हिमवंत कवि स्व चन्द्रकुंवर बर्त्वाल जी के जन्म दिन पर उनको शत शत नमन

देहरादून ,साधारण स्वर्ग समान देवभूमि उत्तराखण्ड के रुद्रप्रयाग जिले के मलकोटी में जन्मे हिमवंत कवि स्व श्री चन्द्रकुंवर बर्त्वाल जी ने अल्प आयु में कविताओं  की रचना कर उच्च शिखर तक की यात्रा  कवि के रूप में कर दी थी। उन्हें राष्ट्रीय कवि के कविताओं  से मिली।वह अल्प आयु में बीमारी से ग्रस्त होने के बाबजूद अपनी काव्य रचना हृदय स्पर्श करने वाली समाज में रहकर करते रहे।देश के लिए उनकी कवि के रूप में कीगई प्रत्येक रचना  समाज  के लिए प्रेरणा  दायक हैं ।287 कविताओं  की रचनाओं से उन्हें इस युग का काली दास  कहा जाता है। उनके जन्मदिन  के जन्मदिन (20अगस्त1919) पर पोर्टल परिवार की ऒर से उनको श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शत शत नमन। 

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *