खबर पढ़ी की वह चर्चा का विषय बन गया

Pahado Ki Goonj

आखिर क्यों बच्ची को गोद में लेकर एंकर ने किया शो!

‘समा टीवी’ की न्यूज एंकर किरण नाज ने आठ साल की बच्ची के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म की घटना का विरोध करने के लिए कुछ इस तरह खबर पढ़ी की वह चर्चा का विषय बन गया

विरोध के कई तरीके हो सकते हैं. एक दिलचस्प तरीका पाकिस्तान के एक टीवी चैनल की एंकर ने अपनाया. ‘समा टीवी’ की न्यूज एंकर किरण नाज़ ने लाइव शो में अपनी बेटी के साथ न्यूज पढ़ा. इस शो के जरिए वह एक संदेश देना चाहती थीं.

पूर्वी पाकिस्तान में आठ साल की बच्ची के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म और हत्या के विरोध में नाज़ ने यह तरीका अपनाया. नाज़ ने बताया कि बच्ची की हत्या ने पाकिस्तान पर क्या प्रभाव डाला है.

इस घटना के बाद पाकिस्तान में दंगे भड़क उठे थे. नाज ने अपने न्यूज बुलेटिन की शुरुआत में कहा ‘आज मैं टीवी होस्ट किरण नाज नहीं, बल्कि एक मां की हैसियत से अपनी बच्ची के साथ यहां बैठी हूं.’

नाज, पाकिस्तान की लोकप्रिय एंकरों में से एक हैं. उनकी आवाज पाकिस्तान में हो रहे अत्याचार (रेप, हत्या) के विरुद्ध कई बार उठ चुकी है.

इस वीडियो में नाज कहती हैं ‘जनाजा जितना छोटा होता है. वह उतना ही भारी होता है. आज एक ऐसा ही जनाजा कासुर (पूर्वी पाकिस्तान) की सड़कों पर रखा हुआ है और पूरा पाकिस्तान उसके बोझ तले दबा हुआ है. उधर मां बाप अरब में बैठकर दुआ कर रहे थे और इधर कासुर में दरिंदा उस बच्ची की जिंदगी की डोर काट रहा था.’

क्या था मामला

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में आठ साल की एक बच्ची के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म के बाद हत्या करने का मामला सामने आया था. इस घटना की वजह से भड़के दंगे में पुलिस के साथ हुई झड़प में दो लोगों की मौत हो गई थी. पूरे देश में इस घटना से आक्रोश फैला है

?‍⚖वर्तमान में हमारे देश की राष्ट्रीय मीडिया को निष्पक्ष और निष्ठावान पत्रकारिता के मामले में इससे बहुत कुछ सीखने की आवश्यकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

किसान क्यों हिंसक हो गया है यह समझना होगा,

*किसानों को अब खेती करना बंद कर देना चाहिए ?* और केवल अपने परिवार के लायक उपजा कर बाकी ज़मीन को पड़त छोड़ देना चाहिए। जो लोग अपने बच्चों को डेढ़ लाख की मोटर साइकल, लाख का मोबाइल लेकर देने में एक बार भी नहीं कहते कि महँगा है, वे […]

You May Like