वैष्णवी संप्रदाय के संतों ने महा कुंभ के सफल आयोजन के लिए जताया मुख्यमंत्री का आभार

Pahado Ki Goonj
मुख्यमंत्री आवास में मुख्यमंत्री तीरथ रावत से मुलाकात कर मेला क्षेत्र की समस्याओं पर की चर्चा

देहरादून ,मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से मुख्यमंत्री आवास पर वैष्णव संप्रदाय के संतों ने मुलाकात की। पद्म विभूषण जगतगुरु रामानंदाचार्य स्वामी रामभद्राचार्य जी के नेतृत्व में आए संतो ने कुंभ के सफल आयोजन के लिए मुख्यमंत्री जी का आभार जताया। उन्होंने कहा कि बहुत ही कम समय में कुंभ मेले के आयोजन के लिए जो व्यवस्था की गई, वह सराहनीय है और प्रेरणादाई भी। साथ ही उन्होंने मेला क्षेत्र में वैष्णव संप्रदाय के लिए भूमि उपलब्ध कराने की मांग भी मुख्यमंत्री के समक्ष उठाई।
इस मौके पर मुख्यमंत्री जी ने संतों का आशीर्वाद लिया और कुंभ मेले के सफल आयोजन में सहयोग के लिए सभी संतो का आभार जताया।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कुंभ मेले में संतो ने जिस श्रद्धा, आस्था भाव और सहयोग का परिचय दिया है वह सराहनीय है। कोविड गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए संत समाज ने मेले संपन्न करवाने में अहम भूमिका निभाई।
उन्होंने संतो को भरोसा दिया कि कहा कि उनकी मांगों पर विचार किया जाएगा।

अगेपढें

🙏24×7 देखें प्रतिष्ठित ए श्रेणी का www.ukpkg.comन्यूज पोर्टल वेव चैनल निशुल्क समाचार सबसे पहले आपतक पहुचाने के लिए अपने कर्तव्य का पालन करते रहे हैं।

समाचार आपके पास भेजा जारहा है ।देव भूमि से प्रेम करने के लिए आप अपने गुरुप मे सभी लोगों को शेयर किजयेगा। देव भूमि उत्तराखण्ड की बेरोजगारी दूर मेले और थोले के प्रचार प्रसार से पर्यटकों से होम स्टे का करोबार बढ़ेने से होगी।
पोर्टल पर सरकार के ए श्रेणी की दर पर विज्ञापन प्रकाशित किये जाते हैं। आप अपने संस्थान ,प्रतिष्ठान,होटल, दुकान ,विद्यालय, का विज्ञापन देकर,दिलाकर जनहित में जनसरोकार की समस्याओं को दूर करने के लिए सदैव सहयोग कर उत्तम प्रदेश बनाने का पुण्य का कार्य किजयेगा। ईमेल pahadonkigoonj@gmail.com#8755286843

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

गुड न्यूज-पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा की पहल पर कंपनी सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर मुहैया करवाएगी

