बोको हराम के हमलों में अप्रैल से अभी तक 400 लोग मारे गये: एमनेस्टी

Pahado Ki Goonj

लागोस। अधिकार समूह एमनेस्टी ने दावा किया है कि नाइजीरिया और कैमरून में चरमपंथी गुट बोको हराम के हमलों में तेजी आने के बाद, अप्रैल से अभी तक करीब 400 लोगों की जान जा चुकी है और यह आंकड़ा पिछले पांच माह के दौरान मारे गये लोगों की संख्या से दोगुना है। एक बयान में एमनेस्टी ने कहा कि अक्सर युवा महिलाओं अथवा लड़कियों को भीड़ वाले इलाकों में विस्फोटक ले जाने और विस्फोट करने के लिए बाध्य किया जाता है। इस प्रकार के आत्मघाती हमले बढ़ने से दोनों देशों में कम से कम 381 नागरिक मारे गये हैं।

पश्चिमी और मध्य अफ्रीका में एमनेस्टी इंटरनेशनल के निदेशक अलीयन टाइने ने कहा, ‘‘बोको हराम के चरमपंथी एक बार फिर से बड़े पैमाने पर युद्ध अपराध कर रहे हैं। वह लोग ज्यादा से ज्यादा लोगों को मारने के एकमात्र इरादे से अनेक युवा लड़कियों को विस्फोटक ले जाने और विस्फोट करने के लिये मजबूर करते हैं।’’ उन्होंने कहा कि आत्मघाती बम विस्फोटों में तेज बढ़ोतरी एवं हिंसा की यह लहर चौंकाने वाली है जो लाखों नागरिकों के लिए सुरक्षा और सहायता की तत्काल जरूरत पर जोर देती है। नाइजीरिया, कैमरून और अन्य देशों की सरकारों को चाहिए कि वे अपने नागरिकों को आतंकवाद से बचाने के लिए तेजी से कार्रवाई करें।

एमनेस्टी ने कहा कि अप्रैल के बाद से अभी तक नाइजीरिया में कम से कम 223 नागरिक मारे गये हैं। अधिकार समूह का यह भी कहना है कि मारे गये लोगों की वास्तविक संख्या इससे कहीं अधिक हो सकती है। इसमें कहा गया है कि मई और अगस्त के दौरान, पिछले चार महीनों की तुलना में सात गुना अधिक नागरिक मारे गए हैं, जबकि केवल अगस्त में 100 नागरिक मारे गये थे।

Next Post

23 और मरीजों को लगा डेंगू का डंक, 11 में स्वाइन फ्लू की पुष्टि

देहरादून। उत्तराखंड में मानसून के अंतिम पड़ाव पर डेंगू का डंक गहरा होता जा रहा है। साथ ही स्वाइन फ्लू के मरीज भी पढ़ रहे हैं। जनपद देहरादून में 23 और मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई। जिसके बाद डेगू पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़कर 68 पहुंच गई है। डेंगू […]