लॉक डाउन की अवधि में कोविड-19 के कारण रुके विकास कार्यों को सावधानी पूर्वक पूर्ण किया जाएगा :- दीपक बिजल्वाण।

Pahado Ki Goonj

लॉक डाउन की अवधि में कोविड-19 के कारण रुके विकास कार्यों को सावधानी पूर्वक पूर्ण किया जाएगा :- दीपक बिजल्वाण । बड़कोट :- (मदनपैन्यूली) रविवार उत्तरकाशी जनपद में कोविड-19 के कारण अवरुद्ध विकास कार्यों को शुरू कराने के लिए उत्तरकाशी जिला पंचायत अध्यक्ष दीपक बिजल्वाण ने यमुनाघाटी क्षेत्र का भ्रमण किया । भ्रमण के दौरान उन्होंने पंचायत प्रतिनिधियों से मुलाकात कर गांव के विकास तथा इसकी रूप रेख को लेकर चर्चा की।यमुनाघाटी भ्रमण के मौके पर जिला पंचायत अध्यक्ष दीपक बिजल्वाण ने पत्रकारों से बातचीत में कहा है कि कोविड-19 से सावधानी पूर्वक कोरोना को हराकर हम सभी को कोविड के बीच पूरी सतर्कता के साथ आगे बढ़ना होगा। उन्होंने कहा कि वे क्षेत्र में पंचायत प्रतिनिधियों से मिलकर गांव के विकास की रूपरेखा पर लगातार बात कर रहे हैं। जिला पंचायत द्वारा जिले के गलग अलग स्थानों पर बड़े प्रोजेक्ट्स तैयार किए जा रहे हैं, जिनमें शुरुआती तौर पर गंगाघाटी के बंदरकोट में पिकनिक स्पॉट तैयार किया जा रहा है तथा यमुनाघाटी के गंगानी को भी पर्यटन के दृष्टिगत विकसित किया जाएगा। जिनमें स्थानीय युवाओं को रोजगार से भी जोड़ा जा सके। जिला पंचायत द्वारा मनरेगा के तहत 12 करोड़ का बजट स्वीकृत किया गया है तथा कुछ बजट पुराना भी शेष है। लिहाजा इस बजट से गांव के विकास कार्य को शुरू कराया जायेगा । जिससे किसी न किसी रूप में स्थानीय लोग रोजगार से जुड़ सकें ।श्री बिजल्वाण ने कहा कि चारधाम यात्रा का विरोध करना कोई समाधान नहीं है। सावधानी के साथ चारधाम यात्रा चलनी चाहिए। चारधाम यात्रा से यात्रा मार्गों पर हर वर्ग के कई लोगों का रोजगार जुड़ा हुआ है। जिसे कोविड ने पूरी तरह ठप कर दिया है और अब आगे भी कोविड की यह स्थिति कब तक बनी रहती है, हमें तब तक इस तरह चुपचाप बैठना नहीं रहना होगा । वही चार धाम यात्रा यात्रा का विरोध कर रहे तीर्थ पुरोहित के लिए जिला अध्यक्ष ने कहा की पुरोहितों को उनका अधिकार व सम्मान मिलना चाहिए देवस्थानम एक्ट को लेकर सरकार को संशोधन लाना चाहिए चार धाम यात्रा शुरू करवाने को लेकर जिला पंचायत अध्यक्ष तीर्थ पुरोहितों के साथ भी वार्ता करेंगे , इस मौके पर विजयपाल रावत, अजय रावत, उपेंद्र असवाल सहित अनेक पंचायत प्रतिनिधि मौजूद थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

प्रवासियों से रजिस्ट्रेशन के नाम पर अवैध वसूली, जांच में जुटा प्रशासन

रुड़की। उत्तराखंड में प्रवासियों के आने का सिलसिला लगातार जारी है। उत्तराखंड के नारसन बॉर्डर पर सभी लोगों का रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। वहीं, नारसन बॉर्डर पर कई लोग प्रवासियों की मजबूरी का फायदा उठाकर उनसे रजिस्ट्रेशन और पास बनाने के नाम पर अवैध वसूली कर रहे हैं। देर […]

You May Like