मुख्य सचिव सिंह की अध्यक्षता में व्यय वित्त समिति की बैठक में विभागों के 5 प्रस्तावों को स्वीकृत किया गया

Pahado Ki Goonj
सचिवालय में मंगलवार को मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में आयोजित व्यय वित्त समिति की बैठक में विभिन्न विभागों द्वारा प्रस्तुत 09 प्रस्तावों में से कुल 05 प्रस्तावों को स्वीकृत किया गया। अन्य अस्वीकृत 04 प्रस्तावों को आगामी वित्त समिति की बैठक में रखने के निर्देश मुख्य सचिव द्वारा दिए गये।
स्वीकृत प्रस्तावों में जनपद पौडी गढवाल में नवीन कलक्टेªट भवन के निर्माण कुल लागत 691.81 लाख, 499.24 लाख लागत के जनपद हरिद्वार में उत्तराखण्ड संस्कृत विश्व विद्यालय परिसर में 126 क्षमता का छात्रों के लिए छात्रावास, 1149.42 लाख लागत के जनपद पिथौरागढ के विधान सभा क्षेत्र गंगोलीहाट के अन्तर्गत हलियाडोब लछिमा ओखरानी नाचनी मोटर मार्ग का निर्माण कार्य, 4885.60 लाख लागत के जनपद टिहरी गढवाल के मुनि की रेती में कैलाश गेट के समीप गंगा नदी पर पैदल सेतु निर्माण कार्य, 1027.01 लाख लागत के जनपद ऊधमसिंह नगर के विधान सभा क्षेत्र सितारगंज के अन्तर्गत राज्य मार्ग संख्या-74 के 293 की.मी. सिरसा मोड से शक्ति फार्म जेल के मार्ग के 20 की.मी. में सूखी नदी पर 120 मी. स्पान आरसीसी च्तमेजतमेे सेतु का निर्माण कार्य शामिल है।
आपदा प्रबन्धन (पीआईयू) द्वारा जनपद उत्तरकाशी में पिलंग गांव के समीप पिलंग-जुडाव पैदल मार्ग पर पिलंगाड़ पर 120 मी. विस्तार के पैदल झूलापुल का निर्माण कार्य, जनपद देहरादून में महानिरीक्षक कारागार मुख्यालय के भवन का निर्माण, जनपद टिहरी गढवाल में जरकुल नदी पर पिपलोगी नामक स्थान पर 120 मी. विस्तार के पैदल झूला पुल का निर्माण कार्य, जनपद देहरादून के अन्तर्गत ऋषिकेश में पशुपालन विभाग के हिफर रियरिंग फार्म का निर्माण कार्य परियोजनाओं को पुनः परीक्षण कर आगामी व्यय वित्त समिति में रखने के निर्देश संबंधित सचिवों एवं विभागाध्यक्षों को दिये।
इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव ओम प्रकाश, सचिव आर. मीनाक्षी सुन्दरम, प्रभारी सचिव इन्दुधर बौडाई, राजस्व के प्रभारी सचिव विनोद रतूडी सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

संसद पर हमले में शहीद हुये लोगों की17वीं वर्षी पर शत शत नमन

तारीख 13 दिसंबर 2001, समय :सुबह 11 बजकर 28 मिनट, स्ठान- संसद भवन इस दिन संसद में शीतकालीन सत्र चल रहा था। नेतागण संसद में मौजूद थे, किसी बात को लेकर पक्ष और विपक्ष में जबरदस्त हंगामे के बाद दोनों सदनों की कार्यवाही 40 मिनट के लिए स्थगित की जा […]

You May Like