गुरूवार से केदारनाथ की यात्रा शुरु, 30 जून तक सिर्फ रुद्रप्रयागवासियों को अनुमति

रुद्रप्रयाग। मंगलवार को देवस्थानम बोर्ड के फैसले के बाद केदारनाथ धाम की यात्रा खोल दी गई है। पहले चरण में 30 जून तक सिर्फ स्थानीय निवासियों यानी रुद्रप्रयाग जिले के लोगों के लिए ही यह यात्रा खोली गई है। गुरूवार से सोनप्रयाग में प्रशासन के पास जारी करने के बाद रुद्रप्रयाग के निवासी बाबा केदार के दर्शन को जाने लगे है। ऊखीमठ के एसडीएम केदारनाथ जाने वाले श्रद्धालु को पास जारी करेंगे। यह व्यवस्था की गयी है। इसके लिए सोनप्रयाग में तहसीलदार को तैनात किया गया है। जहां पास के लिए आवेदन किया जा सकेगा। रुद्रप्रयाग की जिलाधिकारी वन्दना सिंह का कहना है कि पहले चरण में सीमित संख्या में पास जारी किए जाएंगे. केवल उन्हीं को पास जारी किए जा रहे है। जिनके केदारनाथ धाम में होटल, रेस्टोरेंट, दुकानें या अन्य परिसम्पत्तियां हैं। इनके अलावा केदारनाथ के हक-हकूक धारी, तीर्थ-पुरोहित समाज, केदारनाथ पुनर्निर्माण में लगे कर्मचारियों के लिए को पहले चरण में पास जारी किए जा रहे है। रुद्रप्रयाग की डीएम वन्दना सिंह ने बताया कि केदारनाथ धाम जाने वाले श्रद्धालु अग्रिम आदेश तक मंदिर के गर्भ गृह में प्रवेश नहीं कर सकेंगे। मंदिर समिति द्वारा गर्भ गृह के बाहर निर्धारित स्थान से ही अन्दर झांककर ज्योतिर्लिंग के दर्शन कर पाएंगे।
डीएम के अनुसार केदारनाथ जाने वाले लोगों को अपना आधार और यात्रा का प्रयोजन बताया होगा। 60 साल से अधिक और 10 वर्ष के कम आयु वाले, गर्भवती महिलाएं, गंभीर बीमारी से ग्रसित व्यक्तियों और बाहरी प्रदेश से आकर क्वांरनटाइन की अवधि पूरी न करने वाले लोगों को केदारनाथ जाने की अनुमति नहीं होगी।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *