बी0एस0नेगी महिला पॉलीटैकिनक (ओएनजीसी महिला पॉलीटैक्निक) ने स्थापना दिवस बृक्ष लगाकर मनाया

देहरादून । बी0एस0नेगी महिला पॉलीटैकिनक (ओएनजीसी महिला पॉलीटैक्निक) ने अपने 33 वां स्थापना दिवस कोविड- 19 के नियमों का पालन करते हुए संस्थान में सादगीपूर्ण ढंग से आयोजित किया। संस्थान के अध्यक्ष हर्षमणि व्यास ने बताया कि 33 साल पहले 27 जून 1987 को इस महिला पॉलीटैक्निक की स्थापना की गई थी।

उस दिन भी परिसर में पौधारोपरण ओएनजीसी महिला समिति की अध्यक्ष श्रीमती शोभना वाही ने किया था।आज वह पौधा छायादार वृक्ष बन गया है। इस अवसर पर अध्यक्ष  ने पॉलीटैक्निक की शिक्षिकाओं और समस्त स्टाफ को संस्थान की गरिमा बनाए रखने और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ ही जीवन मूल्यों पर आधारित बेहतर शिक्षा देने का संकल्प दिलाया व कहा कि इस संस्थान का प्रारम्भ ओएनजीसी द्वारा किया गया ।उन्होंने कहा कि कोई भी ऐसा कार्य न करें जिससे ओएनजीसी की छवि धूमिल हो। इस मौके पर अध्यापिकाओं व कर्मचारियों द्वारा पौधारोपण भी किया गया।

इस अवधि में संस्थान ने तरक्की के कई सोपान बनाए है। उन्होनें बताया कि 2003 में ओएनजीसी महिला पॉलीटेक्निक का नाम बदल कर ओएनजीसी के प्रथम चेयरमेन बी०एस०नेगी के नाम पर बी०एस०नेगी महिला प्राविधिक प्रशिक्षण संस्थान रखा गया। प्रिंसीपल अनुपमा उनियाल ने बताया कि यह पॉलीटैक्निक स्किल इंडिया और वूमन इम्पावरमेंट की अवधारणा को मजबूत करने का काम कर रहा है। यह प्रदेश का एकमात्र पॉलीटैक्निक है कि जहाँ फैशन डिजाइन, टैक्सटाइल डिजाइन व गॉरमेंट टैक्नोलॉजी का डिप्लोमा कोर्स कराया जाता है । यह संस्थान अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद से मान्यता प्राप्त है। और प्राविधिक शिक्षा परिषद रूडकी उत्तराखंड से सम्बद्ध है। उत्तराखंड के पाँच शीर्ष पॉलीटेक्निक में इसका दूसरा स्थान है। इंटरनेशनल इंस्टीट्यट ऑफ एजकेशन एंड मेनेजमेंट द्वारा बी0एस0नेगी महिला पॉलीटैक्निक को नेशनल “गोल्ड स्टार अवार्ड” से भी सम्मानित किया जा चुका है। संस्थान में वर्तमान में 6 डिप्लोमा कोर्स चलाये जा रहे हैं। जिसमें प्रवेश प्रक्रिया प्रारम्भ हो गयी है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *