मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने दी प्रदेशवासियों को नववर्ष की शुभकामना।

Pahado Ki Goonj
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने दी प्रदेशवासियों को नववर्ष की शुभकामना।
देहरादून:मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रदेशवासियों को नववर्ष 2019 की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं दी है। नववर्ष की पूर्व संध्या पर जारी अपने संदेश में मुख्यमंत्री ने सभी प्रदेशवासियों के सुख, शांति व समृद्धि की कामना की है। मुख्यमंत्री ने कहा जब से मुझे राज्य की सेवा करने का मौका मिला तब से मन, वचन व कर्म से सेवा के इस धर्म को निभाने का प्रयास कर रहा हूं। वर्ष 2018 में हमारी सरकार ने प्रदेश के समग्र विकास व आम आदमी तक जनकल्याणकारी योजनाओं को पहुंचाने का प्रयास किया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज के हर वर्ग के उत्थान के लिए इस वर्ष राज्य सरकार ने कुछ प्रमुख फैसले लिए। प्रदेश में हर व्यक्ति तक सहजता से स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचे। कोई भी व्यक्ति धन के अभाव में ईलाज से वंचित न रहे। इसके लिए प्रदेश में अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत प्रदेश के सभी 23 लाख परिवारों को पांच लाख रूपये तक की निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधा प्रदान की जा रही है। उत्तराखण्ड में औद्योगिक निवेशों को बढ़ावा देने के के लिए उद्योगों के लिए सरल पाॅलिसी बनाई गई है। निवेश के प्रस्तावों के लिए सिंगल विंडो क्लीयरेंस दी जा रही है। 7-8 अक्टूबर 2018 को उत्तराखण्ड में पहली बार इन्वेस्टर समिट का आयोजन किया गया। इस समिट के दौरान 01 लाख 24 हजार करोड़ रूपये के प्रस्तावों पर एमओयू हस्ताक्षरित किये गये। पर्वतीय क्षेत्रों में लघु उद्योगों के लिए 40 हजार करोड़ रूपये के एमओयू हस्ताक्षरित किये गये। मुख्यमंत्री ने कहा कि कि उत्तराखण्ड को आर्थिक मजबूती प्रदान करने के लिए पर्यटन महत्वपूर्ण क्षेत्र है। पर्यटन के जरिये हमने प्रदेश की तस्वीर बदलने का प्रयास किया है। राज्य के 13 जिलों में 13 नये पर्यटन स्थल विकसित किये जा रहे हैं। पर्यटन को उद्योग का दर्जा देकर एडवेंचर टूरिज्म को बढ़ावा दिया जा रहा है। उत्त्राखण्ड में नेचर, एडवेंचर, योग-आध्यात्म और वाईल्ड लाइफ टूरिज्म पर विशेष फोकस किया जा रहा है। ग्रामीण पर्यटन को संवारने के लिए 5 हजार नये होम स्टे बनाने का लक्ष्य रखा गया है।
विकास की दृष्टि से उत्तराखण्ड देश के अग्रणी राज्यों में शुमार हो इसके लिये राज्यहित में अनेक नीतिगत निर्णय लिये गये है। हमारा प्रयास योजनाओं के धरातलीय क्रियान्वयन का है। समाज के अन्तिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति तक विकास योजनाओं की पहुंच सुनिश्चित हो, इसके लिये समेकित प्रयास किये जा रहे है। उन्होंने कहा कि लोक सेवकों के स्थानांतरण में पारदर्शिता लाने और सरकारी मशीनरी को सुदृढ़ करने के लिये ट्रान्सफर एक्ट बनाया गया है। पारदर्शी, भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन की दिशा में कदम बढ़ाते हुए सरकार द्वारा भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरों टालरेंस नीति अपनाई गई। आज आर्थिक अनुशासन के चलते खनन, ऊर्जा, परिवहन जैसे कई विभाग घाटे से उभर रहे हैं। देहरादून में मोहकमपुर फ्लाईओवर डाटकाली टनल का निर्माण न सिर्फ समय से पहले पूरा किया गया बल्कि इसमें धन की बचत भी की गई।
मुख्यमंत्री ने नए साल के अवसर पर प्रदेशवासियों का आह्वान किया कि वे प्रदेश को विकास की नई ऊंचाइयों पर ले जाने में अपनी सकारात्मक भूमिका निभाने का संकल्प लें। उन्होंने कहा कि नई आशा एवं दृढ़ विश्वास के साथ आने वाली चुनौतियों के लिए खुद को सक्षम बनाना होगा। अटल निश्चय और दृढ़ विश्वास के साथ कदम से कदम मिलाकर समृद्धि और तरक्की के लक्ष्य की ओर बढ़ते रहना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

कर्मचारियों को वेतन नहीं दे पा रहे तो कर्ज की हजारों करोड़ की रकम आखिर जा कहाँ रही -रघुनाथ सिंह नेगी

कर्मचारियों को वेतन नहीं दे पा रहे तो कर्ज की हजारों करोड़ की रकम आखिर जा कहाँ रही !  कर्मचारियों को 4-8 महीने से नहीं मिल पा रहा वेतन।  त्रिवेन्द्र सरकार ले चुकी अब तक लगभग 12 हजार करोड़ का बाजारू ऋण।  आखिर राजस्व क्यों घट रहा […]

You May Like