विधायक निधि से लगेंगे सीसीटीवी कैमरे,

विधायक निधि से लगेंगे कैमरे, विधायक ने जारी किए चार लाख

थराली, नंदप्रयाग, नारायणबगड़, देवाल और घाट में लेगेंगे कैमरे

कर्णप्रयाग (चमोली)। चमोली जिले के थराली विधानसभा के प्रमुख शहर अब सीसीटीवी कैमरों से लैस होंगे। विधायक ने विधानसभा के सभी प्रमुख शहरों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए धनराशि जारी कर दी है। जिससे इन शहरों में सुरक्षा इंतजामों में भी मदद मिलेगी।

थराली की विधायक मुन्नी देवी शाह ने बताया कि विधानसभा के प्रमुख शहरों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने की मांग लंबे समय से चली आ रही थी। जिसके लिए नारायणबगड़, थराली और देवाल के लिए ढाई लाख और नंदप्रयाग तथा घाट (विकासनगर) के लिए डेढ़ लाख की धनराशि की स्वीकृति दी गई है। मुन्नी देवी शाह ने कहा कि चमोली जिला पुलिस को कार्यदायी संस्था बनाया गया है। पूर्व जिला पंचायत सदस्य गणेश शाह, घाट के मंडल अध्यक्ष खिलाफ सिंह, नंदप्रयाग के कुंवर कंडेरी, नारायणबगड़ के महेशानंद चंदोला, थराली के रणजीत सिंह, देवाल के शीतल सिंह गड़िया, पुरूषोत्तम शास्त्री, नंदप्रयाग की नगर पंचायत अध्यक्ष हिमानी वैष्णव ने इस कार्य की सराहना करते हुए कहा कि सीसीटीवी कैमरे सुरक्षा की दृष्टि से जरूरी है। इससे पुलिस को अपराधियों को पकड़ने भी मदद मिलेगी। साथ ही अपराधों पर नियंत्रण भी लग सकेगा।

गोपेश्वर (चमोली)। चमोली जिले के विकासखंड दशोली के नैथोली गांव में मवेशियों को निवाला बनाने वाले भालू ने ग्रामीणों में दहशत का माहोल बना हुआ है। भालू ने रविवार की सांय को बीनेक तोक में चार पालतू मवेशियों को निवाला बना कर एक बैल को मार डाला।

जानकारी देते हुए नैथोली के ग्राम प्रधान रोशन चंद्र खनेडा व क्षेत्र पंचायत सदस्या राहुल रावत ने बताया कि भालू ने नैथोली गांव के समीप बीनेक तोक में जंगल में चुगने गई गायों पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया है। जिसमें से एक बैल की मौत हो गई है। बताया कि ग्रामीण बलवंत सिंह रावत एक बैल, बेसाखी देवी की गाय का पूरी तरह घायल और मनीष लाल के दो बछडे घायल हुए है। जिसकी सूचना ग्राम प्रधान व बीडीसी सदस्या ने वन विभाग व पशुपालन विभाग को दे दी गई है।
: पोखरी (चमोली)। चमोली जिले के पोखरी विकास खंड के बंगथल गांव निवासी पर्यावरण व वन्य जीव प्रेमी मदन गुरू ने एक अनुठी पहल शुरू की है। उन्होंने रद्दी कागज ओर प्लास्टिक से विलुप्त होते वन्य जीवों की प्रतिमाऐं तैयारी की है ताकि आने वाली पीढ़ी को इनके बारे में जानकारी हासिल हो सके और वे पर्यावरण के प्रति जागरूक हो सके।

पर्यावरण और वन्य जीव प्रेमी मदन गुरू कहते है कि लंबे समय से वे प्रकृति की गोद में रह कर वन्य जीवों पर खोज कर रहे है। इस दौरान उन्होंने पाया कि लगातार घटते वन और पर्यावरण के असंतुलन के कारण कई ऐसे जीव हैं जो विलुप्ती की कगार पर है। यदि इसी तरह चलता रहा तो एक दिन कई ऐसे जीव जंतु है जो सिर्फ किताबों के पन्नों तक सिमट जायेंगे। इस लिए उन्होंने लोगों को जागरूक करने के लिए रद्दी कागज और प्लास्टिक के टूकडों से इनकी मूर्तियां बनानी शुरू की है। वे बताते है कि वे मेलों व कार्यक्रमों में इन प्रतिमाओं की प्रदर्शनी भी लगा कर लोगों को जागरूक करने का प्रयास कर रहे है।

उन्होंने कहा कि कागज और प्लास्टिक की रद्दी से ये प्रतिमाये तैयार की है जिससे जहां पर्यावरण स्वच्छ और साफ रहेगा वही इन तस्वीरों के माध्यम से लोगो को वन्य जीवो की रक्षा के लिये जागृत किया जायेगा। मदन गुरु ने रद्दी कागज और प्लास्टिक के टुकडो से बारहसिंग्गा, राज्य पक्षी मोनाल, सियार, भालू, गरुड और तितली की प्रतिमाएं तैयार की है। ब्लाॅक प्रमुख पोखरी प्रीति भण्डारी, ज्येष्ठ प्रमुख पूरण नेगी, कनिष्ठ प्रमुख जयकृत बिष्ट, क्षेत्र पंचायत सदस्य माहेश्वरी रावत, भरत नेगी, सन्तोष नेगी, ने वन विभाग और शासन-प्रशासन से मांग की कि पर्यावरण एवं वन्य जीव प्रेमी मदन गुरु को पर्यावरण संरक्षण के लिये चलायी गयी इस अनूठी पहल और कलाकारी के लिये सम्मानित किया जाय।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *