपर्क किया और जनमानस की समस्या सुनी दुःख बहुत हुवा की आज 21 साल हो गए उत्तराखंड को बने कोई भी नेता पहाड़ नहीं चढ़ा केवल चढ़ा तो वोट के लिए चुनाव के वक़्त कुछ महीने के लिए जीता और देहरादून या दिल्ली मे जाकर बैठ गया करोड़ो का घोटाला किया अपनी सात पीढ़ी के लिए पैसे बटोरे जनता जाय भाड़ मे नेताओं को कोई फर्क नहीं पड़ा नेताओं ने खूब सरकारी सुविधा ली भूमाफियों को राज कराया नेताओं को कोई शर्म नहीं आई, उत्तराखंड क्रांति दल के विधायक प्रत्याशी घर घर जाकर जनमानस को समझा रहे है की बहुत हुवा लूट खसोट, भ्रष्टाचार, भूमाफियों का राज आपको क्या मिला जो मूल सुविधा है नहीं मिली आज तक स्वास्थ्य, शिक्षा, रोजगार, रोड, वृद्धा पेंशन, जंगली जानवर से बचाव, बंजार जमीन, मकान का पुनः निर्माण, खेती, बिजली, पानी आदि मूल सुविधा नहीं है हमारा पहाड़ नशे मे बर्बाद कर दिया इन 21 सालों मे इन कांग्रेस, बीजेपी ने अगर अभी हमारे उत्तराखंडी जनता नहीं जागी तो जो मूल निवासी है हिन्दू, मुस्लिम सिख ईसाई उत्तराखंड के चार सिपाही का अस्तित्व खतम हो जाएगा इसलिए आप सभी ने 10 साल कांग्रेस 10 साल बीजेपी को देख लिया है जिसने केवल केवल लुटा ही लुटा है इनके नेताओं ने, छेत्रीय पार्टी जिसने राज्य बनाया, बलिदान दिया, उत्तराखंड नाम दिया उत्तराखंड क्रांति दल का साथ दे चुनाव चिन्ह कुर्सी पर वोट देकर अपना भविष्य बनाए, अन्यथा हमारी कौम गढ़वाली, कुमाउनी, जौनसारी, गोर्खाली आदि मूल निवासी एक समय बाद खत्म हो जाएगी
विरेन्द्र सिंह रावत की सत्य बातो को जनता सुन रही है मनना कर रही है और मन बना भी लिया है की इस बार 2022 के चुनाव मे तीसरा विकल्प उत्तराखंड क्रांति दल पहला विकल्प बनकर विजय बनकर विधानसभा मे जाएगा और उत्तराखंड राज्य की धरोवर को बचाएगा, विरेन्द्र सिंह रावत के विचारों को सुनकर और गांव गांव मे पैदल चलकर समस्या को सुन रहे है
12255 किलोमीटर कार से और पैदल चलकर जनसंपर्क किया रावत ने कहा जनता का प्यार और आशीर्वाद मिल रहा है अगर जीतकर विधानसभा मे पंहुचा तो सुरु के दो साल मे ही चौबट्टाखाल विधानसभा के प्रत्येक गांव का विकास होगा हर बुजुर्ग, महिला, युवा, बालक, बालिकाओं को हर सुविधा मिलेगी, रोजगार मिलेगा, घर घर रोड मिलेगी, शिक्षा मिलेगी, स्वास्थ्य मिलेगा, स्थाई राजधानी गैरसैण बनेगी, भू क़ानून लागू होगा, हर व्यक्ति खुद मालिक बनेगा आदि महत्वपूर्ण सुविधा मिलेगी
विरेन्द्र सिंह रावत ने कहा जिस तरह चौबट्टाखाल विधानसभा से तीन मुख्यमंत्री मिले, एक कैबिनेट मंत्री मिला, विधायक मिले इन्होने केवल 21 साल मे अपना घर भर जनता को गुमराह किया
विरेन्द्र सिंह रावत विधायक बनकर सुरु के दो साल मे ही चौबट्टाखाल विधानसभा की तकदीर और तस्वीर बदल देगा वादा है हमारा जो कहेगा वो करेगा जनता का तह दिल से धन्यवाद अपार प्यार और आशीर्वाद देने के लिए

Next Post

सम्मान के लिए सरिता आर्य कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में शामिल हुई है।

  देहरादून पहाडोंकीगूँज,श्रीमती सरिता आर्य जी कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में शामिल हुई है।कांग्रेस पार्टी की प्रदेशाध्यक्ष महिला पूर्व विधायक नैनीताल की सरिता आर्य पहुची भाजपा मुख्यालय ।मुख्यालय में प्रदेशाध्यक्ष मदन कौशिक मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, प्रदेशउपाध्यक्ष ज्योति प्रसाद गैरोला आदि नेताओं ने स्वागत करते हुए उन्हें भाजपा का सदस्य […]

You May Like