श्री बदरीनाथ धाम गाडू घड़ा (अभिषेक तेल कलश ) यात्रा आज राज दरबार नरेन्द्र नगर से शुरू हुई। • तेलकलश यात्रा राजदरबार नरेन्द्र नगर से आज शांयकाय ऋषिकेश पहुंच गई • 25 अप्रैल प्रात:से गाडू घड़ा दर्शन |

श्री बदरीनाथ धाम गाडू घड़ा (अभिषेक तेल कलश ) यात्रा आज राज दरबार नरेन्द्र नगर से शुरू हुई।

• तेलकलश यात्रा   राजदरबार नरेन्द्र नगर से आज शांयकाय पहुंचगई ऋषिकेश

• 25 अप्रैल प्रात:से  गाडू घड़ा दर्शन ।

• दोपहर बाद श्रीनगर प्रस्थान।

नरेन्द्र नगर: श्री बदरीनाथ भगवान की गाडू घड़ा (अभिषेक तेल कलश) यात्रा आज विधिवत रूप से 11बजे नरेन्द्रनगर राज दरबार से शुरू हो गयी। राजदरबार में महारानी  मालाराज्य लक्ष्मी शाह,राजकुमारी शीरजा सहित  सुहागिन महिलाएं तिलों के तेल को पिरो रही हैं जिसे घड़े में  धार्मिक रस्मों के साथ समारोह पूर्वक  राजदरबार से श्री डिमरी धार्मिक केंद्रीय पंचायत के पदाधिकारी/सदस्य  श्री बदरीनाथ के लिए प्रस्थान करेंगे। केंद्रीय पंचायत के अध्यक्ष राकेश कुमार डिमरी ने बताया है कि आज  रात्रि विश्राम हेतु गाडू घड़ा  श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के चेलाचेतराम धर्मशाला  ऋषिकेश पहुंचेगा।

उल्लेखनीय है कि गाडू घड़ा यात्रा श्री  डिमरी केन्द्रीय धार्मिक पंचायत  द्वाराआयोजित होती  है ।

यात्रा मेंश्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति सहयोग करती है। 

मंदिर समिति अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल  एवं मुख्य कार्याधिकारी  बी.डी.सिंह ने बताया कि  प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत कल 25 अप्रैल दिन  11.30 बजे गाडू घड़ा के दर्शन हेतु समिति के चेलाचेतराम धर्मशाला पहुंचेगे। बड़ी संख्या में श्रद्धालु गाडू घड़ा के दर्शन हेतु आयेंगे। विधान सभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल सहित, शहर के गणमान्य लोग, श्रद्धालुजन दर्शन करेंगे।

गाडू घड़ा आयोजन समिति ऋषिकेश एवं ब्यापारियों  द्वारा भी गाडू घड़ा यात्रा की ब्यापक तैयारियां की है 

प्रसिद्ध त्रिवेणी घाट, शहर की मुख्य सड़क , गलियों में बैनर लगाये है, प्रसाद, भंडारे का आयोजन भी किया है। ब्यापारियों ने बताया कि श्री बदरीनाथ यात्रा को लेकर धर्म नगरी ऋषिकेश मे़ खासा उत्साह  

है। ज्ञातब्य है कि हर वर्ष  शासन-प्रशासन द्वारा चारधाम यात्रा का शुभारंभ धर्मनगरी ऋषिकेश से किया जाता है।

गाडू घड़ा यात्रा हेतु राज दरबार जा रहे श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के सदस्य अरूण मैठाणी ने बताया कि गाडू घड़ा यात्रा के साथ ही श्री बदरीनाथ यात्रा का शंखनाद हो जाता है उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं में काफी उत्साह  है।

गाडू घड़ा यात्रा में श्री बदरीनाथ डिमरी धार्मिक केंद्रीय पंचायत के अध्यक्ष राकेश कुमार डिमरी, पंचायत के पूर्व अध्यक्ष सुरेश डिमरी श्री बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति सदस्य अरूण मैठाणी, पूर्व सदस्य हरीश डिमरी, पूर्व सदस्य भास्कर डिमरी, रविग्राम पाखी पंचायत अध्यक्ष ज्योतिष डिमरी, डिम्मर उम्मटा पंचायत अध्यक्ष आशुतोष डिमरी,  दिनेश डिमरी,विनोद डिमरी श्रीराम, विपुल डिमरी ,नरेश डिमरी,ऋषि प्रसाद,सनत डिमरी,सरोज डिमरी,दिनेश डिमरी,मुकेश डिमरी, हेमंत डिमरी,केशव डिमरी,टीका राम, मंदिर समिति मीडिया प्रभारी डा.हरीश गौड़ आदि शामिल हैं।

मंदिर समिति मीडिया प्रभारी  डा.हरीश गौड़ ने बताया कि 25 अप्रैल को गाडू घड़ा यात्रा ऋषिकेश से श्रीनगर गढवाल प्रस्थान करेगी, मंदिर समिति के डालमिया धर्मशाला में रात्रि विश्राम, एवं 26 अप्रैल प्रात:दर्शन पूजा प्रसाद वितरण के उपरांत गाडू घड़ा यात्रा श्रीनगर से श्रीकोट, धारीदेवी, रूद्रप्रयाग, नगरासू गौचर,कर्णप्रयाग होते हुए श्री  लक्ष्मी नारायण मंदिर डिम्मर पहुंचेगी।

6 मई तक लक्ष्मी नारायण मंदिर में पूजा अर्चना के पश्चात   7 मई श्री नृसिंह मंदिर जोशीमठ तथा 8 मई आदि गुरू शंकराचार्य जी की गद्दी  एवं रावल जी सहित विश्राम हेतु  श्री योग ध्यान बदरी मंदिर पांडुकेश्वर पहुंचेगे। पांडुकेश्वर से  9 मई गाडूघड़ा सहित आदि गुरू शंकराचार्य जी की पवित्र गद्दी, श्री उद्धव‌ जी,श्री कुबेर जी, श्री रावल श्री ईश्वराप्रसाद नंबूदरी सहित श्री बदरीनाथ धाम पहुंचेगे।

10 मई प्रात: 4 बजकर 15 मिनट पर श्री बदरीनाथ धाम के कपाट दर्शनार्थ खुलेंगे। जबकि श्री केदारनाथ मंदिर के कपाट 9 मई प्रात: 5 बजकर 35 मिनट पर खुल रहे हैं। श्री गंगोत्री, श्री यमुनोत्री मंदिर के कपाट अक्षय तृतीया 7 मई को खुल जायेंगे।

 

मीडिया प्रभारी ने बताया कि मंदिर समिति द्वारा ऋषिकेश में गाडू घड़ा आयोजन हेतु तैयारियां की है विशेष कार्याधिकारी जन संपर्क ए.एस नेगी,  चेलाचेतराम धर्मशाला प्रबंधक रमेश नेगी, प्रबंधक        विपिन तिवारी, रामचंद्र बिष्ट, मनोज रावत, बबलू रमोला, राजू ब्यवस्थाओं में सहयोग कर रहे हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *