उत्तरकाशी :- उत्तराखंड में ट्रेकिंग व माउंनटेरीग को 2020 में बढ़ावा मिलेगा :- मुख्यमंत्री

2020,ट्रेकिंग व मॉन्टेनरिंग को बढ़ावा मिलेगा :  त्रिवेंद्र सिंह रावत मुख्यमंत्री

 उत्तरकाशी  / मदनपैन्यूली।                          उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत उत्तरकाशी पहुंचे  जहां पर  उनका भव्य स्वागत किया गया  श्री रावत ने कहा है कि  साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के हर संभव प्रयास किये जायेंगे। उन्होंने समिट में कहा कि साहसिक पर्यटन को लेकर जो भी सुझाव आये हैं उन पर गंभीरता से विचार किया जाएगा। तथा हिमालय में सेंसिटिव एरिया को लेकर जहाँ पर्यटन की संभावना है वहां ढील देने के लिये भारत सरकार से वार्ता की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि गंगोत्री विधायक गोपाल ने ट्रेकिंग और मॉन्टेनरिंग को लेकर जो भी सुझाव दिये हैं वह महत्वपूर्ण है और उन पर मार्च में एक बैठक बुलाकर समाधान किया जाएगा।

 

गंगोत्री विधायक गोपाल रावत ने कहा कि पर्यटन को लेकर आज होम स्टे योजना साकार हो रही है। मॉन्टेनरिंग व ट्रेकिंग में भी स्वरोजगार से लेकर रोजगार बढ़ाने के लिये यह मॉन्टेनरिंग समिट कारगर साबित होगा। उन्होंने गंगोत्री घाटी के दर्जनों ट्रेकिंग मार्गों को प्रोत्साहित व इनको विकसित करने की मुख्यमंत्री के समक्ष बात रखी। उन्होंने गंगोत्री घाटी के कुछ स्थानों में खासकर हिमाचल को जाने वाले लमखेगा मार्ग से इनर लाइन की बंदिश हटाने की भी मांग रखी। विधायक ने कहा कि मौजूदा समय मे साहसिक पर्यटन को लेकर सरकार का प्रयास बेहतर व कारगर साबित हो रहा है। उन्होंने मॉन्टेनरिंग समिट में मुख्यमंत्री के ध्यानाकर्षण कई सुझाव भी रखे।

इससे पूर्व उत्तरकाशी मॉन्टेनरिंग समिट का दीप प्रज्वलन कर मुख्यमंत्री ने शुभारंभ किया। सर्वप्रथम विधायक गंगोत्री ने मुख्यमंत्री को पहाड़ी टोपी पहनाकर व यमुनोत्री विधायक केदार सिंह रावत ने शाल ओढ़ाकर उनका वेलकम किया। इस अवसर पर डीएम डॉ. आशीष चौहान ने सभी मुख्य अतिथियों को मोमेंटो भेंट किये। ममॉन्टेनरिंग समिट में भाजपा जिलाध्यक्ष रमेश चौहान, स्वराज विद्वान, सचिव दिलीप जावलकर,एसपी पंकज भट्ट,कर्नल अमित बिष्ट समेत आला अफसर व जनप्रतिनिधि मौजूद थे। कार्यक्रम शुभारंभ से पूर्व मुख्यमंत्री ने जिले की कई योजनाओं का लोकार्पण भी किया। उधर कार्यक्रम में निम की ओर से कैप्टन सुदेश ने गंगोत्री घाटी व नजदीकी ग्लेशियर में शीतकाल में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये वन विभाग की बंदिशें हटाने की मांग  की तथा समिट का समापन यमुनोत्री विधायक केदार सिंह रावत ने किया  ।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *