सीएम त्रिवेंद्र रावत सेल्फ क्वारंटाइन,सतपाल को कोरोना होने के बाद मंत्रीमंडल में हड़कंप

देहरादून। कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज की पत्नी अमृता रावत के कोरोना पॉजिटवि पाए जाने के तत्काल बाद ही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने एहतियात के तौर पर सेल्फ क्वारंटाइन पर चले गए। रविवार को वे अपने आवास से नीचे दफ्तर तक के लिए नहीं उतरे। वहीं, मुख्य गेट से किसी को भी प्रवेश की इजाजत नहीं दी गई। शुक्रवार को सचिवालय में 11 बजे से पौने तीन बजे तक चली मैराथन कैबिनेट बैठक में महाराज भी मौजूद रहे थे। शनिवार शाम को उनकी पत्नी के कोरोना पॉजिटव आने के बाद से ही सीएम त्रिवेंद्र रावत ने खास एहतियात बरतनी शुरू कर दी। हालांकि, जब से कोरोना महामारी की शुरूआत हुई, सीएम आवास में सावधानी बरती जा रही थी। इस दौरान जो भी उनसे मिलने पहुंचे, उसमें सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा जा रहा था।
कोरोना महामारी पर प्रभावी नियंत्रण को लेकर वे नियमित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करते रहे। इन बैठकों में भी जो चंद अफसर मौजूद रहते थे, वे भी आपस में दूरी बना कर बैठते रहे। लॉकडाउन तीन के बाद जब भी वे सचिवालय पहुंचे तो वहां भी ये सावधानियां बरती गईं। रविवार को सीएम सरकारी आवास में सेल्फ क्वारंटाइन पर रहे। अपराह्न लगभग साढ़े तीन बजे अफसरों ने उन्हें कैबिनेट मंत्री महाराज की रिपोर्ट भी कोरोना पाजिटिव होने की जानकारी दी। लॉकडाउन के दौरान आमतौर पर रविवार और अवकाश के दिनों भी सीएम अपने दफ्तर पहुंच महामारी पर नियंत्रण और प्रवासियों की वापसी को लेकर अफसरों के साथ मंथन में लगे रहते थे, लेकिन आज वे सेल्फ क्वारंटाइन पर रहे। आवास के निजी स्टाफ से तक उन्होंने मुलाकात नहीं की। सीएम आवास के गेट से किसी भी प्रवेश की इजाजत नहीं दी गई। वहीं, अफसरों के साथ ही मुख्यमंत्री के ओएसडी और अन्य स्टाफ ने आज सीएम आवास का रूख नहीं किया।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *