13 अप्रैल 2018 से अनिश्चित कालीन धरना,आज दिनांक 23 अप्रैल 2018 (सोमवार) को भी पूर्व की भांति शांति पूर्ण तरीके से जारी रहेगा- शीला रावत

Pahado Ki Goonj

13 अप्रैल 2018 से अनिश्चित कालीन धरना, आज दिनांक 23 अप्रैल 2018 (सोमवार) को भी पूर्व की भांति शांति पूर्ण तरीके से जारी रहेगा।


आप सभी मित्रों से उचित सहयोग की अभिलाषा।

स्थान: अंतरिक्ष उपयोग केंद्र, निकट अनुराग चौक (बसन्त विहार), देहरादून।
समय: प्रातः 11 बजे

*मेरी आवाज, सुनो*
13 अप्रैल 2018 से अनिश्चित कालीन धरना, आज 7वें दिन भी यूसैक कार्यालय के बाहर शांति पूर्वक ढंग से जारी रहा।
शीला रावत के समर्थन में आज धरने पर कुमारी प्रिया सिल्सवाल, श्रीमती अलंकार तिवारी, श्रीमती सविता तिवारी, श्रीमती रजनी मलासी, कमला बहुगुणा जी, सुलोचना बहुगुणा जी, शिव प्रसाद सेमवाल जी, योधराज त्यागी जी, सोमेश बुड़ाकोटि जी, कॉमरेड संजीव जी, सी पी शर्मा जी, ब्रम्हपाल जी, विपिन पंवार जी, प्रमोद डोभाल जी और राजेंद्र सिंह नेगी जी मौजूद रहे।

धरना स्थल पर शीला रावत ने मीडिया और बैनर के माध्यम से अपनी मांगे, सार्वजनिक की-
1. विभाग में 7 वर्ष से निरन्तर कार्यरत महिला कर्मी को उत्पीड़न कर बाहर करने के निर्णय को वापस लेकर, सम्मान विभाग में वापसी।
2. आउट सोर्स पर तैनात सभी कर्मियों की विभाग में स्थाई नियुक्ति।
3. प्रतिनियुक्ति पर तैनात निदेशक एम. पी. एस. बिष्ट पर महिला उत्पीड़न व तानाशाही को लेकर कार्यवाही।
4. विभाग में व्याप्त अनियमित्ताओं की निष्पक्ष जांच।
5. विभाग में महिला उत्पीड़न रोकने के लिए, वूमैन सेल का गठन।
साथ ही, यह संदेश भी दिया कि उनकी यह लड़ाई उन तमाम साथियों के हित में है जो किसी न किसी प्रकार से अधिकारियों के उत्पीड़न के शिकार होकर अपनी आवाज नहीं उठा

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

ब्रहमाण्ड़ की सर्वोपरि शक्ति विराजमान है दतिया में- रमाकान्त पन्त

?दतिया मध्य प्रदेश से लौटकर रमाकान्त पन्त                     *?ब्रहमाण्ड़ की सर्वोपरि शक्ति विराजमान है दतिया में* *?परमेश्वरी माई पीताम्बरा के दर्शन को देश व दुनियां से आते है भक्तजन? *?महाभारत काल के इतिहास की गाथा समेटे है,यह मंदिर?* *?यहां नही ली जाती […]

You May Like