सरकारी दफ्तरों में प्रशासन का छापा,कार्यों में लापरवाही बरतने वाले कार्मिकों की अब खैर नही ।

Pahado Ki Goonj

सरकारी दफ्तरों में प्रशासन का छापा,कार्यों में लापरवाही बरतने वाले कार्मिकों की अब खैर नही है।
उत्तरकाशी :- पहाड़ो कि गूंज
आमजन के कार्यों के प्रति उदासीनता व अपने कार्यों में लापरवाही बरतने वाले कार्मिकों की अब खैर नही है। जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने मुख्य विकास अधिकारी एवं समस्त उप जिलाधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्रांर्गत स्थित विभिन्न कार्यालयों का औचक निरीक्षण करने के निर्देश दिए है। उन्होंने जनसामान्य के कार्यों के प्रति लापरवाह अधिकारी एवं कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए है।
जिलाधिकारी के आदेशों के अनुपालन में आज मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार ने विकास भवन के विभागों का औचक निरीक्षण किया। यहां सहायक निदेशक डेयरी व जिला युवा कल्याण अधिकारी अनुपस्थित पाए गए। दोनों अधिकारियों का एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश दिए। मुख्य विकास अधिकारी ने उपरोक्त सभी विभागों की उपस्थित पंजिका का अवलोकन किया। कार्यालय की साफ सफाई व्यवस्था को देखा। सूचना का अधिकार, सेवा का अधिकार, पत्रावलियों का विलम्बन की स्थिति, सीसीटीवी कैमरों की विद्यमानता आदि का गहनता के साथ निरीक्षण किया। उक्त सभी व्यवस्था दुरुस्त पायी गई।

 

वहीं उप जिलाधिकारी भटवाड़ी देवेंद्र नेगी द्वारा नगर पालिका परिषद बाड़ाहाट व मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय का औचक निरीक्षण किया गया। एसडीएम ने उपस्थिति पंजिका को चेक किया। जिसमें 25 नियमित कर्मचारियों में से 6 कार्मिक अनुपस्थित पाये गये। तथा 17 अनियमित कर्मचारियों में से 2 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंर्तगत तैनात कुल 15 कार्मिकों में से 4 अनुपस्थित पाए गए। सभी अनुपस्थित कार्मिकों के वेतन रोकने की संस्तुति की गई है। इसके अतिरिक्त सूचना का अधिकार से सम्बंधित पंजिका का अवलोकन किया गया जो अपडेट नही थी। लोक सूचना अधिकारी एवं सहायक लोक सूचना अधिकारी दोनों का स्पष्टीकरण तलब किया गया है।
उधर बड़कोट में एसडीएम चतर सिंह चौहान द्वारा नगर पालिका बड़कोट एवं जल संस्थान कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। उपस्थित पंजिका का अवलोकन किया। जिसमें में 1-1 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। दोनों के वेतन रोकने की संस्तुति की गई।
एसडीएम पुरोला सोहन सैनी द्वारा लोक निर्माण विभाग,पीएमजीएसवाई, खंड विकास अधिकारी कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। लोक निर्माण विभाग में 17 कार्मिकों में से 2 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। बीडीओ कार्यालय में 2 मनरेगा के जेई उत्तरकाशी होना बताया गया। जिनका वेतन रोकने की संस्तुति की गई है। वहीं पीएमजीएसवाई कार्यालय में एक कम्यूटर आपरेटर दो माह से अनुपस्थित होना पाया गया। जबकि एक और अन्य कार्मिक अनुपस्थित पाया गया। अनुपस्थित कार्मिको का वेतन रोकने की संस्तुति की गई है जबकि अधिशासी अभियंता लोनिवि व अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई तहसील मुख्यालय से बाहर होना बताया गया। रिपोर्ट तैयार कर जिलाधिकारी को भेजी गई है। जलागम का भी एक कार्मिक अनुपस्थित पाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

उच्च हिमालयी क्षेत्रों तक टाइगर की उपस्थिति स्थानीय निवासियों की सक्रिय भागीदारी का परिणाम : मुख्यमंत्री

उच्च हिमालयी क्षेत्रों तक टाइगर की उपस्थिति स्थानीय निवासियों की सक्रिय भागीदारी का परिणाम : मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री ने मानव वन्यजीव संघर्ष को रोकने के लिये अन्य स्थानों पर किये गये उपायों का अध्ययन करने के निर्देश दिये       देहरादून  (पहाडों की गूँज)मुख्यमंत्री  पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को […]

You May Like