हेमकुंड साहिब के खुले कपाट ।

हेमकुंड साहिब के खुले कपाट
चमोली – ब्यूरो श्री हेमकुण्ड साहिब-लोकपाल यात्रा के मुख्य पडाव गोविंदघाट से इस वर्ष की पहली यात्रा का विधिवत शुभारंभ हो गया। गुरुवार को गोविंदघाट से हुकमनामा लेकर पंच प्यारों की अगुवाई में इस वर्ष का पहला जत्था हेमकुंड साहिब के लिए रवाना हुआ। पहले जत्थे में सीमित संख्या में श्रद्धालु हेमकुंड साहिब के लिए रवाना हुए। शुक्रवार को अरदास के बाद सुबह 10 बजे हेमकुंड सहिब गुरुद्वारे और लक्ष्मण मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शनों के लिए खोले जाएंगे। गुरुवार को गोविंदघाट गुरुद्वारे में सुबह से ही शब्द कीर्तन का आयोजन किया गया। जिसके बाद गुरुग्रंथ साहिब के पाठ और अरदास के बाद पंच प्यारों की अगुवाई में इस वर्ष के पहले जत्थे को हेमकुंड साहिब के लिये रवाना किया गया। गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी के पदाधिकारियों की ओर से यात्रियों को सरोपा भेंट कर हेमकुंड साहिब के लिये रवाना किया। गोविंद घाट से रवाना हुआ यात्रियों का जत्था आज रात्रि घांघरिया में विश्राम करेगा। अगले दिन शुक्रवार को सुबह 10 बजे हेमकुंड साहिब गुरुद्वारे के कपाट खोले जाएंगे। कोरोना संक्रमण के चलते इस वर्ष यहां सीमित संख्या में स्थानीय लोगों के साथ गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी के पदाधिकारी व सेवादार मौजूद रहे। कोविड 19 के चलते इस बार हेमकुंड साहिब और लक्ष्मण मंदिर की यात्रा तीन माह देरी से शुरु हो रही है।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को हेमकुंड साहिब गुरुद्वारे और लक्ष्मण मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शनों के लिए खोले जाने पर सभी श्रद्धालुओं को बधाई और शुभकामनायें दी हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते इस वर्ष यहां सीमित संख्या में यात्रियों को अनुमति दी जा रही है। सभी श्रद्धालुओं से विनम्र अनुरोध है कि कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करें। 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *