देहरादून के समाचार

टपकेश्वर महादेव की शोभायात्रा का किया स्वागत, भक्तों को फल वितरित किए
देहरादून, टपकेश्वर महादेव की शोभायात्रा के अवसर पर समाजसेवी लच्छू गुप्ता द्वारा शोभायात्रा में शामिल भक्तों को बिंदाल पुल में फल वितरित किए गए। शोभायात्रा का भव्य स्वागत किया गया। इस मौके कैंट विधायक एवं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष हरबंस कपूर व राज्य सरकार के दायित्वधारी भी उपस्थित रहे। 
 टपकेश्वर महादेव की शोभायात्रा धूमधाम से निकाली गई। शोभायात्रा का जगह-जगह पर भक्तों द्वारा स्वागत किया गया। शोभायात्रा के दौरान भगवान टपकेश्वर के जयकारे गूंजते रहे। पूर्व महामंत्री संगठन एवं 20 सूत्री कार्यक्रम के उपाध्यक्ष नरेश बंसल ने भी शोभायात्रा का स्वागत किया। बारिश के बावजूद लोग बड़ी संख्या में शोभायात्रा में शामिल हुए। शोभायात्रा के दौरान कुछ समय के लिए द्रोणनगरी भक्तिमय हो उठी। फल वितरण कार्यक्रम में राजपुर के विधायक खजान दास, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की संयोजक मधु जैन, भाजपा महामंत्री कुलदीप कुमार, जीपीएल सेठ, महारोजगार समाज संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सचिन जैन, भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश के उपाध्यक्ष सचिन गुप्ता, रंजीत भंडारी, राजकुमार तिवारी, पूर्व पार्षद अंजू बिष्ट, सुनील कोहली, सरिता कोहली, रेखा निगम, सुमन सवाई, शिखा थापा, सुनीता आर्य, राहुल चैहान, पवन गौड़, सुरेश कुमार, युवा नेता अमन गुप्ता, सुमित पांडे, ललित श्रीवास्तव, दीपक कुमार, विशाल बिष्ट, अजय सिंह, शिखा थापा, दीपिका थापा आदि उपस्थित रहे। 
————————————————————
पूर्व सैनिक एसोसिएशन के अध्यक्ष पीटीआर शमशेर सिंह बिष्ट  ने कहा कि हाईकोर्ट के आदेश से  पूर्व सैनिकों के हितों की रक्षा हुई
देहरादून, उपनल के माध्यम से ओएनजीसी में कार्यरत पूर्व सैनिक जो सुरक्षा सुपरवाइजर और सुरखा गार्ड में कार्यरत थे और जो रैगुलेशन एक्ट 2005 पीएसएआरए के अन्र्तगत 65 वर्ष तक सेवा करने के अधिकारी हैं परन्तु ओएनजीसी प्रबन्धन व उपनल द्वारा आदेश 28 जून 2019 के द्वारा उनकी सेवायें 65 वर्ष से पूर्व ही समाप्त कर दी है। जिसके विरूद्व पूर्व सैनिकों द्वारा न्यायालय में याचिका योजित की गई थी जिसके अंतर्गत याचिका को सेवा कार्य करने की अनुमति दी है। पूर्व सैनिक इसका हरदय से स्वागत करते । इसी के लिये उत्तरांचल प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता में पूर्व सैनिक वेल्फेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष पीटीआर शमशेर सिंह बिष्ट ने कहा कि देश के अन्दर किसी भी प्रकार के असमान्य स्थिति जैसे बाढ़, भूकम्प, आंकवादी हमले आदि में सेना विषम स्थितियों में हर सम्भव प्रयास करके सबकी रक्षा करती है। उन्होंने कहा कि ओएनजीसी के अंदर जिन पूर्व सैनिकों को कानून के विरूद्व सेवा से हटाया गया है वो पूर्व सैनिक भी इसका एक हिस्सा रहे हैं। हाईकोर्ट के आदेश द्वारा पूर्व सैनिकों के हितो की रक्षा की गई। पूर्व सैनिक इस निर्णय का स्वागत करते हैं। पत्रकार वार्ता में शमशेर सिंह बिष्ट, आरडी शाही, यूडी जोशी, सुरेंद्र सिंह बिष्ट, रमेश रावत, प्रेम सिंह रावत, विनोद बलूनी आदि उपस्थित रहे।
—————————-
धारा 370 समाप्त करने के ऐतिहासिक निर्णय को समिति विजयोत्सव के रूप मे मनायेगी
देहरादून, जम्मू कश्मीर से धारा 370 एव 35 ए को समाप्त करने के ऐतिहासिक निर्णय को संजय सांस्कृतिक समिति एवं भारत विकास परिषद विजयोत्सव के रूप में मनायेंगे। कार्यक्रम का आयोजन स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर 14 अगस्त को 3 बजे से चैधरी फार्म हाउस जीएमएस रोड में आयोजित किया जायेगा। उज्जवल रैस्टोंरेट में आयोजित पत्रकार वार्ता में राजेन्द्र पंत ने कहा कि कार्यक्रम में देशभक्ति पर सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ ही मातृभूमि की रक्षा मे अपने प्राणोें की आहूति देने वाले शहीदों को श्रद्वांजली भी अर्पित की जायेगी। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री नेरेन्द्र मोदी ने धारा 370 एवं 35 ए हटाने का ऐतिहासिक फैसला लेकर कश्माीर घाटी से आंतकवाद एंव अलगाववाद को जड से मिटाने का काम किया है।पत्रकार वार्ता में जोगेन्द्र सिंह पुण्डीर, पवन शर्मा, अजय कान्त शर्मा, चन्द्रगुप्त विक्रम, डाॅं0 मुकेश गोयल आदि उपस्थित रहे।
———————————————————
पुलिस ने नदी किनारे रहने वाले लोगों को जागरूक किया
देहरादून। राजधानी में तेज बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ने पर पुलिस ने नदी किनारे रहने वाले लोगों को जागरूक किया। पुलिस ने लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने और नदी की ओर नहीं जाने की सलाह दी। एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने बताया कि भारी बारिश के दृष्टिगत देहरादून में नदियों का जलस्तर बढ़ने की सूचना मिली थी। इस पर सभी थाना और कोतवाली प्रभारियों को अलर्ट रहने के लिए निर्देशित किया गया था। साथ ही सभी थाना प्रभारियों को अपने-अपने थाना क्षेत्र अंतर्गत नदियों के किनारे बस्तियों में रह रहे लोगों को सुरक्षित स्थानों में जाने के संबंध में अवगत कराने के निर्देश थे। एसपी सिटी श्वेता चैबे और एसपी देहात प्रमेंद्र डोबाल के नेतृत्व में पुलिस टीमों ने बिंदाल पुल, रिस्पना नदी, मालदेवता, रायपुर, सहसपुर, विकासनगर आदि क्षेत्रों का भ्रमण कर लोगों को नदी की ओर नहीं जाने के प्रति जागरूक किया। एसपी सिटी श्वेता चैबे ने बताया कि नदियों के किनारे स्थित बस्तियों में लाउड स्पीकर के माध्यम से लोगों को सतर्क रहने तथा सुरक्षित स्थानों पर जाने के लिए बताया गया। इस दौरान थाना पुलिस ने अपने-अपने नंबर भी लोगों को उपलब्ध कराए। साथ ही सभी थानों में मौजूद आपदा राहत टीम को मय आपदा उपकरणों के तैयारी की हालत में रहने के निर्देश दिए गए।
————————————————————
पॉलीथीन पर प्रतिबंध लगाने के लिए युद्धस्तर पर काम करेगा नगर निगम
देहरादून। नगर निगम अब पॉलीथीन पर प्रतिबंध लगाने के लिए युद्धस्तर पर काम करने जा रहा है। हालांकि राज्य में पॉलीथीन का इस्तेमाल एक साल से ज्यादा समय से प्रतिबंधित है लेकिन जमीन पर ऐसा नजर नहीं आता। देहरादून समेत सभी स्थानों में धड़ल्ले से पॉलीथीन का इस्तेमाल जारी है और चिंताजनक बात तो यह है कि इसकी वजह से गायों की मौत भी हो रही है। यह पता चलने के बाद अब देहरादून नगर-निगम ने पॉलीथीन पर प्रतिबंध को पूरी तरह लागू करने के लिए एक टीम बनाई है। पिछले साल 30 जुलाई को प्रदेश में पॉलीथीन को पूरी तरह प्रतिबंधित कर दिया गया था, इसके बावजूद भी दून में भी, जहां सारे मंत्री और अधिकारी बैठते हैं, इसका इस्तेमाल धड़ल्ले से हो रहा है.देहरादून समेत सभी नगर-निकाय पॉलीथीन पर प्रतिबंध के लिए अभियान चलाते रहते हैं लेकिन ये औपचारिकता ज्यादा लगते हैं क्योंकि कूड़े में पॉलीथीन ही पॉलीथीन नजर आता है, जिसे आवारा गोवंश भी खाता है। सभी प्रकार के प्लास्टिक पशु शहर में खाते हैं प्रश्न यह है कि बन्द बोतल में आरहे पानी व अन्य पदार्थ पर प्रतिबंध सरकार को पहले लगाना चाहिए इससे छोटे दुकानदार का आर्थिक नुकसान होता है कुल मिलाकर बड़ो की मजा छोटों को सजा भुगतनी पड़ेगी

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *