केदारनाथ मंदिर को लगभग 21 कुंतल फूलों से सजाया जायेगा- बी.डी.सिंह

Pahado Ki Goonj
रुद्रप्रयाग। इस बार केदारनाथ मंदिर को लगभग 21 कुंतल फूलों से सजाया जायेगा।
मंदिर को सजाने में अनेक प्रकार के पुष्पों का प्रयोग किया जायेगा। 28 अप्रैल सांय तक बाबा केदार का मंदिर सज जायेगा। मंदिर को सजाने के लिये फूलों की डिमांड दे दी गई है। 28 अप्रैल सुबह तक ऋषिकेश के साथ ही अन्य स्थानों से फूल केदारनाथ पहुंच जाएंगे।
29 अप्रैल से शुरू हो रही भगवान केदारनाथ की यात्रा तैयारियां बद्री-केदार मंदिर समिति ने भी जोर-शोर से शुरू कर दी हैं। यात्रा तैयारियांे को लेकर समिति की एक एडवांस टीम पहले ही केदारनाथ जा चुकी है। इस बार मंदिर समिति बाबा केदार के मंदिर को भव्य तरीके से सजायेगी। मंदिर को सजाने में 15 से 21 कुंतल तक पफूलों का उपयोग किया जायेगा।
खासकर मंदिर के आगे और पीछे वाले दरवाजे को भव्य तरीके से सजाया जायेगा। इन दिनों मंदिर समिति के कर्मचारी मंदिर में रंग-रौबन आदि का कार्य कर रहे हैं।
मंदिर समिति इस बार नई व्यवस्था करने जा रही है। केदारनाथ पहुंचने वाले तीर्थ यात्रियों को ठंड से बचाने के लिये समिति की ओर से यात्रियों को निशुल्क कंबल दिये जाएंगे। यात्री इन कंबलों का उपयोग करके वापस जाते समय समिति के कर्मचारियों को वापस करेंगे।
मंदिर समिति के मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह ने बताया कि मंदिर को सजाने का कार्य शुरू हो गया है। कपाट खुलने के अवसर पर मंदिर तीर्थ यात्रियों को भव्य नजर आयेगा। मंदिर को 15 से 20 कुंतल तक फूलों से सजाया जायेगा। मंदिर को सजाने में अलग-अलग प्रकार के फूलों का उपयोग किया जायेगा। इसके अतिरिक्त मंदिर को लाइटों से भी सजाया जायेगा। उन्होंने कहा कि मंदिर समिति की एडवांस टीम केदारनाथ में व्यवस्थाएं जुटा रही है। 28 अप्रैल तक मंदिर फूल और लाइटों से सज जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

अपनी संस्कृति बचायें ज़मीन पर बैठकर खाना खाने से लाभ उठायें

अपनी संस्कृति बचायेंज़मीन पर बैठकर खाना खाने से लाभ उठायें प्राचीनकाल से चली आ रही ज़मीन में खाने की परंपरा को आज लोग नकारने लगे हैं या यूं कहें कि ज़मीन पर बैठकर भोजन करने में वे अब शर्मिंदगी महसूस करने लगे हैं। कुर्सी टेबल पर बैठकर खाना खाना सभ्य […]

You May Like