त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन-2019 को सम्पन्न कराने के लिए आगामी 2 अक्टूबर तक पीठासीन, मतदान अधिकारियों को प्रशिक्षण

Pahado Ki Goonj

देहरादून , त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन-2019 को निष्पक्ष, शांतिपूर्वक सम्पन्न कराने के लिए आगामी 2 अक्टूबर तक पीठासीन, मतदान अधिकारियों को प्रशिक्षण


देहरादून दिनांक 26 सितम्बर 2019, त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन-2019 को निष्पक्ष, शांतिपूर्वक सम्पन्न कराने के लिए आज से आगामी 2 अक्टूबर तक पीठासीन, मतदान अधिकारियों को प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया है। आज एनएम घोष प्रेक्षागृह ओ.एन.जी.सी में उप जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत अपर जिलाधिकारी बीर सिंह बुदियाल की अध्यक्षता में मास्टर ट्रेनर प्रवीन गोस्वामी, नमित रमोला एवं एम जफरखान द्वारा दिया गया।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में सम्बोधित करते हुए अपर जिलाधिकारी वि/रा ने कहा कि निर्वाचन लोकतंत्र का महत्वपूर्ण अंग है इसे निष्पक्ष, पारदर्शिता एवं शान्तिपूर्वक ढंग से सम्पन्न कराना हम सबका दायित्व है। उन्होंने निर्वाचन हेतु तैनात सभी अधिकारियों से कहा कि वे निर्वाचन के कार्य को गम्भीरता से लेते हुए सजग होकर अपने दायित्वों का निर्वहन करें। उन्होंने पीठासीन अधिकारियों से कहा कि अपनी हस्तपुस्तिका का भलीभांति अध्ययन कर लें और किसी प्रकार की परेशानी एवं शंका पर कन्ट्रोलरूम अथवा उच्चाधिकारियों से सम्पर्क कर शंका का समाधान करा लें। आज आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में 332 पीठसीन, 332 मतदान अधिकारी प्रथम, 332 मतदान अधिकारी द्वितीय को प्रशिक्षिण दिया जाना था। प्रशिक्षण में 307 पीठासीन अधिकारी, 312 मतदान अधिकारी प्रथम तथा 310 मतदान अधिकारी द्वितीय उपस्थित हुए। जबति 25 पीठासीन अधिकारी, 20 मतदान अधिकारी प्रथम तथा 22 मतदान अधिकारी द्वितीय अनुपस्थित रहे। उन्होंने अनुपस्थित मतदान कार्मिकों को तत्काल उपस्थित होकर प्रशिक्षण लेने के निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि द्वितीय चरण के प्रशिक्षण में अनुपस्थित रहने पर ऐसे कार्मिकों के विरूद्ध लोकप्रतिनिधत्व अधिनियम के अन्तर्गत कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।

कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया है। आज एनएम घोष प्रेक्षागृह ओ.एन.जी.सी में उप जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत अपर जिलाधिकारी बीर सिंह बुदियाल की अध्यक्षता में मास्टर ट्रेनर प्रवीन गोस्वामी, नमित रमोला एवं एम जफरखान द्वारा दिया गया।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में सम्बोधित करते हुए अपर जिलाधिकारी वित ,रा ने कहा कि निर्वाचन लोकतंत्र का महत्वपूर्ण अंग है इसे निष्पक्ष, पारदर्शिता एवं शान्तिपूर्वक ढंग से सम्पन्न कराना हम सबका दायित्व है। उन्होंने निर्वाचन हेतु तैनात सभी अधिकारियों से कहा कि वे निर्वाचन के कार्य को गम्भीरता से लेते हुए सजग होकर अपने दायित्वों का निर्वहन करें। उन्होंने पीठासीन अधिकारियों से कहा कि अपनी हस्तपुस्तिका का भलीभांति अध्ययन कर लें और किसी प्रकार की परेशानी एवं शंका पर कन्ट्रोलरूम अथवा उच्चाधिकारियों से सम्पर्क कर शंका का समाधान करा लें। आज आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में 332 पीठसीन, 332 मतदान अधिकारी प्रथम, 332 मतदान अधिकारी द्वितीय को प्रशिक्षिण दिया जाना था। प्रशिक्षण में 307 पीठासीन अधिकारी, 312 मतदान अधिकारी प्रथम तथा 310 मतदान अधिकारी द्वितीय उपस्थित हुए। जबति 25 पीठासीन अधिकारी, 20 मतदान अधिकारी प्रथम तथा 22 मतदान अधिकारी द्वितीय अनुपस्थित रहे। उन्होंने अनुपस्थित मतदान कार्मिकों को तत्काल उपस्थित होकर प्रशिक्षण लेने के निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि द्वितीय चरण के प्रशिक्षण में अनुपस्थित रहने पर ऐसे कार्मिकों के विरूद्ध लोकप्रतिनिधत्व अधिनियम के अन्तर्गत कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

उत्तराखण्ड में विभागों के पुनर्गठन की प्रक्रिया शुरू

देहरादून। प्रदेश में त्रिवेंद्र रावत सरकार ने प्रशासनिक बॉडी को चुस्त-दुरुस्त करने की कवायद से शुरू कर दी है। मुख्यमंत्री के कड़े निर्देश पर विभागों में कर्मचारियों की छंटनी तो चल ही रही है। अब विभागों के पुनर्गठन की प्रक्रिया भी शुरु कर दी गई है। राज्य में इसकी शुरुआत […]

You May Like