यू-ट्यूब पर गीत जारी कर किया देष की जवानों की बहादूरी को सलाम
‘‘सरहदों पर जो तूने दिया जवाब,
सर झुका कर जवानों का करते प्रणाम
व्यर्थ हम भी नहीं जाने देंगे तुम्हारा बलिदान
इस दिवाली चायना का ना लें सामान’’
देहरादून : 25 अक्टूबर 2016 : यह उस गीत के बोल हैं जो कल की यू-ट्यूब पर क्षेत्र के युवा संगीत छात्र द्वारा देष की सेना को सर्मिपत करते हुए जारी किया है। किमाड़ी, रिखोली मसूरी निवासी धीरज ठाकुर ने देष की सरहदों पर दिन-रात चौकस रह कर देषवासियों को चैन और सुकून देने वाली भारतीय सेना और उसके जाबांज सिपाहियों के बहादुरी भरे कारनामों को अपने ही अंदाज में सम्मान और सलाम पेष किया। धीरज ठाकुर द्वारा 24 अक्टूबर को अपना एक गीत यू-ट्यूब पर जारी किया है।
25 वर्शीय युवा संगीत साधक धीरज ठाकुर संगीत में परास्नातक के छात्र हैं। भारतीय सेना द्वारा पाकिस्तानी घुसपैठ और पाकिस्तान समर्थित आतंकी कार्यवाहियों के जवाब में की गई सर्जिकल स्ट्राईक को केन्द्र में रख कर तथा चीनी सामान के विरोध स्वरूप यह गीत तैयार किया गया है। इस गीत के बोल हैं ‘‘सरहदों पर जो तूने दिया जवाब, सर झुका कर जवानों का करते प्रणाम’’
धीरज बताते हैं कि चीन अपने सामान को भारत में बेच कर जो धन यहां से अर्जित कर रहा है उसी से पाकिस्तान को बारुद और बंदूक दे रहा है। और ना पाक पकिस्तान उसी बारूद को हिन्दुस्तान के सीने में दाग रहा है। इसलिए यह भारतीय सेना के साहस को मेरा नमन है।
धीरज की फैन सूची में लगातार इजाफा हो रहा है। मसूरी विधायक श्री गणेष जोषी ने धीरज की संगीत पारंगतता की तारीफ करते हुए उन्हें उज्जवल भविश्य की षुभकामनाएं दीं हैं। और उम्मीद जताई है कि भारतीय सेना का यह साहसी कारनामा जहां पाकिस्तान और आतंकियों के दिलों में दहषत भरेगा वहीं देष के नौजवानों को इसी प्रकार प्रेरित करता रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *