जाने सचिवालय में बैठे बड़े-बड़े अधिकारियों की छुट्टी के बारे में जिन्हें लगता है कि शिक्षकों को ज्यादा छुट्टियां मिलती हैं

Pahado Ki Goonj

देहरादून:उत्तराखंड के सरकारी नोकरियों को करने वाले लोगों की छुट्टियों में असमानता है।आईये जाने सचिवालय में बैठे बड़े-बड़े अधिकारियों की छुट्टी के बारे में जिन्हें लगता है कि शिक्षकों को ज्यादा छुट्टियां मिलती हैं-
शनिवार का अवकाश- 52
रविवार का अवकाश- 52
गजटेड अवकाश- 40
उपार्जित अवकाश- 30
निबंधित अवकाश- 02
आकस्मिक अवकाश- 14
औसत चिकित्सकीय अवकाश- 10

कुल अवकाश की संख्या- 190
कार्यदिवस- 175 दिन

शिक्षा विभाग के अनुसार शिक्षकों का अवकाश- 129
कार्य दिवस- 236 दिन

न शिक्षकों को कोई उपार्जित अवकाश और न निबंधित अवकाश न सचिवालय कर्मचारियों व अधिकारियों की तरह शनिवार को कोई छुट्टी (हफ्ते में मात्र 5 कार्यदिवस). शिक्षकों को इन कर्मचारियों की तरह किसी प्रकार का न तो कोई चिकित्सकीय सुविधाएं मिलती हैं और न ही किसी प्रकार का टीए/डीए! साथ ही इन छुटियों का उपयोग भरस्टाचारी अधिकारी को बचाने में किया जारहा है

अभी समाजकल्याण के भरस्टाचारी अधकारी को बचाने में लगे हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

ख़ान मार्केट गैंग नहीं है, गैंग है तो मोदी का मीडिया सिस्टम है

ख़ान मार्केट गैंग नहीं है, गैंग है तो मोदी का मीडिया सिस्टम है दिल्ली:जगह-जगह पहली बार पहुंचने का इतिहास बनाने के शौक़ीन प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी पार्टी के मुख्यालय में ही पहली बार का इतिहास बना दिया। प्रधानमंत्री के नाम पर हुई प्रेस कांफ्रेंस में प्रधानमंत्री ने एक भी सवालों […]

You May Like