आईएमए समानिदेशक पद से सेवानिवृत्त हुए लेफ्टिनेंट जनरल जयवीर सिंह नेगी

Pahado Ki Goonj

देहरादून। आईएमए (भारतीय सैन्य अकादमी) के समानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल जयवीर सिंह नेगी आज सेवानिवृत्त हो गये। मूल रूप से पौड़ी जनपद पोखरी ब्लॉक के कमद गांव के रहने वाले लेफ्टिनेंट जनरल ने 49वें समानिदेशक के रूप में एक फरवरी 2020 को भारतीय सैन्य अकादमी की कमान संभाली थी।
भारतीय सेना में जनरल नेगी का बेहद महत्वपूर्ण योगदान रहा है। सैन्य सेवा में उनके नाम-परम विशिष्ट सेवा मेडल, अति विशिष्ट सेवा मेडल, युद्ध सेवा मेडल सहित विशिष्ट सेवा मेडल दर्ज हैं। जानकारी के अनुसार लेफ्टिनेंट जनरल नेगी की प्रारंभिक 10वीं और 12वीं की शिक्षा मेरठ के सेंटजॉन हायर सेकेंडरी स्कूल से हुई थी। उनके पिता दयाल सिंह नेगी बैंक कर्मचारी थे जबकि मां सतेश्ववरी नेगी एक ग्रहणी थी। लेफ्टिनेंट जनरल जयवीर सिंह नेगी का चयन 1977 में खड़गवासला स्थित नेशनल डिफेंस एकेडमी में हुआ था। एनडीए की ट्रेनिंग पूरी करने के बाद वे जून 1981 में भारतीय सैन्य अकादमी से पास आउट हुए। बता दें कि आईएमए का अंडर पास वाला मामला जो पिछले 40 वर्षों से अधिक समय से लटका हुआ था, वह भी लेफ्टिनेंट जनरल नेगी के कार्यकाल में ही धरातल पर उतरा। जानकारी के मुताबिक आईएमए में समानिदेशक पद से रिटायर्ड होने के बाद लेफ्टिनेंट जनरल नेगी अपने परिवार के साथ देहरादून में ही रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

कोविड 19 ड्यूटी में तैनात पीआरडी जवानों को वेतन दिया जाएः धस्माना

देहरादून। उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना ने उत्तराखण्ड शासन के मुख्य सचिव के नाम पत्र लिखकर कोविड 19 में एसडीआरएफ के तहत ड्यूटी पर तैनात पीआरडी जवानों के वेतन व फ्रंट लाइन कोरोना वारियर्स को प्रोत्साहन राशि दिये जाने की मांग की है। सूर्यकान्त धस्माना ने कोविड 19 वैश्विक […]

You May Like