त्रिवेन्द्र सरकार के तीन साल, राजधानी गैरसैंण बड़ी उपलब्धिः सीएम

देहरादून। सूबे की भाजपा सरकार ने आज अपने कार्यकाल के तीन साल पूरे कर लिये है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह ने आज एक पत्रकार वार्ता के दौरान अपनी सरकार की उपलब्धियों पर बोलते हुए कहा कि इन तीन सालों में सरकार ने जनहित कार्यो को सर्वोच्च प्राथमिकता पर रखा है तथा जो वायदे अपने दृष्टिपत्र में किये थे उन्हे पूरा किया है।
अपने अब तक तमाम कार्यो का ब्यौरा देते हुए मुख्यमंत्री ने गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने को सबसे बड़ी उपलब्धि बताया, वहीं कहा कि भ्रष्टाचार पर वार उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता थी। सत्ता में आते ही उन्होने एनएच 74 घोटाले की जांच बैठाई जिसमें कई अधिकारी और कर्मचारी जेल पहुंचाये गये तथा जिन लोगों ने घोटाला किया था उन्होने घोटाले का पैसा भी लौटाया। उन्होने भ्रष्टाचार पर जीरो टालरेंस की बात करते हुए कहा कि उन्होने सचिवालय के चतुर्थ तल को भ्रष्टाचार मुक्त किया है और दलालों का सफाया कर दिया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य से पलायन रोकने के लिए पलायन आयोग का गठन तथा देवस्थानम बोर्ड का गठन सरकार की बड़ी उपलब्धि रही है। वहीं अटल आयुष्मान योजना का लाभ सभी प्रदेश वासियों को दिलाने का काम उनकी सरकार द्वारा किया गया है। अपनी उपलब्धियों में उन्होने जल संरक्षण के 1200 करोड़ की योजना तथा राज्य सड़क व एअर कनेक्टिविटी के सुधार और विस्तारीकरण का भी जिक्र किया। उन्होने कहा कि आलवेदर रोड, ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेल लाइन और उड़ान जैसी योजनाएं आने वाले समय में राज्य के विकास मेें अहम भूमिका निभायेगी। राज्य के दो राष्ट्रीय हवाई अड्डों को अंर्तराष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाने पर काम चल रहा है। अपनी उपलब्धियों पर उन्होने स्मार्ट सिटी के लिए होने वाले काम तथा ई गर्वेेन्स का भी जिक्र किया तथा पर्यटन में रोजगार की संभावनाओ का भी हवाला दिया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने विकास के तीन साल, बातें कम काम ज्यादा, बुकलेट का विमोचन किया। जिसमेें सरकार की तमाम उपलब्धियों का जिक्र किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जनहित कार्य ही उनकी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता में रहे है तथा वह जनता से किये गये सभी वायदों को पूरा करेंगे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *