बड़ी खबर: वन मंत्री डॉ हरक सिंह ने केंद्र से लाए 2675करोड़

Pahado Ki Goonj

 

◆19000 हेक्टेयर भूमि पर पौधारोण कार्य सम्पन्न कराया गया है

◆5152 वाटर होल का निर्माण किया गया।
◆1हेक्टेयर स्थानांतरित करने के अधिकार बढ़ा कर 5 हेक्टेयर भूमि का स्थान्तरित करने का अधिकार राज्यसरकार को दिया जाय

दिल्ली देहरादून ,उत्तराखंड प्रदेश के वन मन्त्री डा. हरक सिंह रावत केन्द्र में लंबित कैम्पा फण्ड की रू. 2675 करोड की धनराशि लंबे समय लगातार प्रयास के बाद उत्तराखण्ड के विकास के लिए ले आये
केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर की अध्यक्षता में आहूत बैठक में सभी राज्यों के वन एवं पर्यावरण मंत्रियों ने प्रतिभाग किया। इस बैठक में राज्य सरकारों के द्वारा कैम्पा योजना के तहत किये जा रहे विकास कार्याें के देखते हुए भारत सरकार द्वारा कैम्पा योजना की धनराशि राज्यों को सौंपी गयी, जो कि केन्द्र सरकार का एक सराहनीय कदम है।

व्यापक दक्षता प्रबंधन और योजना प्राधिकरण (CAMPA) कैम्पा फण्ड का प्रयोग वनों की कटाई से होने वाले नुकसान, पर्यावरण संरक्षण, खनन और विकास उपक्रम की स्थापना की वजह से होने वाले प्रवास के लिए मजबूर हुए लोगों को सहयोग देेने के लिए किया जाता है। इस कानून का उद्देश्य वन भूमि हस्तान्तरण से हुई (पारिस्थितिकीय) क्षति की प्रतिपूर्ति करना है।

उक्त बैठक में उत्तराखण्ड के वन एवं पर्यावरण मंत्री डा. हरक सिंह रावत द्वारा केन्द्रीय मंत्री को विगत वर्षों में कैम्पा योजना के अन्तर्गत किये जा रहे विभिन्न कार्याें की जानकारी प्रदान की तथा साथ ही केन्द्रीय मंत्री जी को इस योजना के अन्तर्गत आ रही विभिन्न समस्यओं से भी अवगत कराया। योजना के अन्तर्गत 19000 हेक्टेयर भूमि पर पौधारोण कार्य सम्पन्न कराया गया है तथा 5152 वाटर होल का निर्माण किया गया। जिसमें लगभग 15 लाख लीटर जल संचित किया जा रहा है। इस योजना के अन्तर्गत राज्य सरकार द्वारा कोसी नदी को पुनर्जीवित करने हेतु विस्तृत पैमाने पर वृक्षारोपण कार्य किया जा रहा है। रिस्पना नदी तथा खो नदी को भी इस योजना के अन्तर्गत सम्मलित कर इस नदी पुर्नजीवित करने की योजना बनायी जा रही है।

उक्त बैठक के दौरान डा. हरक सिंह रावत ने राज्य सरकार द्वारा 1 हेक्टेयर भूमि स्थानांतरण के अधिकार को अब 5 हेक्टेयर तक बढाने की मांग की गयी। जिससे राज्य सरकार के स्तर पर ही सभी विकास कार्यों को भूमि स्थानान्तरण करने के चलते अविलम्ब पूरा किया जा सकें। उक्त माॅगों के क्रम में राज्य सरकार द्वारा चीड उन्मूलन के क्रम में हजार मीटर से ऊपर वृक्ष पातन करने की अनुमति राज्य सरकार को प्रदान करने की भी मांग की।

हरक सिंह रावत लगे रहे और आज उत्तराखण्ड के हिस्से के 2675.00 करोड रूपये केन्द्र सरकार ने राज्य के कैम्पा फंड को हस्तांतरित किये। वन मंत्री के रूप में केन्द्र में लगातार प्रयास से यह संभव होपाया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

छात्र संघ चुनाव के लिए महाविद्यालयों में एबीपी के प्रत्याशी घोषित

बड़कोट / अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद यमुना घाटी में बर्फियालाल जुवाटा महाविद्यालय पुरोला एवं राजेंद्र सिंह रावत राजकीय महाविद्यालय बड़कोट में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की बैठक आयोजित की गई। जिसमें आगामी महाविद्यालय में छात्र संघ के लिए एबीपी की ओर से छात्र संघ चुनाव के लिए प्रत्याशियों का चुनाव […]

You May Like