संकट की इस घड़ी से बाहर निकलने में देश की मदद करने के लिए ऑक्सीजन फॉर इंडिया पहल की शुरुआत − 1,000 से अधिक ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की खरीद का ऑर्डर − सरकारी अस्पतालों, कोविड केयर केंद्र, निजी अस्पतालों, एनजीओ और देश भर के रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशंस को तात्कालिक तौर पर आयातित ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स मुहैया कराए जाएंगे − अन्य कंपनियों और एनआरआई को इस पहल से जोड़ने की कोशिश, ताकि एक साथ भारी मात्रा में मशीनों का ऑर्डर दिया जा सके − खरीद साझेदारों के साथ करार की दिशा में हो रहा काम ताकि समय के साथ भारत में 30,000 से अधिक ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके देहरादून, 28 अप्रैल 2021- भारत की अग्रणी डिजिटल सर्विस प्लेटफॉर्म पेटीएम ने आज घोषणा करते हुए बताया कि पेटीएम फाउंडेशन कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच देश के नागरिकों की मदद करने के लिए 3,000 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर (ओसी) की खरीद और उसका आयात करेगा। पेटीएम फाउंडेशन का लक्ष्य इस खरीद के जरिए देश में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने की दिशा में मदद पहुंचाना है। कंपनी ने इस मामले में और अधिक जागरूकता फैलाने के लिए राष्ट्रव्यापी ‘ऑक्सीजन फॉर इंडिया’ अभियान की शुरुआत की है। पेटीएम फाउंडेशन पहले ही चार करोड़ की लागत वाली 1,000 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के आयात का ऑर्डर दे चुका है और अब फाउंडेशन का लक्ष्य 10 करोड़ रुपये जुटाने का है। कंपनी लोगों से ज्यादा संख्या में इस पहल से जुड़ने की अपील कर रही है। अभियान के शुरुआती दौर में ही कंपनी 1.5 करोड़ रुपये जुटा चुकी है और पेटीएम के योगदान से यह रकम अब तीन करोड़ रुपये हो गई है। देश ऑक्सीजन समस्या के अभूतपूर्व संकट से जूझ रहा है और इस स्थिति से निपटने के लिए सभी तरह के सहयोग की जरूरत है, जिसमें बड़े ऑक्सीजन टैंकर्स, ऑक्सीजन सिलिंडर्स और ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स शामिल है। चूंकि देश में पर्याप्त संख्या में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की आपूर्ति नहीं हो रही है इसलिए फाउंडेशन ने इस दिशा में पहल करते हुए वैश्विक रूप से इसकी आपूर्ति की संभावनाओं को तलाश करना शुरू कर दिया है। अधिकांश लोगों की जिंदगियां बचाने के लिए फाउंडेशन साझेदारी की दिशा में भी काम कर रहा है ताकि भारत में 30,000 से अधिक ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की खरीदारी की प्रक्रिया पूरी की जा सके। पेटीएम ने इस पहल की शुरुआत की है और वह युद्ध स्तर पर विदेश से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर (ओसी) को लाने की कोशिश करेगा। पेटीएम इस मामले में समान विचारधारा वाले स्टार्टअप्स को साथ लाने की कोशिश कर रहा है ताकि भारी मात्रा में एक साथ ओसी के लिए ऑर्डर दिया जा सके। कंपनी को उम्मीद है कि लोग इस अभियान को दिल खोलकर मदद देंगे और यह जल्द ही छोटी अवधि में 10 करोड़ रुपये से अधिक की रकम जुटा लेगी। कंपनी पेटीएम एप पर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की आपूर्ति के लिए अस्पतालों से मांग का निवेदन स्वीकार करेगी। इस दौरान प्राथमिकता सरकारी अस्पतालों को दी जाएगी। इसके बाद निजी अस्पताल, छोटे क्लीनिक और सबसे आखिर में रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशंस (त्ॅ।े) का नंबर होगा। इसकी सूची सार्वजनिक रूप से उपलब्ध होगी ताकि इस मामले में वितरण को लेकर पारदर्शिता और जवाबदेही सुनिश्चित की जा सके। यह सेवा पहले आओ पहले पाओ या आपात स्थिति में आवश्यकता-आधारित मांग पर उपलब्ध होगी। अस्पतालों को इसके लिए जरूरतों, पता और साथ में को-ऑर्डिनेटर जैसी जानकारी भी उपलब्ध करानी होगी। . पेटीएम के फाउंडर और सीईओ विजय शेखर शर्मा ने कहा कि, “भारत फिलहाल अभूतपूर्व ऑक्सीजन संकट की स्थिति से गुजर रहा है और इससे निपटने के लिए सभी तरह के सहयोग की जरूरत है, जिसमें बड़े ऑक्सीजन टैंकर्स, ऑक्सीजन सिलिंडर्स और ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स शामिल है, जिससे स्थानीय तौर पर ऑक्सीजन का उत्पादन किया जा सके। मैं स्टार्टअप्स, अन्य कारोबारों को हमारे साथ आने की अपील करता हूँ ताकि उनके योगदान के जरिए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स की आपूर्ति को दोगुनी की जा सके। ऑक्सीजन संकट के इस समय में यह देश की बड़ी मदद होगी। मुझे भरोसा है कि हम अपने संसाधानों को साझा कर इस संकट से निपटने में कामयाब होंगे और ज्यादा मजबूती से संकट के सामने खड़े होंगे।” महामारी की शुरुआत के समय से ही पेटीएम ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में सहयोग देने के लिए कई पहल की शुरुआत की है। पिछले साल नागरिकों के समर्थन की मदद से कंपनी ने पीएम-केयर्स फंड में सैंकड़ों करोड़ रुपये का योगदान दिया था और साथ ही कोविड वॉरियर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स के बीच एक करोड़ हाईजीन किट का वितरण किया था। पलायन कर रहे 2 करोड़ से अधिक मजदूरों के लिए भोजन का इंतजाम किया गया था। साथ ही कंपनी ने पेटीएम ऐप, यूआई पर ‘स्टे एट होम इसेन्शल पेमेंट’ जैसा फीचर उपलब्ध कराकर यूजर्स को मोबाइल और डीटीएच रिचार्ज, बिजली बिल, पानी बिल, गैस बिल, क्रेडिट कार्ट और बीमा पेमेंट के भुगतान का विकल्प मुहैया कराया था।   अधिक जानकारी के सेपर्क करे- विकास कुमार-8057409636 सहयोग के लिए अगेपढें प्रतिष्ठित पहाड़ों की गूँज ukpkg.comन्यूज पोर्टल वेब चैनल के पाठक सम्पूर्ण भारत के साथ साथ विदेशों में है। निशुल्क समाचार आप तक सबसे पहले पहुचाये जाते […]

You May Like