मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने धर्मूचक डोईवाला में ग्राम स्वराज कार्यक्रम के तहत चैपाल कार्यक्रम में प्रतिभाग किया

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने धर्मूचक, डोईवाला में ग्राम स्वराज कार्यक्रम के तहत चैपाल कार्यक्रम में प्रतिभाग किया।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने क्षेत्रवासियों की समस्याओं को सुना एवं उनका समाधान किया।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा पूरे देश के गांव में सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देने के लिए यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इस प्रकार के कार्यक्रम से अधिकारियों को भी जानकारी मिलती है कि आमजन की समस्या क्या है। समस्या की जानकारी मिलने के बाद ही उसका समाधान किया जा सकता है और समाधान बातचीत करके ही निकाला जा सकता है। मैं लोगों का हवन करना चाहता हूं कि वह अपने अधिकारियों से मिलकर उन्हें अपनी समस्याएं समझाएं। सड़कें जाम करने, धरना प्रदर्शन करने से कोई लाभ नहीं होगा, अंत में बैठकर ही समस्या का समाधान निकालना होगा। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी अधिकारियों से मिलकर प्राप्त की जा सकती है। सरकार की कोशिश है कि गरीब लोगों का जीवन स्तर सुधारा जाए। उसके लिए अतिरिक्त मेहनत करनी होंगी। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सपना देखा है कि आजादी के 75वें वर्ष 2022 तक देश के प्रत्येक नागरिक के पास अपना घर होना चाहिए, उसके पास गैस कनेक्शन होना चाहिए, शौचालय होना चाहिए बिजली का कनेक्शन होना चाहिए। आयुष्मान भारत के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को स्वास्थ्य बीमा के लाभ पहुंचाना लक्ष्य है। इसके तहत गरीब लोगों को 5 लाख रूपए तक का इलाज कराया जा सकता है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *