आत्मनिर्भर बनाने के लिए उत्तराखंड के ग्रामीण क्षेत्रों और कस्बों में खोलेंगे ‘किसान हाट एंड मार्ट’: भावना पांडेय

देहरादून, पहाड़ों कीगूँज समाचार। प्रसिद्ध समाजसेवी और उद्यमी भावना पांडेय  के मन मे लम्बे समय से उत्तराखंड के पानी एंव जवानी के पलायन रोकने की भावना अब साधना बनाकर धरातल दिखाई देने का सपना साकार करने के लिए, उन्होंने कहा कि उत्तराखंड को आत्मनिर्भर बनाने का उनका संकल्प  हर हाल में पूरा होगा। पांडेय ने कहा कि उन्होंने महाराष्ट्र की कंपनी से करार किया है। ये कंपनी उत्तराखंड के ग्रामीण और कस्बाई इलाकों में ‘किसान हाट एंड मार्ट’ नाम से बड़ें स्टोर्स खोलेगी। यह कॉन्सेप्ट उत्तराखंड की तस्वीर और तकदीर बदल देगा।

20वर्षों से जहाँ उत्तराखंड के 1000 से अधिक गाँव खाली हो रहे हैं।उस पर विराम लगाने का काम होने जारहा है।उत्तराखंड वासियों को वापिस लौट आने के लिए यह मिशन के रूप में भावना पांडेय करने जारही है

उद्यमी एवं समाजसेवी भावना पांडेय ने बताया कि आत्मनिर्भर उत्तराखंड तभी बन सकता है जब पहाड़ का किसान उत्पाद पैदा करेगा। वो उत्पाद तभी पैदा करेगा जब उसके उत्पादों को बाजार अच्छे कीमत देने वाला मिलेगा। हम उसी के लिए काम कर रहे हैं। किसान हाट एंड मार्ट योजना इसके लिए बनाई गई है। इसके तहत किसान हाट एंड मार्ट शुरू करने वाली कंपनी पहाड़ के स्थानीय किसानों के उत्पादों को खरीदेगी और उन उत्पादों के बदले किसानों को उनकी जरूरत का अन्य सामान अपने स्टोर से देगी। इससे दो फायदे होंगे। एक तो किसान के स्थानीय उत्पादों को घर बैठे बाजार मिल जाएगा और दूसरा उसे उसकी जरूरत का सामान भी उसके घर पर ही उपलब्ध हो जाएगा। जिस किसान के पास पैसे नहीं होंगे और वह अपनी जरूरत का सामान खरीदना चाहेगा तो कैसे खरीदेगा। इसके लिए वो अपने स्थानीय उत्पाद को स्टोर पर बेच देगा और उसके बदले अपनी जरूरत का दूसरा सामान ले लेगा।

भावना पांडेय ने कहा कि पहाड़ में संसाधानों की कमी नहीं है। हमारे पहाड़ में तमाम तरह के जैविक उत्पाद पैदा होते हैं। किसान भले ही पहाड़ में किसानी से विमुख हो गए हैं लेकिन इस योजना से उनमें नई ऊर्जा का संचार होगा और वे निश्चित ही अपनी खेती की ओर रुख करेंगे। हमारे किसान पहाड़ों में तमाम तरह की दालें, चौलाई, मंडुवा, झंगोरा, कौंणी, सोयाबीन, काले भट्ट, जखिया, गडेरी, पिंडालू, पहाड़ी तुमड़ी आलू, हल्दी, अदरक,सूरजमुखी आदि की खेती करते हैं लेकिन इन उत्पादों को बड़ा बाजार नहीं मिल पाता। किसान हाट एंड मार्ट इसकी कमी को पूरा करेगा।

मान्यवर सादर अभिवादन🙏जन जन को निशुल्क समाचार भेजने के लिए दान,सहयोग के रूप मे गणेश चतुर्थी महोत्सव में विज्ञापन   प्रकाशित करने  के लिए

विज्ञापन की दर
पूर्ण पृष्ठ रँगीन 21000 |=हजार
1/2 पृष्ठ ₹11000|=
1/4पृष्ठ₹5500 |=,
विजटिंग कार्ड साइज ₹1500|=
दर श्वेत श्याम
श्वेत श्याम पूर्ण पृष्ठ ₹15000|=
आधा पृष्ठ1/2₹ 8000|=
1/4 पृष्ठ₹4000/=
विजटिंग कार्ड ₹1000
न्यूजपोर्टल वेब चैनल पर 24घण्टे प्रकाशन दर ₹ 2666
VDO ₹ 1200
वट्सप no 7983825336
ईमेल:pahadonkigoonj@gmail.com
bank of india-नाम: pahadonkigoonj
A/c n0: 705330110000013
IFSC:BKID0007053

आगेपढें

समाजसेवी और उद्यमी भावना पांडेय ने बताया कि ग्राउंड लेवल पर सारी तैयारियां हो चुकी हैं और अब जल्द ही कुछ ही महीनों में किसान हाट एंड मार्ट योजना धरातल पर दिखेगी। उन्होंने कहा कि हमारा आत्मनिर्भर उत्तराखंड का सपना हर हाल में पूरा होगा।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *