दिल्ली में तीन से चार दिन पहले पहुंचेगा मानसून, जून 22-23 तक आने की उम्मीद

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के कहर के बीच दिल्ली में मौसम खुशखबरी लेकर आई है। इस बार राजधानी में मानसून नीयत समय से तीन-चार दिन पहले ही 22-23 जून को पहुंच जाएगा। आम तौर पर दिल्ली में मानसून का आगमन 27 जून को होता है।
भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि पश्चिम बंगाल और ओडिशा में आए चक्रवाती तूफान से हवा का रुख 19 -20 जून तक उत्तर-पश्चमी उत्तर प्रदेश की ओर मुड़ जाएगा। उन्होंने कहा, ” यह स्थिति मानसून को 22 -24 जून के बीच पश्चिम उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान और पूर्वी हरियाणा के कुछ हिस्सों में पहुंचाने में मदद करेगा।” इसका मतलब यह है कि हवा प्रणाली तीन से चार दिन पहले ही यानि 22-23 जून को ही राष्ट्रीय राजधानी में पहुंच जाएगी। आईएमडी ने इस साल उत्तर-पश्चिमी भारत के लिए सामान्य बारिश (103 प्रतिशत) की भविष्यवाणी की है। श्रीवास्तव ने कहा कि दिल्ली में 18 और 19 जून को शुष्क मौसम रहेगा। बुधवार को शहर के अधिकांश स्थानों पर पारा 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज किया गया। शहर के लिए आंकड़े देनेवाली सफदरजंग वेधशाला ने अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया, जो सामान्य से दो डिग्री अधिक है।पूसा और पालम के मौसम केंद्रों में अधिकतम तापमान क्रमशः 42.8 डिग्री सेल्सियस और 42.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। आर्द्रता का स्तर 43 से 77 प्रतिशत के बीच है। विभाग ने गुरुवार को आंशिक रूप से आकाश में बादल छाए रहने और 30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाओं के चलने का अनुमान लगाया है। गुरुवार को अधिकतम और न्यूनतम तापमान 41 और 29 डिग्री सेल्सियस रहने की उम्मीद है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *