शनिवार को सड़कों पर पसरा सन्नाटा, घरों में कैद रहे लोग

देहरादून। कोरोना संक्रमण के चलते देहरादून में शनिवार और रविवार की साप्ताहिक बंदी सरकार ने बरकरार रखी है। बंदी का ऐसा असर रहा कि शनिवार को सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। लोग घरों में ही कैद रहे और सड़क पर बस पहरा देती पुलिस नजर आई। जिलाधिकारी डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि आज से दो दिन नगर निगम देहरादून क्षेत्र, कंटेनमेंट जोन, गढ़ी कैंट और क्लेमेंटटाउन छावनी परिषद क्षेत्र बंद किया गया है। शहर में सैनिटाइजेशन का काम कराया जा रहा है।
बता दें कि बंदी के दौरान केवल पेट्रोल पंप, मेडिकल स्टोर, डेयरी, गैस एजेंसी, टिफिन सर्विस, लाइसेंसधारक मीट-मछली की दुकानें, औद्योगिक इकाइयां और अस्पतालों की ओपीडी खुली हैं। हालांकि बेकरी और होम डिलीवरी सेवा भी जारी है।
जिलाधिकारी ने बताया कि सभी दुकानें, प्रतिष्ठान, शराब के ठेके, बैंक, सभी सरकारी, अर्द्धसरकारी और निजी कार्यालय बंद रखे गए हैं। आवश्यक सेवाओं से जुड़े वाहन और एंबुलेंस को छोड़कर अन्य वाहन बंद रहेंगे। कई जगह एटीएम भी बंद रहे।
डीएम का कहना है कि इस व्यवस्था को लागू किए करीब एक महीना होने वाले है। सैनिटाइजेशन के बाद इसका काफी सकारात्मक परिणाम देखने को मिल रहे हैं। अभी अगले आदेशों तक इस व्यवस्था को लागू रखा जाएगा। इस दौरान नगर निगम, पालिका और नगर पंचायत की ओर से वार्डों को लगातार सैनिटाइज किया जाएगा। वहीं, बेवजह सड़क पर निकलने वाले लोगों को भी पुलिस ने रास्ते में रोककर लौटा दिया। डीएम ने लोगों से घर में रहने की अपील की। कहा कि बच्चे और बुजुर्ग किसी भी सूरत में घर से बाहर न निकलें। उन्होंने आदेशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्रवाई करने की चेतावनी दी।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *