बजट सत्रः राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान विपक्ष का हंगामा

देहरादून। गैरसैंण में उत्तराखंड विधानसभा का बजट सत्र, 2020 राज्यपाल बेबी रानी मौर्य के अभिभाषण के साथ शुरु हो गया। अभिभाषण शुरु होते ही विपक्ष ने हंगामा शुरु कर दिया। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि अभिभाषण का कोई औचित्य नहीं है। पूरा प्रदेश समस्याओं से जूझ रहा है और सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है। हंगामा कर रहे विपक्ष के विधायकों ने कहा कि गन्ना किसानों की हालत खराब हो गई है। भोजन माता से लेकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तक आन्दोलनरत हैं। जनता की समस्याओं को उठाना हमारा धर्म है. इन पर चर्चा शुरु की जानी चाहिए।
हंगामा कर रहे विपक्षी विधायकों ने कहा कि राज्यपाल का अभिभाषण केवल सरकारी नीतियों के बखान तक सीमित है। विपक्ष के हंगामे के बीच अभिभाषण पढ़ थी। राज्यपाल. अभिभाषण में सरकार की उपलब्धियों को सामने रखा गया। राज्यपाल ने कहा कि आठ से अधिक क्षेत्रों के लिए मौजूदा नीतियों में संशोधन कर 10 नई नीतियां बनाई गई हैं। उद्योग क्षेत्र में 2,641 इकाइयों की स्थापना की गई है. 3,524 करोड़ का पूंजी निवेश हुआ है। जिससे 57,314 लोगों को रोजगार मिला है। पर्वतीय क्षेत्रों में ग्रोथ सेंटर के संचालन की प्रक्रिया गतिमान है। ग्रोथ सेंटर की स्थापना के लिए 1133.25 लाख की धनराशि जारी की गई है। राज्य के 15 विकास खंडों में देश के प्रतिष्ठित संस्थानों से प्रशिक्षित डिजाइनरों द्वारा शिल्पी ओं को नए डिजाइन एवं उत्पाद विकास का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *