विदेश से लौटे लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई तो भी कोरोना होने का खतरा

देहरादून। विदेश से लौटे लोगों की कोरोना जांच रिपोर्ट यदि एक बार नेगेटिव आ गई तो भी उनमें कोरोना वायरस होने का खतरा है। इस डर से सरकार ने विदेश से आए सभी लोगों को रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद भी 14 दिन तक आइसोलेशन में ही रहने को कहा है। स्वास्थ्य महानिदेशालय की ओर से इस संदर्भ में एडवायजरी जारी की गई है। स्वास्थ्य महानिदेशालय ने विदेश से लौटे लोगों को ईमेल और फोन के जरिए कहा है कि यदि उनकी कोरोना जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है तो भी उन्हें समाज में घुलने मिलने की इजाजत नहीं है। ऐसे लोग 14 दिन तक और आइसोलेशन में ही रहेंगे। दुनियां में कोरोना संक्रमण शुरू होने के बाद से राज्य में अभी तक तीन हजार के करीब नागरिक लौटे हैं। इसमें 800 के करीब नागरिक 28 दिन की अवधि पूरी कर चुके है। जबकि 1900 के करीब लोगों को अभी 28 दिन का समय पूरा नहीं हुआ है। विदेश से लौटे कई लोगों में सामान्य खांसी, जुकाम, बुखार जैसे लक्षण दिखने पर डॉक्टरों ने विदेश की हिस्ट्री के आधार पर उनके सैंपल की जांच कराई, जिसमें वे नेगेटिव पाए गए हैं। राज्य में अभी तक 402 लोगों की कोरोना जांच हुई है जिसमें से अधिकांश विदेशों से ही आए लोग हैं। अभी तक कराई गई जांचों में 368 के रिजल्ट आ गए हैं और पॉजीटिव मरीजों का प्रतिशत महज 1.63 है। जबकि 98 प्रतिशत से अधिक सैंपल नेगेटिव आए हैं। जिन लोगों के सैंपल नेगेटिव आ चुके हैं वह यही मानकर चल रहे थे कि अब उनमें कोरोना का कोई खतरा नहीं है। लेकिन सरकार की इस नई गाइडलाइन ने उनके और परिजनों के मन में एक बार फिर डर बैठ गया है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *