यूपी में बूचड़खानों को नियमन के लिए समय देना चाहिए: ओवैसी

Pahado Ki Goonj

ओवैसी ने संसद से बाहर कहा, “यह पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी (सपा) की सरकार की गलती है कि उसने बूचड़खानों को नियमित नहीं किया। सरकार को उन्हें बंद करने की बजाय नियमित किए जाने के लिए समय देना चाहिए।” उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि उत्तर प्रदेश में न केवल अवैध, बल्कि कुछ वैध बूचड़खाने भी बंद किए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा, “यदि सरकार काला धन जमा रखने वालों को अपनी संपत्ति घोषित करने और उसे वैध बनाने का समय दे सकती है, तो फिर बूचड़खानों को नियमित करने के लिए समय क्यों नहीं दिया जा सकता? इसका अर्थ यह है कि वे किसी खास समुदाय को निशाना बना रहे हैं।” ओवैसी ने कहा कि भारत से भैंस के मांस के निर्यात का कारोबार 26,000 करोड़ रुपये का है और आधी से भी ज्यादा निर्यात इकाइयां उत्तर प्रदेश में हैं। एआईएमआईएम प्रमुख ने कहा कि सरकार को यह तय करने का अधिकार नहीं है कि किसी को क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

बांग्लादेश आतंकवादी हमले के मद्देनजर बीएसएफ हाई अलर्ट पर

बीएसएफ के उप महानिरीक्षक हरदीप सिंह ने सोमवार को बताया, “भारत-बांग्लादेश की 4,096 किलोमीटर लंबी सीमा पर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। बीएसएफ जवानों को अंतर्राष्ट्रीय सीमाओं पर कड़ी निगरानी रखने को कहा गया है।” उन्होंने कहा, “बीएसएफ जवानों को उन सीमा क्षेत्रों पर सर्वाधिक निगरानी रखने को कहा […]

You May Like