आधे से ज्यादा मत पत्र हस्ताक्षर नही होने से प्रधान बनने में रहगये

Pahado Ki Goonj

211 मतो में से 111 मतों में नही थे पीठासीन अधिकारी हस्ताक्षर

अनुज नेगी
पौड़ी।जनपद पौड़ी गढ़वाल के एकेश्वर ब्लॉक के मुसासू ग्रामसभा के पोलिंग बूथ के पीठासीन अधिकारी ने प्रधान की राजनीतिक चौपट कर दी है।
जनपद पौड़ी गढ़वाल के एकेश्वर ब्लॉक के तहत ग्रामसभा मुसासू में प्रधान पद के लिए मुसासू
पोलिंग बूथ लिए 11 अक्टूबर को हुए मतदान हुआ।

जिसमे प्रधान पद में लिए कुल 211 मत पड़े,जिनमे से 111 मत इसलिए निरस्त कर दिए गए कि उनमें संबंधित पीठासीन अधिकारी के हस्ताक्षर ही नहीं थे। शेष 100 वोट में ही फैसला सुना दिया गया। इससे ग्रामसभा की तहत आने वाले मतदाता हैरान परेशान हैं कि आखिर उनकी क्या गलती है जो कि उनके मतों को निरस्त किया गया।

पीठासीन अधिकारी की गलती के कारण प्रधान की राजनीति चौपट हो गई है,जिससे
ग्रामीणों में काफी आक्रोश है।

हालांकि इस मामले में वर्ष 2006 के हाईकोर्ट के रुद्रप्रयाग जौला गाँव मे कालिका प्रसाद प्रकरण में बिना हस्ताक्षर किए गए मतों को वैध माना गया है । डिसीजन की कॉपी देखी जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

उत्तराखंड में कुछ मास्टर नहीं समझते प्रदेश सरकार को वह लोकतंत्र का भविष्य कर रहे चौपट

देहरादून, उत्तराखंड में कुछ मास्टर लोग अपनी मर्ज़ी से की सालो से एक जगह जमे है उनके आका सरकार के साथ हैं या सरकार में हैं वह यह नहीं समझते कि हमे बेतन जनता के ऊपर कर्जा करके दिया जारहा है कर्जे के वेतन पारहरे कर्मचारियों को मन मर्जी सार्वजनिक […]

You May Like