सख्तीः उप आबकारी आयुक्त से हो सकती है करोड़ों की वसूली

देहरादून। आबकारी मुख्यालय में तैनात उप आबकारी आयुक्त प्रभा शंकर मिश्रा से विभाग को हुए करोड़ों की राजस्व हानि की वसूली हो सकती है। उन पर पिछले साल जिला आबकारी अधिकारी पौड़ी रहते सरकार को करोड़ो की राजस्व हानि करवाने का आरोप है।
जिसका डीएम पौड़ी ने नोटिस देते हुए उनसे स्पष्टीकरण मांगा है। डीएम ने नोटिस में साफ लिखा है कि अगर वे सरकार को हुए तीन करोड़ से ज्यादा के राजस्व घाटे की सही वजह नहीं बता पाए तो इसकी वसूली उनकी सैलरी से की जा सकती है।
उनके खिलाफ अनुशासनात्मक और दंडात्मक कार्रवाई की भी चेतावनी दी है। 2018-19 में डीईओ पौड़ी रहते हुए उन पर तीन दुकानों को बिना राजस्व के कुछ महीने चलवाने और एक अनुज्ञापि को नियम विरुद्ध ठेका आवंटन का आरोप है। जिससे सरकार को तीन करोड़ से ज्यादा का नुकसान हुआ।
यहां तक कि कुछ औपचारिकताए कम होने के चलते इन ठेकेदारों से पूरे राजस्व की वसूली तक नहीं हो पा रही। ऐसे में सरकार को तीन करोड़ से ज्यादा के नुकसान की भरपाई मुश्किल हो गयी है। उनसे डीएम ने इन आरोपों का जवाब मांगा है। मिश्रा वर्तमान में डीईओ हरिद्वार का भी प्रभार भी देख रहे हैं।
उप आयुक्त पीएस मिश्रा पर राजस्व घाटे के आरोप हैं। जिनका जवाब मांगा गया है। अभी जवाब नहीं मिला। जवाब ना मिलने या स्पष्ट ना मिलने पर उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए शासन को लिखा जाएगा।
धीरज गबर्याल, डीएम पौड़ी
मुझे नोटिस मिला है, उसमें कई दुकानों के अलग अलग मामले हैं। सभी की पत्रावलियां देने का डीएम से लिखित अनुरोध किया है। पत्रावलियां आने पर अध्ययन के बाद जवाब दे दूंगा।
प्रभा शंकर मिश्रा, उप आयुक्त आबकारी मुख्यालय व प्रभारी डीईओ हरिद्वार

उप आयुक्त प्रभा शंकर को डीएम पौड़ी ने राजस्व जमा ना होने के कारण का नोटिस दिया है, उसकी प्रति मुझे भी मिली है। आयुक्त के माध्यम से जवाब देना है। अगर जवाब समय पर या सही नहीं मिला तो उप आयुक्त मिश्रा के ख़िलाफ कार्रवाई होगी।
आनंद वर्धन, प्रमुख सचिव आबकारी

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *